HomeहरियाणाजींदJind Condition Worsens Due To Rain: थोड़ी सी बारिश में ही बिगड़...

Jind Condition Worsens Due To Rain: थोड़ी सी बारिश में ही बिगड़ जाती है शहर की सूरत

विपुल कौशिक, जींद:

Jind Condition Worsens Due To Rain: थोड़ी सी बारिश आने पर ही शहर की सूरत बिगड़ जाती है। जींद के इस आलम पर लोग आंसू बहाते हुए नजर आ रहे है। बनाओ,उखाड़ों फिर बनाओ के फेर में शहर की दो लाख से ज्यादा की आबादी फंसी हुई।

Read Aslo: Ox Death on Railway Track In Jind: रेलवे फाटक पर बैल की मौत से गुस्साए लोगों ने रेलवे ट्रैक किया जाम

सड़कों को संवारने का प्लान नहीं लेकिन कमिशन के खास तरीके Jind Condition Worsens Due To Rain

सड़कों, सीवरेज को संवारने के लिए भले की किसी के पास ठोस प्लान ना हो कितुं कमीशन पालने में अच्छे खासे तौर तरीके है। इसलिए जींद की दरकती,टूटती,फूटती सड़कों के किस्से प्रदेश की राजधानी में भी गूंजते है। शहर की दुर्दशा को देखकर लोग, अपना सोना खोटा तो फिर सुनार का क्या दोष, की कहावत से क्षेत्र की सरदारी करने वालों पर व्यंग्य से भरे बाण छोड़ रहे है। दो साल पहले जो उम्मीद बंधी थी वह अब इस कदर टूटने लगी है कि लोग मुखर होकर अपना दर्द बाहर निकालने लगे है।

Read Aslo: 134A Admission Update: 134 ए में चयनित बच्चों के 15 जनवरी तक किए जाएंगे दाखिलें

सड़के जलमग्र होने पर धरने पर बैठने वाले हुए गुमशुदा Jind Condition Worsens Due To Rain

डीसी रेट पर नहीं लगा, का जोर लगाकर हवाला देने वाले नेता की अब घेराबंदी होने लगी है। सड़के जलमग्र होने पर लोगों के बीच धरने पर बैठने वाले अब गुमशुदा हो गये है। सब्जी मंडी के पीछे की सड़क को बार,बार बनाने और उखाड?े की परिपाटी से परेशान ओम नगर के अजय भाटिया ने सीएम को तथ्यों सहित पूरा चि_ा भेजने की तैयारी कर ली है। भाटिया ने कहा कि सरकार के नुमाइदों को चौक चौराहों को सजाने से पहले नरकीय आलम में पहुंचे इलाकों की सुध लेनी चाहिए। किंतु यहां तो सोना ही खोटा है फिर सुनार यानि प्रदेश के शीर्ष नेताओं का क्या दोष।

Read Also: Pedestrians at Night Shelters: खुले आसमान के नीचे सोने को मजबूर राहगीरों को रैन बसेरों में पहुंचाकर सर्दी से बचाया

सरकार के नुमांइदे केवल स्वार्थ साधने में व्यस्त Jind Condition Worsens Due To Rain

कांग्रेस नेता रिषीपाल हैबतपूर ने कहा कि भाजपा सरकार के नुमांइदे केवल अपना स्वार्थ साधने में व्यस्त है। इसलिए जनता परेशानियों से जूझ रही है। शहरी हो या फिर ग्रामीण आंचल चहुंऔर बदहाली का आलम है। सरकार के संरक्षण के कारण ही अधिकारी मनमानी कर रहे है। यदि सरकार की नीति और नियत ठीक हो तो फिर बनाओ,उखाड़ों,बनाओ के खेल पर कब का फूलस्टाप लग चुका होता। इस खेल में जो सत्ताधारी अच्छा खासा कमीशन बना रहे है, उनकी शय पर ही अधिकारी आम जनमानस की अनदेखी कर रहे है।

Read Aslo: Government will give 50 thousand assistance to the families of Corona dead: कोरोना मृतकों के परिजनों को 50 हजार रुपए की सहायता देगी सरकार

अधिकारियों की मनमानी से लोगों में रोष Jind Condition Worsens Due To Rain

शनिवार को अधिकारियों की मनमानी को गोहाना बाईपास चौक के नजदीक इम्पलाइज कालोनी के लोगों ने भी जमकर कोसा। इन लोगों ने कहा कि हरियाणा विकास प्राधिकरण यानि हुड्डा की लापरवाही का खामियाजा वे कई बरसों से भुगत रहे है। हुड्डा ने अर्बन और डिफैंस कालोनी के सीवरेज का गंदा पानी रधाना के ट्रीटमेंट प्लांट में छोड़ने के लिए जो पाइप लाईन दबाई हुई है वह पुराने धागा मिल के पास टूटने के कारण नालों के मार्फत बैक मार रही है।

Read Aslo: E Shram Card Online Apply: 15 जनवरी तक बढ़ाई ई-श्रमिक पंजीकरण की तिथि

ज्यों ही हुड्डा गंदा पानी लाईन में छोड़ता है त्यों ही वह बैक मारकर गली और गोहाना रोड़ पर खड़ा हो जाता है। मामला हुड्डा अधिकारियों के संज्ञान में कई बार डाला जा चुका है। इसके बाद भी टूटी हुई पाईप लाईन को आज तक दुरूस्त नहीं किया गया। अधिकारी इस कदर मनमानी कर रहे है कि उनकों सीएम और मंत्री के पास भेजी गई शिकायतों का भी डर नहीं है।

Read Also: Assembly Elections 2022 Latest Update पांच राज्यों में बजा विधानसभा चुनाव का बिगुल

Read Also: PM Security Breach पंजाब के मुख्य सचिव ने केंद्र को सौंपी रिपोर्ट

Read Also : Human Rights Day Messages 2021

Connect With Us:-  Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments