Homeराज्यपंजाबबरनाला की कुलवीर कौर, ट्रेनी पायलट को मिली पहली शहीद भगत सिंह...

बरनाला की कुलवीर कौर, ट्रेनी पायलट को मिली पहली शहीद भगत सिंह पंजाब स्कॉलरशिप। 

अखिलेश बंसल, बरनाला
  • राज्यसभा सांसद विक्रमजीत सिंह ने कुलवीर कौर, ट्रेनी पायलट को प्रदान की स्कॉलरशिप के 5.80 लाख रुपये की राशि
  • पंजाब के योग्य बच्चों को भविष्य में और छात्रवृत्ति दी जाएगी: विक्रमजीत सिंह

ट्रेनी पायलट को स्कॉलरशिप के 5.80 लाख रुपये की राशि मिली

पंजाब में अप्रतिम प्रतिभा है, जो आर्थिक अभाव की वजह से निखर नहीं पाती, प्रतिभावान युवाओं को पेशेवर करियर बनाने और अपना भविष्य संवारने के लिए छात्रवृत्ति के रूप में बस थोड़ी सी मदद की आवश्यकता है, उसके बाद वे स्वयं सफलता प्राप्त कर लेंगे । पंजाब के युवाओं को उनके सपनों को पूरा करने में सहायता करने के उद्देश्य से हाल ही में शुरू की गई “शहीद भगत सिंह पंजाब स्कॉलरशिप फंड” इस पूरी प्रक्रिया में एक अहम योगदान निभाएगी । यह बात राज्यसभा सांसद एवं समाजसेवी पद्मश्री विक्रमजीत सिंह ने सुश्री कुलवीर कौर को 5.80 लाख (पांच लाख अस्सी हजार रुपये मात्र) मूल्य का शाहिद भगत सिंह स्कॉलरशिप फंड का पहला चेक देते हुए कही । मालूम हो की कुलवीर कौर ट्रेनी पायलट का पूरा कोर्स कर चुकी है अब वे इस आर्थिक मदद से पुणे स्थित एक शिक्षण संस्थान से प्रशिक्षण लेकर, दो महीने के भीतर एक वाणिज्यिक पायलट होगी। वह उन सभी गरीब योग्य छात्रों के लिए रोल मॉडल होंगी जो धन की कमी के कारण अपने सपनों को पूरा नहीं कर पाते हैं।
श्री विक्रमजीत ने बताया कि बरनाला की रहने वाली सुश्री कुलवीर एक बेहद गरीब घर से आती है । उनके पिता एक गरीब किसान हैं और मां आंगनबाडी कार्यकर्ता।

कुलवीर कौर को मिली पहली शहीद भगत सिंह पंजाब स्कॉलरशिप

विक्रमजीत सिंह द्वारा वित्त पोषित यह छात्रवृत्ति कोष पंजाब विधानसभा के अध्यक्ष श्री कुलतार सिंह संधवान द्वारा शुरू किया गया था, जो इस छात्रवृत्ति कोष के अध्यक्ष है और श्री मीत हायर उपाध्यक्ष है। यह पहली छात्रवृत्ति है जो सुश्री कुलवीर कौर को उनके पेशेवर करियर के लिए दी जा रही है। ।
जल्द ही कमर्शियल पायलट बनने के लिए उन्हें बधाई देते हुए श्री विक्रमजीत सिंह ने कहा कि न केवल हम उन्हें यह स्कॉलरशिप दे रहे हैं बल्कि हम उन्हें उनके व्यक्तित्व विकास और अंग्रेजी भाषा में क्षेष्ठता के लिए भी तैयार करेंगे ताकि कल जब पंजाब की यह बेटी जब अपने घरेलू यां अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से एयरबस उड़ाएगी तो पूरे सूबे को उसपर गर्व हो । श्री विक्रमजीत ने यह भी बताया की पहले वह अपने भविष्य के लिए कनाडा जा रही थी लेकिन हमारे कहने पर उसने यहां कमर्शियल पायलट कोर्स शुरू किया। हम सभी को उन पर गर्व है और हम उनके लंबे और सफल करियर की कामना करते हैं।
वहीं श्री विक्रमजीत सिंह को धन्यवाद देते हुए कुलवीर कौर ने कहा कि मैंने प्रशिक्षु पायलट के रूप में 150 घंटे की उड़ान पूरी कर ली है और 50 घंटे की उड़ान के बाद मैं वाणिज्यिक पायलट बनूंगी। मेरा पायलट बनने का सपना था जो अब श्री विक्रमजीत सिंह द्वारा शुरू किए गए इस छात्रवृत्ति कोष के तहत पूरा हो गया है। उन्होंने पंजाब के अन्य छात्रों से भी कनाडा जाने और वहां बसने का अपना मन बदलने की अपील की। इसके बजाय सभी युवाओं को इस तरह के फंड का लाभ उठाना चाहिए और अपने करियर को सफलतापूर्वक आकार देना चाहिए।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular