Homeहरियाणामहेंद्रगढ़Blood Donation Camp: रक्तदान किसी का जीवन बचाने में मददगार साबित :...

Blood Donation Camp: रक्तदान किसी का जीवन बचाने में मददगार साबित : प्रो. टंकेश्वर

विश्वविद्यालय की एनएसएस इकाई द्वारा किया गया आयोजन Blood Donation Camp
विद्यार्थियों, शिक्षकों, कर्मचारियों व स्थानीय लोगों ने लिया हिस्सा Blood Donation Camp

नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़ :

Blood Donation Camp: हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) व यूथ रेडक्रॉस इकाई द्वारा जिला रेडक्रॉस सोसायटी नारनौल के सहयोग से विश्वविद्यालय परिसर में सोमवार 14 मार्च को रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। रक्तदान शिविर का उद्घाटन विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार ने किया। इस अवसर पर प्रो. टंकेश्वर कुमार ने कहा कि रक्तदान महादान है।

Read Also: Durga Bhawan Society Kaithal: दुर्गा भवन सोसायटी ने निकाली श्याम बाबा की निशान यात्रा

रक्तदान के लिए सदैव रहें तैयार Blood Donation Camp

हम सभी को इसके लिए सदैव तत्पर रहना चाहिए। रक्तदान किसी का जीवन बचाने में मददगार साबित हो सकता है इसलिए स्वस्थ लोगों को समय-समय पर रक्तदान करते रहना चाहिए। शिविर में विशिष्ट अतिथि के रूप में भारत स्वाभिमान ट्रस्ट हरियाणा के अध्यक्ष, ईश कुमार आर्य, हरियाणा कला परिषद के पूर्व निदेशक अनिल कौशिक व नेहरू युवा केंद्र के जिला समन्वयक महेंद्र नायक उपस्थित रहे। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार ने रक्तदाताओं को बैज लगाकर उनका उत्साहवर्धन किया और कहा कि उनके द्वारा किए गए रक्तदान से किसी जरूरतमंद की जान बच सकती है।

Read Also: Naib Singh Saini Statement: हस्तकला में निपुण व्यक्ति अन्य को भी बना सकता है आत्मनिर्भर: नायब सिंह सैनी

कुलपति ने रक्तदाताओं का किया उत्साहवर्धन Blood Donation Camp

इस अवसर पर विश्वविद्यालय की कुलसचिव प्रो. सारिका शर्मा व छात्र कल्याण अधिष्ठाता प्रो. आनंद शर्मा ने भी रक्तदाताओं का उत्साहवर्धन किया। विश्वविद्यालय में आजादी का अमृत महोत्सव अभियान के तहत चल रहे सात दिवसीय एनएसएस शिविर के संबंध में जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय की एनएसएस इकाई के संयोजक डॉ. दिनेश चहल ने बताया कि रक्तदान शिविर के माध्यम से 151 यूनिट रक्त एकत्र हुआ।

उन्होंने इस आयोजन में सहभागिता हेतु जिला रेडक्रॉस सोसायटी नारनौल का भी आभार व्यक्त किया। डॉ. दिनेश चहल ने बताया कि रक्तदान शिविर के साथ-साथ शिविर के छठे दिन की शुरुआत योग कार्यक्रम के साथ हुई। जिसमें योगाचार्य निलेश और ईश कुमार ने प्रतिभागियों को योगाभ्यास करवाया। साथ ही स्वयंसेवकों ने विश्वविद्यालय के आवासीय परिसर में स्वच्छता अभियान भी चलाया। वहीं शाम के समय राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों के द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया।

Read Also: Stabbed: चाकू लगने से छात्र साहिल घायल

Also Read: महाराष्ट्र में 24 से खुलेंगे 12वीं तक के स्कूल, मिली मंजूरी

Also read : Kullu Accident News जेसीबी खाई में गिरने से चार लोगों की मौत

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular