HomeहरियाणाजींदKidnap for Drugs: नशे की लत को पूरा करने के लिए बीएमएस...

Kidnap for Drugs: नशे की लत को पूरा करने के लिए बीएमएस इंटरशिप छात्र ने खुद रचा था अपहरण, फिरौती का ड्रामा

आज समाज डिजिटल, जींद:

Kidnap for Drugs: बीएमएस की इंटरशिप कर रहे छात्र का अपहरण कर फिरौती मांगने व उसके साथ लूट की घटना फर्जी पाई गई है। छात्र ने नशे की लत को पूरा करने के लिए खुद छात्र ने अपने अपहरण, फिरौती मांगने तथा लूट का ड्रामा रचा था। सदर थाना पुलिस ने छात्र के खिलाफ झूठी शिकायत कर गुमराह करने का मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी।

Read Also: Wife Strangulated to Death: पत्नी की गला दबाकर हत्या करने का आरोपी 12 घंटे में गिरफ्तार 

फिरौती का ड्रामा Kidnap for Drugs

गौरतलब है कि बीएमएसी की इंटरशिप कर रहे गांव रामगढ निवासी विश्वास ने गत 16 दिसम्बर को पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि वह घर से बाइक पर सवार होकर इंटरशिप के लिए शहर में निजी अस्पताल के लिए निकला था। भिवानी रोड पर कार सवार पांच लोगों ने उसका अपहरण कर लिया और उसे गांव गोबिंदपुरा के निकट खेत में कमरे पर ले गए।

जहां पर उसके साथ मारपीट की गई और उससे फोन कर उसके पिता से फिरौती की मांग की गई। परिजनों द्वारा मना करने पर आरोपितों ने उससे 100 रुपए की नगदी, मोबाइल व घडी छीन ली। किसी तरह वह भाग निकलने में कामयाब हो गया। पुलिस ने विश्वास की शिकायत पर पांच अज्ञात लोगों के खिलाफ लूट, फिरौती मांगने समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था।

Also Read: Guest Teacher Demand: अतिथि अध्यापकों पर लाठीचार्ज की निंदा

पिता से फोन कर की फिरौती की मांग Kidnap for Drugs

पुलिस मामले की जांच कर रही थी तो पुलिस को विश्वास को नशे की लत होने की जानकारी मिली। जब पुलिस ने विश्वास पर दबाव डाला तो गुत्थी सुलझती चली गई। विश्वास ने पुलिस को बताया कि वह नशे का आदी है और नशे की पूर्ति के लिए उसे रुपयों की जरूरत थी। जिसके चलते उसने अपहरण तथा फिरौती मांगने का ड्रामा रचा। यहां तक की उसने खुद को भी चोट पहुंचाई। ताकि किसी को उसकी योजना पर संदेह न हो।

Read Also: Heater in a Closed Room Fatal: जानलेवा हो सकता है बंद कमरे में हीटर व अंगीठी का प्रयोग

घडी को उसने बेच दिया था, मोबाइल को उसने खुद छुपाया हुआ है। जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया। पुलिस ने विश्वास के खिलाफ गुमराह करने का मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी। डीएसपी जितेंद्र ने बताया कि छात्र ने खुद के अपहरण तथा लूट और फिरौती मांगने का ड्रामा रचा था। नशे की लत को पूरा करने के लिए उसे रुपये की जरूरत थी।

जिसके चलते खुद ही अपने पिता को फोन कर फिरौती मांगी और पुलिस में मुकद्दमा भी दर्ज करवाया। उन्होंने अभिभावकों से अपील की कि वे अपने बच्चों की संगत पर नजर रखे। अगर बच्चा नशे का आदी है तो उसका इलाज भी करवाएं।

Read Also: Keeping the dead body jammed on the National Highway: पेगां महंत की मौत मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर शव को रख नेशनल हाइवे पर लगाया जाम

Also Read : Haryana Central University के आठ विद्यार्थियों को मिला प्लेसमेंट

Connect With Us:-  Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments