Homeहरियाणामहेंद्रगढ़Happy Farmer Due To Rain: शहरवासियों के लिए बरसात बनी आफत, किसानों...

Happy Farmer Due To Rain: शहरवासियों के लिए बरसात बनी आफत, किसानों के चेहरे खिले

आज समाज डिजिटल, नारनौल:

Happy Farmer Due To Rain: आसमान में बादलों की तेज गरज व चमक के साथ शुक्रवार रात्रि करीब 9 बजे शुरू हुई बरसात का दौर शनिवार सुबह 9 बजे तक जारी रहा। हालांकि दिनभर रूक-रूककर हल्की बरसात जारी रही। शहर में बरसाती पानी की निकासी का उचित प्रबंध नहीं होने के कारण जगह-जगह जलभराव की स्थिति पैदा हो गई।

Read Also: Jind Condition Worsens Due To Rain: थोड़ी सी बारिश में ही बिगड़ जाती है शहर की सूरत

आवागमन करने वालों को हुई परेशानी Happy Farmer Due To Rain

शहर में शायद ही ऐसी कोई गली बची हो जहां जलभराव की स्थिति न पैदा हुई हो। जिससे पैदल तथा वाहनों द्वारा आवागमन करने वाले लोगों को भारी परेशानी उठानी पड़ी। इस कड़ाके की ठंड में भी लोगों को मजबूरन जमा बरसाती पानी के बीच में से होकर गुजरना पड़ा। शहर का मुख्य सड़क मार्ग किला रोड़ से महिला थाना तक की सड़क का हाल कुछ ज्यादा ही खराब नजर आया। इस मार्ग पर पिछले चार दिनों के दौरान बरसाती पानी के कारण सड़क पर बनी दलदल में दर्जनों वाहन फंस चुके हैं तथा काफी लोग घायल भी हो चुके हैं।

Read Aslo: Ox Death on Railway Track In Jind: रेलवे फाटक पर बैल की मौत से गुस्साए लोगों ने रेलवे ट्रैक किया जाम

शहर में लंबे समय से चल रही जलभराव की समस्या Happy Farmer Due To Rain

शहर में जलभराव की समस्या लंबे समय से चल रही हैं, लेकिन जिला प्रशासन इस ओर कोई ध्यान देने को तैयार नहीं हैं। वहीं कृषि विशेषज्ञों के अनुसार यह बरसात रबी फसलों के लिए फायदेमंद साबित होगी। चिकित्सकों के अनुसार अस्पतालों में खांसी, बुखार, जुकाम आदि के मरीजों की ओपीडी में बढ़ोतरी हो रही हैं। खासकर छोटे बच्चें और बुजुर्ग इस ठंड की चपेट में आने से बीमार हो रहे हैं।

Read Aslo: 134A Admission Update: 134 ए में चयनित बच्चों के 15 जनवरी तक किए जाएंगे दाखिलें

आने वाले दिनों में दिखाई देगा हिमपात का असर Happy Farmer Due To Rain

वहीं मौसम के जानकार डा. चंद्रमोहन ने बताया कि राज्य में कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम तो कई स्थानों पर जबरदस्त गरज व चमक के साथ बारिश की गतिविधियां दर्ज की गई हैं। वहीं कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि भी हुई हैं। उन्होंने बताया कि भारी मात्रा में पर्वतीय क्षेत्रों पर हिमपात भी हुआ है। जिसका असर आने वाले दिनों में दिखाई देगा। मैदानी इलाकों में जबरदस्त ठंड का प्रभाव देखने को मिलेगा।

Read Also: Pedestrians at Night Shelters: खुले आसमान के नीचे सोने को मजबूर राहगीरों को रैन बसेरों में पहुंचाकर सर्दी से बचाया

न्यूनतम और अधिकतम तापमान में भारी गिरावट दर्ज की जाएगी। शुक्रवार शाम से लेकर शनिवार सुबह 8:30 बजे तक के आंकड़ों के आधार पर नारनौल में 44 एमएम, अटेली मंडी में 30 एमएम, महेंद्रगढ़ में 20 एमएम और रेवाड़ी जिले के कोसली में 30 एमएम बारिश हुई। इसके अलावा सतनाली, नांगल चौधरी, कनीना में भी 15 से 25 एमएम से अधिक बारिश की गतिविधियां दर्ज की गई।

Read Also: PM Security Breach पंजाब के मुख्य सचिव ने केंद्र को सौंपी रिपोर्ट

Read Also : Human Rights Day Messages 2021

Connect With Us:-  Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments