Homeहरियाणाकरनालअग्निपथ योजना से युवाओं को आर्मी के अलावा हरियाणा पुलिस की भर्ती...

अग्निपथ योजना से युवाओं को आर्मी के अलावा हरियाणा पुलिस की भर्ती में मिलेगी प्राथमिकता : मुख्यमंत्री मनोहर लाल

इशिका ठाकुर,Karnal News: करनाल में मुख्यमंत्री मनोहर लाल कर्ण लेक पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 46 क्षेत्रों मे रविवार को निकाय चुनाव है। सभी जगह भाजपा जजपा गठबंधन के प्रत्याशी अच्छी तैयारी के बूते जीत दर्ज करेंगे। अग्निपथ योजना को लेकर आंदोलनरत युवाओं से अपील है कि चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से होने दें और अपनी बात धैर्यपूर्वक रखें। उनकी बात का प्रभाव सब जगह हो रहा है और केंद्रीय नेताओं ने कई रास्ते निकाले हैं। प्रदेश सरकार भी पुलिस सेवा सहित अन्य नौकरी के अन्य विकल्प देने की दिशा में निरंतर प्रयासरत है। अग्निपथ युवाओं के लिए सुनहरा अवसर है। यहां उन्हें सैन्य सेवा का गहन प्रशिक्षण मिलेगा और इसके बाद अच्छे नागरिक बनकर के बाद सेवा के कई बेहतर विकल्प मिलेंगे।

26 हजार ग्रुप सी की नौकरियां

शनिवार की शाम करनाल पहुंचे मुख्यमंत्री ने पत्रकार वार्ता में कहा कि हरियाणा में साढ़े छह हजार पुलिसकर्मियों का परिणाम भी हाल में ही आया है। युवाओं को नौकरी देना हमारी प्राथमिकता पहले से ही है। सीईटी का विज्ञापन आ गया है। लगभग 26 हजार ग्रुप सी की नौकरियां अगले कुछ माह में मिलेंगी। नौजवानों के पास स्वरोजगार और नौकरी से लेकर सेना में सेवा तक के पर्याप्त अवसर हैं। अग्निपथ में भी उन्हें सैन्य सेवा का गहन प्रशिक्षण मिलेगा। लिहाजा, इस योजना की मूल भावना समझना बहुत अच्छा है। बिना समझे भटककर आगे नहीं बढ़ना चाहिए। सेना में तो अच्छे नागरिक तैयार करने का प्रावधान है। इसलिए ध्यान रखें कि सेना का बेड़ा कम नहीं होना है। इस योजना में भी 25 प्रतिशत युवा सेना में जाएंगे। चार वर्ष प्रशिक्षण सहित उन्हें अच्छा वेतन मिलेगा। फिर उनके पास पर्याप्त धन बल होगा, जिससे वे आत्मनिर्भर बनकर अपना मनपसंद काम भी कर सकते हैं।

पुलिस व अन्य नागरिक सेवाओं में भी प्राथमिकता

सीएम ने कहा कि वह चाहते हैं कि पुलिस व अन्य नागरिक सेवाओं में भी उन्हीं युवाओं को लिया जाए, जो अग्निपथ योजना में प्रशिक्षण लेकर निकलेंगे। क्योंकि वे जो सघन प्रशिक्षण प्राप्त करके आएंगे, यह हर दृष्टि से लाभदायक है। अच्छे नागरिक निकलेंगे तो उनमें शारीरिक बल, आत्म बल व अनुशासन होगा। सरकार को भी इसका लाभ मिलेगा। सीएम ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी से पूछताछ में ईडी के दुरुपयोग के विपक्ष के आरोप पर तंजिया लहजे में कहा कि जब ईडी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बुलाती है तो दुरुपयोग नहीं होता और आज राहुल गांधी को बुला रहे हैं तो यह दुरुपयोग हो गया ? वस्तुत: यह विपक्ष की ओछी सोच का प्रमाण है। ईडी ने उन्हें बुलाया है तो इसका कोई आधार अवश्य होगा। यदि उनका कोई दोष नहीं होगा तो वह बरी हो जाएंगे। पूछताछ करना स्वतंत्र एजेंसी का अधिकार है। कुलदीप बिश्नोई के भाजपा में शामिल होने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसा हुआ तो उनका स्वागत करेंगे। उन्हें सोच-समझकर ही आना है। वह पुराने, अनुभवी और समझदार नेता है। करनाल में डीटीपी की नियुक्ति नहीं होने और अन्य समस्याओं के संदर्भ में उन्होंने कहा कि नई भर्तियां हो रही हैं। जो भी भ्रष्टाचारी मिलेगा, किसी को नहीं छोड़ा जाएगा। कोई भी सूत्र देगा तो सख्त कार्रवाई के लिए सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध हैं।

इस अवसर पर ये सभी रहे उपस्थित

इस अवसर पर घरौंडा के विधायक हरविन्द्र कल्याण, जिलाध्यक्ष योगेन्द्र राणा, मेयर रेनू बाला गुप्ता, मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि संजय बठला, मीडिया कोर्डिनेटर जगमोहन आनंद उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें : अध्यक्ष पद के लिए 6 उम्मीदवार तथा सदस्य पद के लिए 23 उम्मीदवार चुनावी मैदान में

ये भी पढ़ें :  अग्निपथ के विरोध में 20 जून को प्रदेशभर में टोल फ्री करेंगे चढूनी

ये भी पढ़ें :  कुरुक्षेत्र शहरी निकाय चुनावों में मतदान को लेकर युवाओं में जोश तो बुजुर्ग भी नहीं रहे पीछे

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular