Homeहरियाणायमुनानगरनासिक में प्याज के व्यापार के नाम पर 64.50 लाख ठगे

नासिक में प्याज के व्यापार के नाम पर 64.50 लाख ठगे

प्रभजीत सिंह लक्की, यमुनानगर:

सेक्टर-17 थाना पुलिस ने महाराष्ट्र निवासी दानिश पठान, अरबाज, नावेद पठान पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। सेक्टर-17 निवासी सुमेर सिंह ने पुलिस को शिकायत दी है कि उसकी रादौर फार्मर्स प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड है। वहीं उसकी पत्नी के नाम हरियाणा एग्रो फोरेस्ट कंपनी साल 2008 से चल रही है।

व्यापार बढ़ाने के लिए आता है दानिश

दानिश पठान अपना व्यापार बढ़ाने के लिए यमुनानगर आता जाता रहता है। आरोपी ने उससे कहा कि नासिक में प्याज की अच्छी फसल होती है । बिजनेस कर अच्छा पैसा कमा सकते हैं । आरोपी की बातों में आकर वे अपने दोस्त राकेश त्यागी के साथ मई 2021 में नासिक गए । आरोपी ने उन्हें कहा कि वे पैसा निवेश करेंगे, उन्हें अच्छा मुनाफा होगा । आरोपियों ने उन्हें दोबारा बुलाया और तब उन्हें प्याज भंडारण के लिए गोदाम दिखाए । 60 हजार रुपए प्रति साल के किराए पर छह गोदाम बुक कराए । तब उन्होंने पैसे दे दिए । कुछ दिनों के बाद उन्होंने अपनी पत्नी की कंपनी के खाते से 10 लाख रुपए पठान के खाते में आरटीजीएस कर दिया, ताकि वे माल खरीद कर गोदाम में रखवा सके। इसी तरह से बाद में भी लाखों रुपए उन्हें दिए गए। कुल 65 लाख रुपए उन्हें दिए गए।

माल देखने के लिए नासिक भी गए

एक दिन वे माल देखने के लिए नासिक गए। वहां पर आरोपी ने उन्हें गोदाम दिखाए कि जो पैसा दिया गया था उससे यह माल खरीदा गया, लेकिन उन्होंने देखा कि जो माल रखा था वह 65 लाख रुपए का नहीं था। आरोपी ने कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया। 13 जुलाई 2021 को पठान चार लोगों के साथ यमुनानगर आया। उन्होंने खरीदे गए माल के बिल मांगे, लेकिन आरोपी नहीं दिखा पाया। आरोपी ने पैसे वापस करने की बात कहकर 30 जुलाई 2021 को 50 हजार रुपए उसकी पत्नी की कंपनी के खाते में डाले। आरोपी ने कहा था जो प्याज खरीदकर नासिक में स्टोर किए गए हैं उन्हें यमुनानगर भेज देंगे। यहां पर वे अपने हिसाब से उन्हें बेच सकेंगे, लेकिन जो कोल्ड स्टोर उन्हें दिखाए गए वहां पर कोई प्याज नहीं था। इस शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज किया है।

ये भी पढ़ें : हरियाणा के कैथल में दर्दनाक सड़क हादसा हुआ, जिसमे दो लोगो की मौत हो गई है

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular