Homeहरियाणाकरनालजनता के साथ मिलकर मोदी और खट्टर को बाहर का रास्ता दिखाएंगे...

जनता के साथ मिलकर मोदी और खट्टर को बाहर का रास्ता दिखाएंगे : किरण चौधरी

प्रवीण वालिया, करनाल:
कहा – राज्य सभा चुनावों में क्रास वोटिग की बात कर कांग्रेस को कमजोर कर रहे हैं कुछ नेता :
हमें नेता नहीं कार्यकर्तओं की जरूरत :
बोली-विश्वासघाती नेताओं को सबक सिखाएगी जनता :
कांग्रेस विधायक दल की नेता तथा पूर्व मंत्री श्रीमती किरण चौधरी ने कहा कि करनाल की धरती से कांग्रेस कार्यकर्ता के द्वार अभियान की शुरूआत की हैं। इस अभियान के तहत वह सौ से अधिक कार्यकर्ताओं के दरवाजे पर दस्तक देंगी। इसके माध्यम से कांग्रेस के अधिक से अधिक कार्यकर्ताओं के साथ संवाद स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बार बार राज्यसभा के चुनावों में क्रास वोटिंग में उनकी भूमिका पर जो उन पर सवाल खड़े कर रहे हैं, वह कांग्रेस को कमजोर कर रहे हैं। यदि वह बात कहेंगी तो यह बात दूर तक जाएगी। कांग्रेस का आलाकमान उन काली भेडों को जानता है जो खाते कांग्रेस की है बजाते दूसरों की है। इन सड़े गले नेताओं का इलाज जनता करेगी। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. बंसी लाल की पुत्रबधु तथा जन प्रिय कांग्रेस नेता स्वर्गीय सुरेंद्र सिंह की पत्नी पूर्व मंत्री तथा पांच बार भिवानी से और मौजूदा विधायक श्रीमती किरण चौधरी आज करनाल पहुंची। उन्होंने मंगल सैन आडीटोरियम में पत्रकारों से बात की। उनका स्वागत सैकड़ों कांग्रेस वर्करों ने किया। उन्हें शोभा यात्रा के रूप में स्थल तक ले जाया गया। उनके साथ पूर्व ग्रह मंत्री भारतभूषण बत्रा कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेश गुप्ता मतलौडा, कांग्रेस के एआईसीसी के सदस्य पंकज पूनिया, जयपाल मान, बलवान सैन, काग्रेस के प्रवक्ता जोगिंदर वाल्मीकि मौजूद थे।

 कांग्रेस को कमजोर कर रहे हैं कुछ नेता 

इस कार्यक्रम का आयोजन एआईसीसी के सदस्य पंकज पूनिया ने किया पूर्व मंत्री किरण चौधरी ने कहा कि यदि क्रास वोटिंग की बात की जाए तो 2004 में वह एक वोट के राज्यसभा का चुनाव हारी। वह वोट अयोग्य हुआ। 2016 में स्याही कांड का जिम्मेदार कौन हैं। अब के चुनावों में क्रास वोटिंग को लेकर उन पर सवाल खडे किए जा रहे हैं। जब कि पब्लिक जानती है कि कौन कांग्रेस को अपने कुनबे और स्वार्थ की खातिर कमजोर कर रहा है।

हमें नेता नहीं कार्यकर्तओं की जरूरत 

 उन्होंने कहा कि वह वर्कर के दिलों में बसती हैं। वह लारे लप्पे नहीं लगाती हैं। उन्होंने कहा कि वह एक जगह कार्यक्रम कर वहां की भीड़ को दूसरी जगह उठाकर नहीं ले जाती हैं। वह अपने वर्कर के लिए समर्पित हैं। वह अब वर्करों के घर जाकर उन्हें जोड़ रही हैं। वह करनाल में पचास वर्करों के घर चाय पीकर संंवाद करेंगी। वह दस हजार तक वर्कर के घर दस्तक देंगी। उन्होंने बताया कि हरियाणा से पांच हजार वर्कर दिल्ली हल्ला बोल रैली में जाएंगे। इसके लावा इतने ही वर्कर भारत जोड़ों यात्रा में शामिल होंगे। उन्होंने कहा कि गुलाम नवी आजाद को कांग्रेस ने वह सब कुछ दिया जिसके वह लायक भी नहीं थे लेकिन उन्होंनें कांग्रेस के साथ विश्वासघात किया। उन्होंने कहा कि श्रीमती सोनिया गांधी , राहुल गांधी उन पर भरोसा करती हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें नेताओं नहीं वर्करों की जरूरत है।

मोदी और खटटर को बाहर का रास्ता दिखाएंगे

वर्कर उनके साथ खड़ा है । उन्होंने कहा कि सोनली फोगाट की मौत के मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस वर्कर सीबीआई और ईडी से नहीं डरता है। हम भाजपा के दमन का डट कर मुकाबला करेंगे। जनता के साथ मिलकर मोदी और खटटर को बाहर का रास्ता दिखाएंगे।  इस अवसर पर भूषण गुप्ता सुखराम बेदी, जोगेन्दर वाल्मीकि, जयपाल मान, बलवान सैन, दिनेश सैन, दीपक गंजोगड़ी, प्रवेश पूनिया, ओम प्रकाश, परवीन, देवी राम, राजेश सैन, राजेन्द्र, डॉ. जय भगवान, प्रेम नम्बरदार, राम दास, विजेन्द्र खरब आदि मौजूद थे।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular