Homeहरियाणामहेंद्रगढ़प्रकृति व प्राकृतिक संसाधनों को नुकसान हुआ तो मानवता पर खतरा: उपायुक्त

प्रकृति व प्राकृतिक संसाधनों को नुकसान हुआ तो मानवता पर खतरा: उपायुक्त

  • जिला उपायुक्त ने सतनाली में किया ट्रस्ट के सौंदर्यीकरण अभियान का शुभारंभ

नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़:
प्रकृति व पर्यावरण में गहरा संबंध है परंतु यदि हम प्रकृति से खिलवाड़ करेंगे तो पर्यावरण का प्रभावित होना स्वाभाविक है। वर्तमान समय में तेज गति से बढ़ रहे पर्यावरण प्रदूषण व ग्लोबल वार्मिंग के प्रभाव को रोकने के दिशा में पौधरोपण महत्वपूर्ण है तथा युवाओं को चाहिए कि वे पर्यावरण संरक्षण के लिए आगे आएं।

सौंदर्यकरण अभियान का शुभारंभ

Beautification Campaign Launched
Beautification Campaign Launched

यह बात जिला उपायुक्त डा. जयकृष्ण आभीर ने सतनाली-नांवा निर्माणाधीन सड़क मार्ग पर एक छोटी सी पहल ग्रामीण सेवा ट्रस्ट द्वारा चलाए जा रहे सौंदर्यकरण अभियान का शुभारंभ करते हुए कही। उन्होंने कहा कि मनुष्य ने पाषाण युग से रॉकेट युग तक का लंबा सफर तय करके जल, जंगल और जमीन को विनाश के कगार पर छोड़ दिया है। हम सभी को वातावरण को प्रदूषित होने से बचाने के लिए पेड़-पौधों को लगाकर जल का संरक्षण भी करना चाहिए। जिस क्षेत्र में ज्यादा पेड़-पौधों के कारण हरियाली होगी तो उस क्षेत्र में आर्थिक समृद्धि एवं खुशहाली के साथ-साथ मनुष्यों, दिनचर्या में भी परिवर्तन आएगा और आपराधिक प्रवृत्तियों से मुक्ति मिलेगी। उन्होंने युवाओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि प्रकृति को बचाने के लिए हम सभी को मिलजुल कर प्रयास करने चाहिए तथा इसके लिए हमें अधिक से अधिक पौधारोपण, वन संरक्षण, पहाड़ो पर अवैध खनन पर रोक लगाने के लिए प्रयास करने होंगे, क्योंकि यदि प्रकृति व प्राकृतिक संसाधनों को नुकसान हुआ तो मानवता भी खतरें में पड़ जाएगी।

सड़क मार्ग के दोनों ओर छायादार व फूलदार पौधे

इससे पूर्व जिला उपायुक्त ने निर्माणाधीन सड़क मार्ग पर कदम का पेड़ लगाकर ट्रस्ट के अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने ट्रस्ट अध्यक्ष नीरज सतनाली को बधाई देते हुए कहा कि उनके द्वारा चलाया गया सौंदर्यकरण अभियान सराहनीय है, इससे न केवल इस सड़क मार्ग की सुंदरता बढ़ेगी बल्कि पर्यावरण संरक्षण को भी बल मिलेगा। उन्होंने ट्रस्ट सदस्यों के हौंसले व जज्बे की सराहना करते हुए कहा कि युवा शक्ति यदि संकल्प के साथ किसी कार्य को करने की ठान ले तो निश्चित ही सफलता हासिल करती है। नीरज सतनाली ने बताया कि अभियान के तहत सड़क मार्ग के दोनों ओर छायादार व फूलदार पौधे लगाएं जाऐंगे। इस दौरान उन्होंने निर्माणाधीन सड़क मार्ग की सामग्री की भी जांच की तथा गुणवत्ता पर संतोष जाहिर किया। इस मौके पर ओमकार पड़तलिया, अत्तर सिंह, शेर सिंह, मनोज पूनिया, ब्रह्मानंद फौजी, सुमित चौधरी, विजय तंवर, सुखवीर पूनिया, दीवान सिंह शेखावत, अमित वालिया, प्रमोद निमीवाल, रवि वालिया, संदीप नांवा सहित अनेक ग्रामीण व ट्रस्ट सदस्य उपस्थित रहे।

उपायुक्त को अपने बीच पाकर उत्साहित नजर आए ग्रामीण:-

जिला उपायुक्त डा. जयकृष्ण आभीर को अपने बीच पाकर ग्रामीण खासे उत्साहित दिखाई दिए तथा उन्होंने जिला उपायुक्त की कार्यशैली की मुक्त कंठ से सराहना की। ग्रामीणों के साथ जिला उपायुक्त ने ठेठ देसी अंदाज में बात की तथा सतनाली क्षेत्र की प्राकृतिक वनस्पति व संपदा के बारे में जानकारी हासिल कर पुरानी यादें ताजा की। ग्रामीणों ने जिला उपायुक्त के समक्ष हरियाणवी अंदाज में बात करते हुए बताया कि साहब, उरे आज तक बीडीओ साहब कुर्सी छोड़ के कोन्या आए, आज आप म्हारे बीच खड़े हो, इस पर उपायुक्त मुस्कुराए तथा कहा कि मै आपकी समस्याएं जानने आया हूं आप खुलकर अपनी समस्याएं बता सकते है। इसके बाद ग्रामीणों ने अपनी मांगें व समस्याएं उपायुक्त महोदय के समक्ष रखी। उपायुक्त डा. जेके आभीर ने ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनी तथा उनके निदान के लिए संबधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें: हमीरपुर में युवा पति-पत्नी ने की आत्महत्या

ये भी पढ़ें: राजकीय महाविद्यालय में मनाया राष्ट्रीय सेवा योजना स्थापना दिवस

ये भी पढ़ें: हाई कोर्ट के आदेशों पर किसानों ने खोला NH44

ये भी पढ़ें: एलआईसी, चण्डीगढ़ मण्डल ने गुरू का लंगर आई अस्पताल को भेंट की मोबाइल एम्बुलेंस

 Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular