HomeपंजाबUncategorizedAnganwadi Workers Demonstrated For Demands: आंगनवाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर्स ने मांगों को...

Anganwadi Workers Demonstrated For Demands: आंगनवाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर्स ने मांगों को लेकर किया प्रदर्शन

आज समाज डिजिटल, जींद:

Anganwadi Workers Demonstrated For Demands: पिछले 20 दिनों से चल रही आंगनवाड़ी वर्कर्स एंड हेल्पर्स की हड़ताल के दौरान सोमवार को वर्करों ने मांगों को लेकर विधायक डा. कृष्ण मिड्ढा के आवास तक प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बाद में वर्करों ने विधायक प्रतिनिधि राजन चिल्लाना को मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपा।

Also Read: Nilgai Death in Field: खेतों में मृत मिली नील गाय, शरीर पर मिले कंटीले तारों के निशान

मांगों की तरफ संज्ञान नहीं ले रही सरकार Anganwadi Workers Demonstrated For Demands

प्रदर्शन से पहले नेहरू पार्क में आयोजित रोष सभा को संबोधित करते हुए सुरवाइजर वेलफेयर एसोसिएशन हरियाणा की महासचिव संतोष यादव व जिला प्रधान सुशीला, मिड-डे मील वर्कर्स यूनियन हरियाणा की जिला प्रधान संतोष, जिला प्रधान भुला देवी ने कहा कि वर्कर गत आठ दिसंबर से लगातार हड़ताल कर रही हैं लेकिन उनकी मांगों की तरफ कोई संज्ञान नहीं लिया जा रहा है। मनोहर सरकार ने 2018 में आंदोलन के चलते जो समझौता किया था उसे भी लागू नहीं किया गया है। केंद्र द्वारा घोषित महंगाई भत्ता भी नहीं दिया गया है।

Read Also: Keeping the dead body jammed on the National Highway: पेगां महंत की मौत मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर शव को रख नेशनल हाइवे पर लगाया जाम

सरकार विभागोें का निजीकरन करने पर तुली Anganwadi Workers Demonstrated For Demands

उन्होंने कहा कि सरकार विभागों का निजीकरण करने पर तुली है। आईसीडीएस में प्ले स्कूल के नाम पर मुनाफाखोर एनजीओ के हवाले कर रही है। महंगाई के बावजूद हमरा वेतन नहीं बढ़ाया जा रहा। नई शिक्षा नीति 2020 के तहत सरकार ने शिक्षा विभाग के साथ-साथ आंगनवाड़ी केंद्रों को उजाड़ने का ठेका ले लिया है। उन्होंने मांग की कि आंगनवाड़ी वर्कर्स वह हैल्पर्स को सरकारी कर्मचारी का दर्जा दिया जाए जब तक कर्मचारी नहीं बनाया जाता तब तक न्यूनतम वेतन 24 हजार रुपये लागू किया जाए। 2018 में की गई घोषणाओं को लागू करते हुए महंगाई भत्ते की तमाम किश्त मानदेय में जोड़ कर दी जाए।

Read Also: Cold Wave in 2021: 21 साल बाद टूटा ठंड का रिकॉर्ड, माइनस 2 डिग्री पर जमी बर्फ

इस प्रकार हैं मांगें Anganwadi Workers Demonstrated For Demands

महंगाई भते का बकाया ऐरियर भी तुरंत दिया जाए। हैल्पर के पदनाम को बदला जाए। विभाग द्वारा बिना फोन व अन्य संसाधन दिए वर्कर्स पर आनलाइन काम का दबाव बनाना बंद किया जाए व इस बारे माननीय उच्च न्यायालय के आदेश की अवहेलना न की जाए। प्रधानमंत्री द्वारा सिंतबर 2018 में की गई वर्कर्स व हैल्पर्स की 1500 एवं 750 रुपए की बढ़ोत्तरी को ऐरियर समेत दिया जाए। रिटायरमैंट पैंशन लागू की जाए। आंगनवाड़ी वर्कर से सुपरवाइजर के रूप में 50 प्रतिशत की पदोन्न्ति को तुंरत लागू किया जाए।

Read More : Cold Wave in 2021: 2 दिनों से पड़ रहा पाला, चल रही है शीतलहर

आंगनवाड़ी केंद्रों का बढ़ा किराया दिया जाए। आंगनवाड़ी वर्कर्स व हैल्पर्स को किसी भी विभागीय ट्रेनिंग या मीटिंग में बुलाने पर टीए व डीए दिया जाए। आंगनवाड़ी वर्कर व हैल्पर को दुर्घटना होने पर इलाज का पूरा खर्च व मृत्यु होने पर अन्य विभागों की तर्ज पर तीन लाख रुपये मुआवजा दिया जाए। वर्कर्स व हैल्पर्स की वर्दी की राशि बढ़े व सालाना कम से कम 1600 रुपए की जाए। नई शिक्षा नीति वापस हो। प्ले वे स्कूल के नाम पर आईसीडीएस का निजीकरण ना किया जाए। आंगनवाड़ी वर्करों पर बनाए गए मुकद्में वापस हों।

Also Read : Haryana Central University के आठ विद्यार्थियों को मिला प्लेसमेंट

Connect With Us:-  Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments