Homeहरियाणापानीपतरक्तदान संपूर्ण जीवन का सबसे बड़ा दान एवं सेवा: तरुण छोकरा

रक्तदान संपूर्ण जीवन का सबसे बड़ा दान एवं सेवा: तरुण छोकरा

  • दान में विशिष्ट एवम् उत्तम दान होता है रक्त दान: ज्ञानानन्द महाराज
    अनुरेखा लांबरा पानीपत:
    देवेंद्र वैष्णव भोजनालय के तत्वाधान में आयोजित रक्तदान शिविर में वीरवार को सैकड़ों रक्तवीर एवं रक्तदान वीर लोगों ने हिस्सा लिया एवं लगभग 400 लोगों ने खून दान देकर उन लोगों की प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप में सहायता की जिन लोगों को जरूरत पड़ने पर खून की आवश्यकता होती है ।

रेडक्रॉस से मुफ्त में रक्त

रक्तदान शिविर के आयोजक पुर्व पार्षद तरुण छोकरा ने रक्त दान देने वाले दानवीर ओ को संबोधित करते हुए कहा कि प्रत्येक वर्ष समाजसेवी त स्वर्गीय देवेंद्र छोकरा के पुण्य तिथि पर यह आयोजन किया जाता है एवं सेवा के कई प्रकल्प इस दिन चलाए जाते हैं ताकि जरूरतमंदों को सेवा के विभिन्न प्रकारों का लाभ प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से मिल सके। इस अवसर पर रक्तदान शिविर आयोजन करके उन लोगों की सीधे रूप में सहायता की जाती है जिनको किसी विकट परिस्थिति में खून की आवश्यकता होती है और उनको खून नहीं मिल पाता या फिर ऐसी कोई भी कर परिस्थिति आती है कि उनको उसी समय रक्त की आवश्यकता होती है वह किसी भी कीमत पर रक्त को लेकर अपने मरीज की जान बचा सकते हैं। लेकिन इन्हीं परिस्थितियों बस उनको रक्त नहीं मिल पाता तो वह ऊंची कीमत देकर भी रक्त को लेने के लिए तैयार रहते हैं। यह जो रक्त शिविर लगाया गया है यह उन जरूरतमंदों के लिए मुफ्त में रक्त उपलब्ध कराने के लिए होता है जो निर्धन है असहाय हैं गरीब है उनके लिए रेडक्रॉस से मुफ्त में रक्त मिल सके।

शास्त्रों में भी रक्तदान का उल्लेख

इसके लिए हम सब लोग मिलकर रक्तदान शिविर लगाते हैं। इस अवसर पर रेड क्रॉस सोसाइटी की ओर से डॉक्टरों की पूरी टीम ने इस आयोजन में सहायता प्रदान करें।इस अवसर पर गीता मनीषी महामंडलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज में पधारे। स्वामी ज्ञानानंद महाराज ने कहां कि रक्त से बड़ा कोई भी दान नहीं होता रक्त ही विरक्त को जोड़ सकता है और रक्तदान सबसे विरक्त होता है हम सभी को रक्तदान करना चाहिए क्योंकि रक्तदान एक श्रेष्ठ दान और विशिष्ट दान होता है रक्तदान से बड़ा कोई भी दान नहीं माना गया है शास्त्रों में भी रक्तदान का उल्लेख आया है समय-समय पर आवश्यकता अनुसार हम सबको रक्तदान देकर उन जरूरतमंदों की सेवा में देना चाहिए जो निर्धन है असहाय हैं और रक्त को खरीद नहीं सकते और हम उस दिन ही श्रेष्ठ हो जाएंगे जिस दिन हमारा रक्त किसी जरूरतमंद के काम आ सके इस अवसर पर रक्तदान शिविर के आयोजक पुर्व पार्षद तरुण छोकरा ने गीता मनीषी महामंडलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद महाराज का स्वागत किया एवं पटका स्मृति चिन्ह भेंट करके आशीर्वाद प्राप्त किया।

इस अवसर पर पानीपत नगर के विधायक प्रमोद विज एवं राज्यसभा सांसद किशन पवार ने आयोजक पुर्व पार्षद तरुण छोकरा को रक्तदान शिविर आयोजन करने पर बधाई दी। एवं समाज के लिए इसी प्रकार से कार्य करते रहने के लिए प्रोत्साहित किया विधायक एवं सांसद ने रक्तदान वीरों की प्रशंसा करें एवं कहा कि समय-समय पर युवा वर्ग को विशेषकर रक्त दान देना चाहिए आजकल भागदौड़ भरे जीवन में रक्तदान करके दूसरों की सहायता करनी चाहिए ।तरुण छोकरा ने प्रमोद विज, सांसद किशन लाल पवार एवं सभी पधारे हुए अतिथियों का स्वागत सत्कार किया साथ ही रक्तदान वीरों का आभार प्रकट किया जिन्होंने सैकड़ों की तादाद में आकर रक्तदान दिया।

इस अवसर पर ये सभी रहे मौजूद

इस अवसर पर तरुण छोकरा, विधायक प्रमोद विज, राज्यसभा सांसद कृष्ण लाल पंवार, रमेश नंगरू, पार्षद लोकेश नागरू, पूर्व विधायक पति सुरेंद्र रेवड़ी, समाजसेवी वेद पराशर, दीपक सलूजा, एडवोकेट कमल राणा, गोपाल कृष्ण शेट्टी, सौरव छोकरा, आलोक, अजय आहूजा, प्रेम आहूजा, पंकज सेठी, पारस छाबड़ा, सुनील ग्रोवर, रवि डुमरा आदि मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें : पुलिस अधीक्षक ने दिया आमजन के लिए संदेश

ये भी पढ़ें : यूडी लैंड पर एफ आई आर दर्ज करवाने की आड़ में डीटीपी विभाग अपने भ्रष्ट अधिकारियों और अंसल मालिकों को बचाने मैं लगा –स्वामी

ये भी पढ़ें : मुख्यमंत्री राहत कोष से अब ऑनलाइन मिल सकेगी मदद : डीसी राहुल हुड्डा

ये भी पढ़ें : जिले में दिखा रोडवेज का चक्का जाम का असर, नहीं मिली बसें

ये भी पढ़ें : श्रीकृष्णा स्कूल के 65 विद्यार्थियों ने की नीट परीक्षा उत्तीर्ण

 Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular