Homeहरियाणाकरनालजश हत्याकांड: बिगड़ी चाची अंजलि की तबीयत, पहुंचाया अस्पताल

जश हत्याकांड: बिगड़ी चाची अंजलि की तबीयत, पहुंचाया अस्पताल

आज समाज डिजिटल, करनाल:
5 साल के मासूम जश की हत्या (Jash Murder Case) में मुख्य आरोपी चाची अंजलि की अचानक तबीयत खराब हो गई। पुलिस अंजलि को इलाज के लिए सरकारी अस्पताल में लेकर आई। बताया जा रहा है कि अंजलि मानसिक तौर पर बीमार रहती है। मनोरोग डॉक्टर ने करीब 45 मिनट तक उसके स्वास्थ्य की जांच की। डॉक्टर से जांच के बाद अंजलि को प्रसूति कक्ष ले जाया गया। अंजलि 14 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं।

मोबाइल चार्जर से गला घोटने का है आरोप

Jash Murder Case in karnal
Jash Murder Case in karnal

अंजलि पर आरोप है कि उसने जश की मोबाइल के चार्जर से गला घोंटकर हत्या कर दी थी। वहीं जश की डीएनए रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। पुलिस ने बेड, चादर, बैग, पर मिले खून के धब्बे भेजे थे डीएनए रिपोर्ट के लिए, जिसके बाद पुलिस को इंतजार था कि जल्द से जल्द रिपोर्ट आए और इस केस में पुलिस की जानकारी और पुख्ता हो जाए। डीएनए रिपोर्ट आने के साथ ही पुलिस की जानकारी और पुख्ता हो गई और पुलिस का विश्वास और बढ़ गया है कि हत्या आरोपी चाची अंजलि ने ही की है।

रिपोर्ट: खून के धब्बे और फंसे बाल जश के

रिपोर्ट से साबित हो गया है कि खून के धब्बे और फंसे हुए बाल जश के ही हैं। चाची अंजलि पर ही जश की हत्या का आरोप हैं और 5 दिन का रिमांड हासिल करने के बाद जश की चाची को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वहीं दादी और ताई भी न्यायिक हिरासत में है जिन पर शव को खुर्द बुर्द और सबूतों के साथ छेड़छाड़ का आरोप है।

ऐसे की थी जश की हत्या

पुलिस के अनुसार पांच अप्रैल की दोपहर को जश अपने दादा से 5 रुपए लेकर चाची अंजलि के पास गया था। वो बेड पर लेटकर मोबाइल में गेम खेल रहा था। इस दौरान जश की बड़ी बहन भी अंजलि के घर आई है, लेकिन वो कुछ समय बाद वापस चली गई। इसके बाद अंजलि ने 15 मिनट बाद 12 बजे जश की मोबाइल चार्जर से गला घोंटकर हत्या कर दी।

ये भी पढ़ें: अंबाला में नशा तस्करी के आरोपी और पूर्व पार्षद के गोदाम को ढहाया

ये भी पढ़ें: पैसों के गबन को लेकर ग्राम सचिव व तत्कालीन सरपंच पर एफआईआर दर्ज

ये भी पढ़ें: अग्रवाल वैश्य समाज का खुला अधिवेशन 24 अप्रैल को

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular