Homeहरियाणायमुनानगरसब्जियां हुईं तीखी, टमाटर भी लाल

सब्जियां हुईं तीखी, टमाटर भी लाल

प्रभजीत सिंह लक्की, यमुनानगर :

टमाटर नें सब्जियों का स्वाद फीका कर दिया। बारिश के चलते सब्जियों के दाम ऊंचाई पर पहुंच गए हैं। सब्जियां महंगी होने की वजह से रसोई घर का जायका बिगड़ गया है। बढ़ी कीमती के कारण टमाटर और लाल हो गया है। यही वजह है कि कइयों की थाली में सलाद से और सब्जी से टमाटर गायब हो गया है।

बढ़ी कीमत के कारण गरीबों की थाली तो सब्जियां नदारद हो गई हैं। वहीं महिलाओं का कहना है कि चंद ही दिनों में सब्जियों की कीमतों में काफी तेजी आई हैं, जिस कारण गरीब लोगों ने सब्जियां खाना बंद ही कर दिया है। उन्होंने कहा कि पहले इन दिनों सब्जियों के दाम काफी कम होते थे और हर कोई सब्जियों का इस मौसम में भरपूर इस्तेमाल करता था। मौजूदा समय में टमाटर के दाम ही इतने बढ़ गए हैं कि लोगों ने टमाटर का इस्तेमाल करना ही बंद कर दिया है।

पहाड़ों पर हो रही बारिश के चलते बढ़े सब्जियों के रेट

वहीं, सब्जी विक्रेता ने बताया कि टमाटर हिमाचल के कुल्लू व सोलन से आ रहा है और आजकल पहाड़ों पर बारिश होने की वजह से मंडियों में कम टमाटर आने से रेट में इजाफा हुआ है। उन्होंने बताया कि सब्जियों के दाम बढ़ने से कारोबार भी प्रभावित हो रहा है। पहले एक दिन में खाली टमाटर ही साठ से अस्सी किलोग्राम तक बिक जाता था। अब मुश्किल से पांच से सात किलोग्राम ही बिक रहा है। पीछे से ही सब्जियां महंगी आ रही हैं तो उन्हें मजबूरन महंगे दामों पर बेचना पड़ रहा है।

बीते सप्ताह तक जो सब्जी एक महीने पहले 10-15 रुपए प्रतिकिलो मिल जाती थी वह अब 30 से लेकर 60 रुपए किलो तक बिक रही है। वहीं महंगाई के कारण टमाटर तो लाल ही हो गया है। 60 से लेकर 70-80 रुपए प्रति किलो टमाटर के दाम पहुंचने के कारण अब यह थाली से टमाटर नदारत हो गया है। लोगों ने इसके स्थान पर अमचूर, इमली का उपयोग करना शुरू कर दिया है। बारिश होने से हरी सब्जियों सहित लगभग सभी सब्जियों के दाम मात्र एक सप्ताह में बढ़ गए हैं।

यह है सब्जियों के रेट प्रति किलो

  • टमाटर 60 से 80
  • मटर 150 से 170
  • गोबी 60 से 80
  • शिमला मिर्च 60 से 80
  • धनिया 100 से 150
  • बंद गोभी 30 से 40
  • मूली 20 से 30
  • खीरा 20 से 30

ये भी पढ़ें : सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मनाया गया ममता दिवस

ये भी पढ़ें : पोषण माह के तहत गांव कुंजपुरा में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular