Homeहरियाणायमुनानगर12 करोड रुपए की लागत से तैयार होंगी सेक्टर 15,17,18 की सड़कें...

12 करोड रुपए की लागत से तैयार होंगी सेक्टर 15,17,18 की सड़कें : चौ. कंवरपाल गुर्जर

प्रभजीत सिंह लक्की, यमुनानगर :

हरियाणा सरकार में शिक्षा वन व पर्यटन मंत्री कंवरपाल ने जानकारी देते हुए बताया कि जगाधरी विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपए की लागत से विकास कार्य चल रहे हैं। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि सेक्टर 18 की मेन सड़क 4 करोड़ 1 लाख रुपये व अंदर की सड़कें 2 करोड़ 70 लाख रुपये की लागत से तैयार होंगी। उन्होंने बताया कि हुड्डा सेक्टर 17 में 55 लाख रुपए की लागत से एससीओ के सामने पक्का प्लेटफार्म बनाया जाएगा। सेक्टर 15 में 80 लाख रुपए की लागत से सड़कों का निर्माण कार्य किया जाएगा, सेक्टर 18 में 96 लाख रुपए की लागत से शॉपिंग सेंटर बनाया जाएगा ,सेक्टर 18 में नगर निगम के सौजन्य से 1 करोड़ 55 लाख रुपए की लागत से नई सड़क बनाई जाएगी, सेक्टर 17 में 1 करोड़ 20 लाख रुपए की लागत से सड़कों का निर्माण किया जाएगा, 1 करोड़ रुपए की लागत से नए जिमों का निर्माण किया जा रहा है जिससे शहरवासियों को फिटनेस कसरत करने में व व्यायाम करने में सुविधा होगी।

अक्टूबर माह में सड़कों के निर्माण कार्य शुरू

शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने बताया अधिकांश सड़कों व अन्य विकास कार्यों के टेंडर लग चुके हैं जो कि 5 अक्टूबर को खुल जाएगें और टेंडर खुलते ही 10 से 15 दिन के अंदर इन सैक्टरों में सड़क बनाने का व अन्य विकास कार्य शुरू कर दिए जाएगें। उन्होंने कहा कि हरियाणा की भाजपा सरकार के पास विकास कार्यों के लिए धन की किसी प्रकार की कोई भी कमी नहीं है, अभी कुछ समय पहले मानसून सीजन चल रहा था तो मानसून सीजन में सड़कों पर काम नहीं लगाया जा सकता लेकिन अब मानसून सीजन खत्म होने के कगार पर है और इसलिए अक्टूबर माह में सड़कों के निर्माण कार्यो में तेजी लाई जाएगी।

सीवरेज की व्यवस्था को सुधारा जाएगा

शिक्षा मंत्री कंवरपाल कि इनमें से कुछ कार्यों के वर्क आर्डर भी जारी हो चुके हैं। इसके साथ-साथ जगाधरी शहर में अन्य विकास कार्य भी करवाए जा रहे हैं, पूरे जगाधरी शहर में सीवरेज की व्यवस्था को सुधारा जा रहा है। सीवरेज सिस्टम में पुराने छोटे पाईपों की जगह सीवरेज के बड़े पाईप बिछाए जा रहे हैं ताकि पानी की निकासी आसानी से हो सके। इसके साथ-साथ जगाधरी शहर में पीने के पानी के टयूबवेलों की संख्या में भी लगातार वृद्धि की जा रही है ताकि शहर वासियों को पीने का साफ स्वच्छ पानी आसानी से उपलब्ध हो सके। उन्होंने बताया कि जगाधरी शहर में पुराने हो चुके ट्रांसफार्मर व कंडम बिजली की तारों को बदलकर नए ट्रांसफार्मर व बिजली की मोटी तारे डाली जा रही हैं जिससे शहर वासियों को काफी सुविधा मिल रही है।

ये भी पढ़ें : स्वास्थ्य विभाग का लक्ष्य 2030 तक रेबीज से मृत्यु दर को शून्य करना: डॉ. प्रतिभा वर्मा

ये भी पढ़ें : इंतकाल निपटाने में करनाल जिला प्रदेश में दूसरे स्थान पर : अनीश यादव

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular