Homeहरियाणाकरनालकरनाल के जिला सचिवालय मुख्य गेट पर बड़ी तादाद में अपने बीवी...

करनाल के जिला सचिवालय मुख्य गेट पर बड़ी तादाद में अपने बीवी बच्चों सहित पहुंचे प्रवासी भट्ठा मजदूर

इशिका ठाकुर, करनाल:

बढ़ रही महंगाई ने सभी आमजन का बजट बिगाड़ कर रख दिया है बात चाहे पेट्रोल की कीमतों की हो या फिर गैस सिलेंडर तथा करियाना सब्जी आदि की हो इन सभी के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं।

यह भी पढ़ें : 2024 में अयोध्या में सभी करें रामलला के दर्शन: आलोक कुमार

भट्ठा मजदूरों ने जिला सचिवालय पहुंच कर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की

District Secretariat of Karnal
District Secretariat of Karnal

लगातार बढ़ रही महंगाई से परेशान करनाल जिले के भट्ठा मजदूर बड़ी संख्या में जिला सचिवालय पहुंचे और सरकार विरोधी नारे लगाए। इन मजदूरों में अधिकतर संख्या प्रवासी लोगों की है। भट्ठा मजदूरों के साथ उनके परिवार के लोग और छोटे-छोटे बच्चे भी बड़ी संख्या में लघु सचिवालय पहुंचे। भट्ठा मजदूरों का कहना है कि घर की हर जरूरत के सामान की कीमत लगातार बढ़ती जा रही है ऐसे में उनका गुजर-बसर करना मुश्किल हो रहा है। भट्ठा मजदूर दिन रात मेहनत कर ईट बनाने का काम करते हैं। जिसमें इनके परिवार के सभी लोग एक साथ मेहनत करते हैं। लेकिन इतनी महंगाई के बाद इन्हें केवल 500 रुपए दिहाड़ी मिलती है।

मेहनताना पांच सौ से बढ़ाकर सात सौ रुपये करने की मांग

District Secretariat of Karnal
District Secretariat of Karnal

कितनी महंगाई के दौर में इन्हें रोजाना मिलने वाली मेहनत मजदूरी बहुत कम है। इस मजदूरी से इनके परिवार का पालन पोषण कर पाना मुश्किल हो रहा है। भट्ठा मजदूरों का कहना है कि इनकी प्रतिदिन मिलने वाली दिहाड़ी मजदूरी 500 रुपए से बढ़ाकर 700 रुपए कर दी जाए ताकि यह अपने परिवार का भरण पालन कर सकें।
इन के समर्थन में अन्ये मजदूर संगठन भी जिला सचिवालय पहुंचे।

यह भी पढ़ें : सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से जिला पुलिस ने बम निरोधक दस्ता मधुबन की टीम के साथ मिलकर सर्च अभियान चलाया Bomb Disposal Squad Madhuban Team

यह भी पढ़ें : कैथल में आए 2 कोरोना के केस, कैथल जिले में 17 लाख 30 हजार 155 व्यक्तियों का हो चुका है टीकाकरण DC Pradeep Dahiya

यह भी पढ़ें : निरंकारी बाबा हरदेव सिंह की स्मृति में समर्पण दिवस, आज विशाल निरंकारी संत समागम का होगा आयोजन

यह भी पढ़ें : शहीद सोसायटी का समस्या समाधान के लिए मुख्यमंत्री को पत्र

Connect With Us : Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular