Indian Diplomate on Nijjar Killing: कनाडा में भारत के उच्चायुक्त ने निज्जर हत्याकांड में मांगे सबूत

0
122
Indian Diplomate on Nijjar Killing
कनाडा में भारत के उच्चायुक्त संजय कुमार वर्मा।

Aaj Samaj (आज समाज), Indian Diplomate on Nijjar Killing, ओटावा: कनाडाई प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारत की कथित संलिप्तता के बयान से दोनों देशों में जारी तकरार के बीच कनाडा में भारत के उच्चायुक्त संजय कुमार वर्मा ने नई दिल्ली के रुख को दोहराया है। एक साक्षात्कार में उन्होंने ओटावा से निज्जर हत्याकांड में ट्रूडो के आरोपों का समर्थन करने वाले सबूत पेश करने को कहा है। भारतीय उच्चायुक्त ने कहा कि निज्जर की हत्या में भारत की खुफिया एजेंसी के संलिप्तता के आरोप में कनाडा या उसके सहयोगियों द्वारा एक भी सबूत पेश नहीं किया गया है।

ट्रूडो के बयानों ने कनाडाई जांच को प्रभावित किया

संजय कुमार वर्मा ने कहा कि पीएम ट्रूडो के सार्वजनिक बयानों ने कनाडाई जांच को प्रभावित किया है। उन्होंने जोर देकर कहा, इस मामले में हमें जांच में मदद के लिए कोई विशेष या प्रासंगिक जानकारी उपलब्ध नहीं कराई गई है। भारतीय उच्चायुक्त ने कहा, राजनयिकों के बीच की बातचीत को संरक्षित किया जाता है। इन्हें अदालत में सबूत के तौर पर उपयोग नहीं किया जा सकता है। उन्होंने मुझे लगता है कि यह नफरत फैलाने वाला भाषण है और हिंसा को उकसाने वाला है।

संजय ने अपनी सुरक्षा को लेकर भी चिंता व्यक्त की

उन्होंने एक साक्षात्कार में अपनी सुरक्षा को लेकर भी चिंता व्यक्त की है। हालांकि उन्होंने बताया, उन्हें धमकियों के वजह से रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस (आरसीएमपी) सुरक्षा दी गई है। आरोपों पर सवाल खड़े करते हुए उन्होंने कहा, सबूत कहां हैं। जांच के नतीजे कहां है। बता दें भारत ने आरोपों को बेतुका और प्रेरित कहकर खारिज कर दिया था।

कनाडा ने भारत से 41 राजनयिकों को वापस बुला लिया था

भारत द्वारा एक कनाडाई राजनयिक को निष्कासित कर दिया था। साथ ही, भारत के राजनयिक ताकत में समानता पर अपनी चिंताओं व्यक्त करने के बाद कनाडा ने भारत से 41 राजनयिकों को वापस बुला लिया था। कनाडा ने चंडीगढ़, मुंबई और बेंगलूरू वाणिज्य दूतावासों में अपनी वीजा और काउंसलर सेवाएं भी रोक दीं।

यह भी पढ़ें :

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE