Homeहरियाणाकैथलविकास के कार्य कागजों तक नहीं सिमटने चाहिए : सांसद नायब सैनी

विकास के कार्य कागजों तक नहीं सिमटने चाहिए : सांसद नायब सैनी

मनोज वर्मा, कैथल।

  • सांसद नायब सैनी व विधायक लीला राम अधिकारियों को संबोधित करते हुए 

सांसद नायब सिंह सैनी ने कहा कि विकास के कार्य कागजों तक सिमट कर नहीं रहने चाहिए बल्कि विकास कार्यों की सार्थकता लाभार्थियों के घर और दरवाजे तक पहुंचनी चाहिए। सरकार का मुख्य उद्देश्य जारी नीतियों के तहत लाभार्थियों को बेहतर तरीके से लाभांवित करना है। इस विषय को लेकर किसी भी प्रकार की कमी नहीं रहे। इसके लिए सभी को मिलकर काम करने की जरूरत है। सांसद नायब सिंह सैनी लघु सचिवालय के सभागार में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी कमेटी की बैठक में जिला में चल रहे और किए जाने वाले विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में स्थानीय विधायक लीला राम, उपायुक्त डॉ. संगीता तेतरवाल सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

सांसद नायब सिंह सैनी ने क्रमानुसार एजेंडा अनुरूप विषयों को बारीकी से समझाया

सांसद नायब सिंह सैनी ने क्रमानुसार एजेंडा अनुरूप विषयों को बारीकी से समझते हुए संबंधित विभागों के अधिकारियों को कहा कि सरकार का मुख्य उद्देश्य जनहित के कार्यों को सुचारू से अमलीजामा पहनाना है और इस दिशा में सरकार के बेहतर प्रयासों को सार्थक रूप देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि कई विभागों के अधिकारी अच्छा काम कर रहे हैं। अन्य विभागों के अधिकारियों को भी उनसे सीख लेकर बेहतर काम करने की जरूरत है। बैठक में एजेंडा अनुसार 44 विषय रखे गए, जिनको एक-एक करके सांसद ने बारिकी से समझा और स्कीमों के तहत विकास कार्यों को निर्धारित समय के अनुसार पूरा करने के निर्देश दिए ताकि विकास कार्य समय और तरीके से पूरे हो सकें। सांसद ने बैठक में कहा कि जन सेवा और विकास कार्यों के लिए धन की कोई कमी नहीं है। समूचे क्षेत्र में विकास कार्य पूरे जोरों पर है। सभी को चाहिए कि प्रगति और उन्नति के कार्यों को अमलीजामा पहनाने में भरपूर सहयोग करें।

बैठक में सांसद ने नगर परिषद के अधिकारियों से सफाई व्यवस्था और चल रहे विकास कार्यों बारे जानकारी ली तथा कहा कि परिषद सहित सभी विभाग विकास कार्यों के लिए लगाए गए टेंडर की प्रक्रिया निर्धारित नियमों के अनुसार तेजी से पूरा करवाएं। सभी विकास कार्य सुचारू रूप से होने चाहिए। बैठक में बीडीपीओ राजौंद को निर्देश देते हुए कहा कि कहीं भी अवैध कब्जा नहीं होना चाहिए। एमपी लैड के माध्यम से किठाना में बनाई जाने वाली गली को सुचारू रूप से पूरा करवाएं। अटल किसान मजदूर कैंटीन की व्यवस्था बारे भी जानकारी ली। संबंधित अधिकारियों ने बताया कि कैंटीन कैथल शुगर मिल में सुचारू रूप से चलती है।

दर्जनों लोगों को रोजगार उपलब्ध

एजैंडा अनुसार कार्यों को आगे बढ़ाते हुए सांसद के समक्ष बैठक में बताया गया कि दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के तहत मास इन्फो टैक्निक द्वारा दर्जनों लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाया गया है। इस विषय को लेकर सुचारू रूप से काम किया जा रहा है। सभी कार्य सुचारू रूप से चलने चाहिए। इस विषय को लेकर किसी प्रकार की देरी कतई नहीं होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जन स्वास्थ्य विभाग हर घर नल और हर नल में स्वच्छ जल उपलब्ध करवाना सुनिश्चित करें। जिला की सभी सडक़ों को दुरुस्त करें। इसके अलावा सांसद नायब सिंह सैनी ने महात्मा गांधी नैशनल रूरल एम्प्लॉयमेंट, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण व शहरी, स्वच्छ भारत मिशन, शौचालय, ग्रामीण आजीविका मिशन, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की योजनाएं, डिजिटल इंडिया लैंड रिकॉर्ड, नैशनल हाईवे ऑथोरिटी ऑफ इंडिया, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, सोयल हैल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, पशु पालन विभाग, बेटी बचाओ-बेटी पढाओ, मिडडे मिल, समग्र शिक्षा, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, ई-नैशनल एग्रीकल्चर मार्केटिंग, सौर ऊर्जा आदि विषयों पर बैठक में समीक्षा की तथा अधिकारियों से स्कीमों के बारे में पूरी फीड बैक ली।

इस मौके पर विधायक लीला राम ने कहा कि विकास कार्य सही प्रकार से होने चाहिए। सरकार का मुख्य उद्देश्य जनहित में कार्यों को हर अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना है। जब हम गांवों में जाते हैं तो लोग विकास कार्यों को लेकर हमसे बात पूछते हैं और जहां अच्छा काम हुआ है, वहां सरकार के कार्यों की प्रशंसा भी करते हैं। इसलिए सभी अधिकारियों को चाहिए कि वे जन सेवा के कार्यों को सुचारू रूप से अमलीजामा पहनाएं। हम सबका मुख्य कार्य जनसेवा है और इस विषय को लेकर हम सभी को गंभीरता से काम करने ही जरूरत है।

इस मौके पर नगर परिषद की चेयरपर्सन सुरभि गर्ग, सीईओ जिला परिषद सुरेश राविश, एसडीएम नवीन कुमार, डीएसपी, अधीक्षक अभियंता कशिश मान, अशोक खंडुजा, डीडीए डॉ. कर्मचंद, डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह, कार्यकारी सीएमओ रेनू चावला, डीएसडब्ल्युओ कुलदीप शर्मा, डीआईओ दीपक खुराना, कार्यकारी अभियंता सतपाल सिंह, केएस पठानिया, प्रशांत कुमार, डीएचओ प्रमोद कुमार, ईओ कुलदीप सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular