Homeहरियाणाकरनालहरियाणवीं-पंजाबी गीतों पर थिरके विद्यार्थी

हरियाणवीं-पंजाबी गीतों पर थिरके विद्यार्थी

प्रवीण वालिया, करनाल:

  • प्रतिभा खोज प्रतियोगिता में विद्यार्थियों की शानदार प्रस्तुतियों ने बांधा समां

गुरु नानक खालसा कॉलेज मे कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र के युवा सास्कृतिक कार्यक्रम विभाग के सौजन्य से प्रतिभा खोज प्रतियोगिता का शानदार आयोजन किया गया। जिसमे विद्यार्थियों ने नृत्य, गायन, मिमिक्री, एकल अभिनय, वादन, भाषण, कविता, चित्रकारी एवं प्रश्नोत्तरी में भाग लिया एवं शानदार प्रस्तुतियां दी। कॉलेज प्रबंधन समिति की महासचिव सरदारनी जसप्रीत कौर विर्क ने मुख्य अतिथि क रप में पहुंचकर कार्यक्रम की शोभा बढाई। उन्होंने विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि कॉलेज के विद्यार्थी सांस्कृतिक गतिविधियों के साथ साथ शिक्षा एवं अन्य गतिविधियों में विभिन्न आयाम स्थापित कर रहा है।

फैशन शो का आयोजन

कॉलेज के प्राचार्य डा. गुरिंद्र सिंह ने सभी का स्वागत किया एवं उपलब्धियों पर विस्तार से प्रकाश डाला। सांस्कृतिक गतिविधियों के प्रभारी डा. बीर सिंह ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया एवं डा. कृष्ण अरोड़ा एवं डा. बलजीत कौर के साथ मंच का संचालन किया। प्रो. अंजू चौधरी के निर्देशन में फैशन शो का आयोजन किया गया

ये रहे प्रतियोगिता के परिणाम

जिसमें परमिंदर सिंह को मिस्टर कॉलेज तथा जश्न मेहता को मिस कॉलेज चुना गया। जबकि विकास, स्मृति तथा जश्नप्रीत कौर को पर्सनेलिटि चुना गया। नृत्य में जपजी कौर को पहला, जश्न मेहता को दूसरा तथा चंचल को तीसरा पुरस्कार मिला। पुरूष वर्ग नृत्य में परमिंदर ने पहला, मोहित ने दूसरा व गगन थापा को तीसरा पुरस्कार मिला। गायनमं केशव व रानी ने पहला, संयम व मोहित ने दूसर, देवेंद्र व नितिन ने तीसरा पुरस्कार जीता। कविता में महकप्रीत ने पहला, मोना को दूसरा व कमल को तीसरा पुरस्कार मिला। भाषण में शालू को पहला, परमिंदर को दूसरा तथा कुसुम व मनन को तीसरा पुरस्कार मिला। पेंटिंग में रवीना को पहला, तन्नू को दूसरा तथा आंचल व जपजी कौर को तीसरा पुरस्कार मिला।

सभी को सम्मानित किया गया। प्रो. शशि मदान, प्रो. प्रीति, डा. बीर सिंह, डा. देवी भूषण, डा. दीपक, प्रो. अमरजीत कौर व प्रो. प्रवीण कौर, प्रो. अजय ने निर्णायक की भूमिका निभाई। कॉलेज प्रबंधन समिति के प्रधान स. कंवरजीत सिंह प्रिंस ने सफल आयोजन के लिए प्राचार्य व स्टाफ को बधाई दी।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular