HomeहरियाणाकरनालStrict Action on Property Tax Defaulters: सम्पत्ति कर डिफाल्टरों के खिलाफ सख्त...

Strict Action on Property Tax Defaulters: सम्पत्ति कर डिफाल्टरों के खिलाफ सख्त एक्शन की तैयारी

14 से 31 मार्च तक निगम चलाएगा विशेष सीलिंग ड्राईव Strict Action on Property Tax Defaulters
केन्द्र व राज्य सरकार के कार्यालयों पर भी निगम कसेगा शिकंजा, सूची की तैयार Strict Action on Property Tax Defaulters

प्रवीण वालिया, करनाल:

Strict Action on Property Tax Defaulters: सम्पत्ति कर डिफाल्टरों के खिलाफ नगर निगम सख्त एक्शन लेने जा रहा है। इसके तहत आगामी 14 मार्च से 31 मार्च तक विशेष सीलिंग अभियान चलाया जाएगा, जिसमें 10 लाख रूपये से ऊपर के टैक्स डिफाल्टरों की प्रॉपर्टी को सील किया जाएगा। निगम आयुक्त नरेश नरवाल ने गुरूवार को जानकारी देते बताया कि नगर निगम इन सभी डिफाल्टरों को पहले भी कई बार नोटिस जारी कर चुका है, परंतु जो डिफाल्टर अपना प्रॉपर्टी टैक्स नहीं चुका रहे, उनकी प्रॉपर्टी को सोमवार से सील किया जाएगा ।

Read Also: De-addiction Awareness Workshop: जनता के सहयोग के बिना सामाजिक एवं आपराधिक बुराई से छुटकारा नहीं पाया जा सकता

10 लाख से ऊपर के बकायादारों के प्रतिष्ठान सोमवार से होंगे सील Strict Action on Property Tax Defaulters

निगमायुक्त ने बताया कि 10 लाख रूपये से ऊपर के प्रॉपर्टी टैक्स डिफाल्टरों की संख्या 165 हैं, जिनमें केन्द्र के 9 व राज्य सरकार के 17 विभाग भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि केन्द्र व राज्य सरकार के कार्यालयों पर भी नगर निगम शिकंजा कसने जा रहा है, इसके लिए विभागों को सूची तैयार की जा चुकी है।

Read Also: BJP Wins in Four States: विधायक लीला राम व गौरव पाडला ने कार्यकर्ताओं के साथ मनाया जश्न

डिफाल्टरों की सूची वेबसाईट पर की अपलोड Strict Action on Property Tax Defaulters

निगमायुक्त ने बताया कि सम्पत्ति टैक्स बकायादारों की सूची नगर निगम करनाल की वेबसाईट पर अपलोड कर दी गई है। इसके अतिरिक्त निगम कार्यालय के सूचना पट्ट पर भी सूची को चस्पा किया गया है। नगर निगम के कार्यकारी अधिकारी देवेन्द्र नरवाल ने बताया कि सीलिंग की कार्रवाई के लिए पुलिस बल हेतू जिलाधीश करनाल को प्रार्थना पत्र लिखा गया है। उन्होंने बताया कि निगम के खजाने में अब तक मात्र करीब साढे 8 करोड़ रूपये ही जमा हुए हैं, कार्रवाई के पश्चात टैक्स रिकवरी में इजाफा होने की उम्मीद है। ईओ ने बताया कि उपरोक्त बकायादारों के खिलाफ कार्रवाई के बाद 1 से 10 लाख के डिफाल्टरों पर भी कार्रवाई निश्चित होनी है। संख्या की बात करें, तो 1 से 5 लाख तक के 1600 तथा 5 से 10 लाख तक के 546 प्रॉपर्टी टैक्स डिफाल्टर हैं।

Read Also: BJP Wins in Four States: चार राज्यों में भाजपा की जीत के जश्न में प्रदेश महामंत्री डॉ पवन सैनी ने उड़ाया गुलाल

Read Also: BJP Wins in Four States: चार राज्यों में भाजपा की जीत के जश्न में प्रदेश महामंत्री डॉ पवन सैनी ने उड़ाया गुलाल

Read Also मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सभी वर्गो के लिए एक संतुलित बजट पेश किया : रणजीत सिंह

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular