Accident Case :तेज रफ्तार वाहन की टक्कर से घायल व्यक्ति ने अस्पताल जाते समय तोड़ा दम

0
129
घायल व्यक्ति ने अस्पताल जाते समय तोड़ा दम
घायल व्यक्ति ने अस्पताल जाते समय तोड़ा दम

Aaj Samaj, (आज समाज),Accident Case ,करनाल,24 मई, इशिका ठाकुर:

स्कूटी पर घर से निकले 46 वर्षीय कृष्ण कुमार को चिड़ाव बस अड्डे पर तेज़ रफ़्तार इनोवा गाड़ी टक्कर मार फरार, हॉस्पिटल ले जाते वक्त व्यक्ति ने रास्ते में तोड़ा दम

घायल व्यक्ति ने अस्पताल जाते समय तोड़ा दम

करनाल में तेज रफ्तार वाहनों का कहर रुकने का नाम नहीं ले रहा , जिसमे रोजाना लोगों ने अपनी जान गवा रहे हैं . ताजा मामला करनाल जिले के चिड़ाव गांव से सामने आया है जहां स्कूटी सवार 46 वर्षीय कृष्ण कुमार को काले रंग की तेज रफ्तार इनोवा गाड़ी ने टक्कर मार दी. जिसमें कृष्ण कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए और उसको ग्रामीणों के जब तक उपचार के लिए हॉस्पिटल पहुंचाया तब तक रास्ते में उसकी मौत हो गई. तेज रफ्तार इनोवा गाड़ी टक्कर मारकर मौके से फरार हो गई . पुलिस को सूचना मिलते ही पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया और कार्रवाई शुरू कर दी.

मृतक कृष्ण कुमार के परिजन रमेश कुमार ने बताया कि कृष्ण कुमार एक फैक्ट्री में काम करके अपने परिवार का गुजर बसर कर रहा था. और आज सुबह वह स्कूटी लेकर किसी काम से अपने गांव चिड़ाव के बस अड्डे पर गया हुआ था, तभी स्टेट हाईवे एक काले रंग की तेज रफ्तार इनोवा गाड़ी करनाल की तरफ से जो कृष्ण कुमार को टक्कर मारकर असंध जींद की तरफ चली गई . गाड़ी चालक ने रुक कर घायल व्यक्ति की हालत देखने की बजाय वहां से गाड़ी भगा कर फरार हो गया. वहां पर मौजूद लोगों ने कृष्ण कुमार को इलाज के लिए हॉस्पिटल में पहुंचाने की कोशिश की लेकिन उन्होंने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. जिसके सूचना पुलिस को दी गई . ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि उनके गांव से होते हुए स्टेट हाईवे निकला हुआ है जहां पर अक्सर तेज रफ्तार वाहन का कहर देखने को मिलता है .

ग्रामीणों ने कई बार शिकायत दी है कि चिढ़ाव गांव के बस अड्डे पर स्टेट हाईवे पर ब्रेकर बनाए जाए

पिछले 1 महीने में एक करीब वहां पर चार एक्सीडेंट हो गए हैं जिसे पिछले सप्ताह भी एक गाड़ी नहीं तीन छोटे बच्चों को कुचल दिया था जिसमें से 1 बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई थी . उसे पिछले सप्ताह भी वहां पर एक तेज रफ्तार वाहन ने एक महिला को टक्कर मार दी थी जिसका बच्चा अभी भी हॉस्पिटल में चल रहा है. ग्रामीणों ने कहा कि जिला प्रशासन और जिला उपयुक्त के पास गांव के सरपंच सहित ग्रामीणों ने कई बार शिकायत दी है कि चिढ़ाव गांव के बस अड्डे पर स्टेट हाईवे पर ब्रेकर बनाए जाए ताकि वहां पर जो तेज रफ्तार वाहन गुजरते हैं उन की स्पीड कम हो सके और कोई हादसा ना हो. लेकिन पिछले दो महीनों में करीब चार से पांच हादसे होने के बावजूद भी प्रशासन ने इस पर कोई संज्ञान नहीं लिया जिसकी वजह से आज एक बार फिर गाँव के व्यक्ति कृष्ण कुमार की तेज रफ्तार वाहन की वजह से जान चली गई. कृष्ण कुमार के दो बेटे हैं जो अभी पढ़ाई कर रहे हैं. परिवार की रोजी रोटी के लिए कृष्ण कुमार फैक्ट्री में काम कर के परिवार का गुजर-बसर कर रहा था. इस हादसे की वजह से जहां परिवार में मातम छाया हुआ है तो वहीं ग्रामीणों में प्रशासन के खिलाफ काफी रोष भी है.

जांच अधिकारी ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि एक्सीडेंट होने के बाद हॉस्पिटल ले जाते समय कृष्ण कुमार नामक व्यक्ति की मौत हो गई पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी हाउस भिजवा दिया है. जहां उसका पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को शव सौंप दिया जाएगा. परिजनों के बयान दर्ज करके मामले की आगामी कार्रवाई की जा रही है. वही जिस गाड़ी ने यह एक्सीडेंट किया है उसकी जानकारी जुटाने के लिए आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं ताकि आरोपी इनोवा गाड़ी चालक की जल्द पहचान होकर गिरफ्तारी की जा सके.

यह भी पढ़ें : Gujarat High Court: गुजरात में धीरेंद्र शास्त्री के कार्यक्रमों के खिलाफ याचिका, गुजरात हाईकोर्ट ने जल्द सुनवाई से किया इंकार

यह भी पढ़ें : Karnal News संदिग्ध परिस्थितियों में गंदे नाले से मिला युवक का शव, जोमेटो कंपनी में डिलीवरी बॉय का काम करता था युवक

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE