Homeराज्यचण्डीगढ़OP Dhankar Against Congress: आजादी की लड़ाई के श्रेय को कांग्रेस ने...

OP Dhankar Against Congress: आजादी की लड़ाई के श्रेय को कांग्रेस ने अपने तक ही सीमित रखा : ओपी धनखड़

आज समाज डिजिटल,चंडीगढ़:

OP Dhankar Against Congress: भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष चौधरी ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कि आजादी की लड़ाई के श्रेय को कांग्रेस ने अपने तक ही सीमित रखा और हजारों बलिदानियों की अनदेखी की। हम सबको उन शहीदों को याद करने की जरूरत है, जिन्होंने देश को आजादी दिलाने में अपने प्राणों की आहुति दी।

Read Aslo: 75 Percent Reservation in Jobs Implemented: 15 जनवरी रात्रि से 75 प्रतिशत नौकरी आरक्षण का नियम लागू कर दिया

मेवात के शहीदों को किया याद OP Dhankar Against Congress

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष चौधरी ओमप्रकाश धनखड़ ने मेवात के शहीदों को याद करते हुए यहां की सरजमीं को नमन किया और इसे बलिदानी बताया। धनखड़ रविवार को नूंह स्थित पटेल वाटिका में इसी माह 23 जनवरी को नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 125 वीं जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में मनाए जाने और इसकी तैयारियों को लेकर ग्राम प्रमुख व वार्ड प्रमुखों को संबोधित कर रहे थे।

Read Also: 36 Lakh Ponds Will be Developed: 36 लाख की लागत से तालाब होंगे मॉडल पोंड के रूप में विकसित

कांग्रेसी केवल इंदिरा गांधी एयरपोर्ट से चढ़कर राजीव गांधी एयरपोर्ट पर उतरने तक सीमित रहे OP Dhankar Against Congress

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष चौधरी ओमप्रकाश धनखड़ ने आरोप लगाते हुए कांग्रेस को शहीदों का अपमान व भेदभाव करने वाली पार्टी करार दिया। ओमप्रकाश धनखड़ ने कहा कांग्रेसी केवल इंदिरा गांधी एयरपोर्ट से चढ़कर, राजीव गांधी एयरपोर्ट पर उतरने तक सीमित रहे। उन्होंने कहा कोलकता में नेता जी सुभाषचंद्र बोस के नाम पर एयरपोर्ट का नाम रखने का काम अटल सरकार ने किया तो पोर्ट बलेयर एयरपोर्ट का नाम वीर सावरकर के नाम पर रखने का काम भी भाजपा सरकार ने किया।

Read Also: MOU will be signed in Himachal ana Haryana on 21 Jan: 21 को हिमाचल-हरियाणा में एमओयू साइन होगा: धूमनसिंह

कांग्रेस ने कभी भी वाइपर टापू का इतिहास में जिक्र नहीं किया OP Dhankar Against Congress

धनखड़ ने कहा कांग्रेस सरकार ने कभी भी वाइपर टापू का इतिहास में जिक्र नहीं किया। यह वही टापू है जहां पर हमारे देश के क्रांतिकारियों को लाकर फांसी दी जाती थी। इसमें एक चैन गैंग जेल बनाई हुई थी जिसमें सात-सात लोगों को बांधकर रखा जाता था। इसी टापू पर शेरअली अफरीदी को वायसराय द्वारा फांसी दी गई थी। यहीं कई राजाओं को रखा गया था। उन्होंने इसी टापू का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस को यहां राष्ट्रीय स्मारक बनाना चाहिए था, लेकिन उन्होंने इसे मलेशिया की एक कंपनी को 58 करोड़ में होटल खोलने को दे दिया था, लेकिन भाजपा के द्वारा इसका पुरजोर विरोध करने पर इसे रद्द किया गया।

Read Also: दीदी लता मंगेशकर के गाए गीतों को संख्या में नहीं बांधा जा सकता : Lata Mangeshkar Melody Songs List

हिंदुस्तानियों को देश की मिट्टी भी नसीब नहीं होने देते थे अंग्रेज OP Dhankar Against Congress

उन्होंने जिक्र करते हुए कहा कि शुरू में अंग्रेज हिंदुस्तानियों को देश की मिट्टी भी नसीब नहीं होने देते थे। वो देश के लिए आवाज उठाने वाले रणबाकुंरों को फांसी लगाकर समुंद्र में फेंक दिया करते थे। जब इसका विरोध हुआ तो अंग्रेजों ने जेल बनाने का फैसला लिया। सेलुलर जेल में कभी सात बैरक हुआ करते थे, लेकिन कांग्रेस ने इनको स्मारक न बनाकर उस पर एक अस्तपाल का निर्माण करा दिया। अटल जी की सरकार ने इसे स्मारक का रुप देने का काम किया तो यहां शहीदों की याद में अमर ज्योति जलाई गई।

READ ALSO : कभी सीमा पर सैनिकों में भरा जोश तो किसी की बह गई अश्रुधारा : Lata Mangeshkar Career

READ ALSO : परिवार बोला- कोरोना को भी गीत सुना देंगी स्वर कोकिला : Lata Mageshkar Updates

Read Also: अब ठीक हैं लता मंगेशकर, डॉक्टरों ने जारी किया हेल्थ अपडेट Lata Mangeshkar Health Update

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular