Homeहरियाणारोहतककौशल विकास रोजगार निगम को बंद कर युवाओं को पक्का रोजगार दे...

कौशल विकास रोजगार निगम को बंद कर युवाओं को पक्का रोजगार दे सरकार: जयकुॅवार दहिया Skill Development Employment Corporation

रोहतक, 23 अप्रैल 2022:

Skill Development Employment Corporation: सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा द्वारा लंबे समय से मांग की जा रही है कि सभी सरकारी विभागों में लाखों लाख पड़े खाली पदों पर पक्का रोजगार देकर युवाओं को नौकरी का प्रबंध किया जाए, अपितु हरियाणा सरकार लंबे समय से सरकारी विभागों में कार्यरत युवाओं के साथ भद्दा मजाक करते हुए जो कर्मचारी समान काम समान वेतन के आधार पर शिक्षा स्वास्थ्य, सिंचाई, बिजली, रोडवेज हरियाणा टूरिजम, हुड्डा, आदि सरकारी विभागों में कार्यरत हैं उन्हें भी आज कौशल विकास रोजगार निगम के नाम से रजिस्ट्रेशन कराने की बात करते हुए अनिश्चित कच्ची नौकरी करने के लिए मजबूर कर रही है ।

Read Also : छत से गिरने के कारण बुजुर्ग की मौत Elderly Dies After Falling From Roof

हरियाणा के लाखों युवाओं को पक्का रोजगार दिया जा सकता है (Skill Development Employment Corporation)

आज सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा जिला कमेटी द्वारा रोहतक मुख्यालय से बयान जारी करते हुए जिला प्रधान कर्मवीर सिवाच, वरिष्ठ उपप्रधान शिवकुमार, जिला सचिव जयकुॅवार दहिया एवं जिला कोषाध्यक्ष जोगिंदर दलाल ने संयुक्त बयान जारी करते हुए सरकार द्वारा बार-बार कौशल विकास रोजगार निगम के नाम से रजिस्ट्रेशन कराने की मुहिम को सिरे से नकारते हुए कहा कि यह युवाओं के साथ बहुत बड़ा धोखा है एवं हरियाणा सरकार से मांग की जाती है कि सरकारी विभागों का निजीकरण बंद करते हुए हरियाणा के लाखों युवाओं को पक्का रोजगार दिया जा सकता है। जो पूर्ण रूप से पुरानी पेंशन के दायरे में आता है और एनपीएस को बंद किया जा सकता है ।

 2400 कर्मचारियों को नौकरी से किया बाहर (Jaikuwar Dahiya)

Skill Development Employment Corporation
Skill Development Employment Corporation

वहीं स्वास्थ्य विभाग में लाखों पद खाली होने के बावजूद भी कोविड-19 में कार्यरत लगातार दो वर्ष की नौकरी करने के पश्चात 1 अप्रैल 2022 को लगभग 2400 के आसपास कर्मचारियों को नौकरी से बाहर करके हरियाणा सरकार द्वारा कर्मचारियों के साथ जले पर नमक छिड़कने का काम किया गया जिसे सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा किसी भी सूरत में सहन नहीं करेगा एवं शीघ्र ही राज्यव्यापी कार्यकारिणी की मीटिंग बुलाकर बड़े आंदोलन का ऐलान किया जाएगा। उससे पहले 1 मई दिवस को भी कर्मचारी मजदूर युवा छात्र किसान महिला सभी एकत्रित होकर *रोजगार बचाओ, विभाग बचाओ पैंशन बचाओ, सम्मान बचाओ* का नारा लेते हुए शहर में प्रदर्शन करके जिला उपायुक्त के माध्यम से हरियाणा एवं केंद्र की सरकार को कुंभकर्णी निद्रा से जगाने का कार्य करेंगे।

तमाम विभागों के कर्मचारी धरना देते हुए सरकार के आगे रखेंगे अपनी मांग (Skill Development Employment Corporation)

सरकार फिर भी नहीं चेती तो आने वाली 28 मई को तमाम विभागों के कर्मचारी जिला उपायुक्त कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन करके धरना देते हुए अपनी मांग मुद्दों को जनता के बीच में रखते हुए सरकार तक अपनी आवाज को पहुंचाने का काम करेंगे। इसमें मुख्य रूप से पुरानी पेंशन स्कीम बहाल हो, एनपीएस पूर्ण रुप से बंद हो, ठेका प्रथा बंद की जाए ,ठेके के अधीन कार्यरत कर्मचारियों को जब तक नियमित नहीं किया जाता समान काम समान वेतन दिया जाए एवं विभागीय पैरोल बेस पर वेतन देने की प्रक्रिया अपनाई जाए, तमाम विभागों में कार्यरत तकनीकी वेतनमान दिया जाए, एक्स ग्रेशिया पॉलिसी पूर्ण रुप से लागू की जाए, मेडिकल कैशलेस सुविधा का लाभ दिया जाए, जोखिम भरी ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों को ₹5000 जोखिम भत्ता दिया जाए ,अनेकों विभागों में पिछले कई वर्षों से बकाया दिवाली का बोनस दिया जाए, आदि आदि मांगों को लेकर जिला उपायुक्त कार्यालय पर धरना दिया जाएगा इसमें होने वाली क्षति पूर्ति की जिम्मेवार खुद हरियाणा सरकार होगी।

सरकारी भर्ती क्यों नही करवाती सरकार (Skill Development Employment Corporation)

जारीकर्ता जयकुॅवार दहिया जिला सचिव सर्वहरियाणा कौशल रोजगार योजना प्रदेश के बेरोजगार युवाओं के साथ मजाक लगता है, सरासर खिलवाड़ है। यदि सरकार प्रदेश के युवाओं को रोजगार देना ही चाहती है तो सरकारी भर्ती क्यों नही करवाती ? हम सरकार से पूछना चाहते है कि यदि किसी विभाग में जगह खाली है, पोस्ट वेकेंट है तो फिर बरोजगार युवाओं को रोजगार कौशल के माध्यम से न लेकर सीधी पक्की भर्ती करके अपना चुनावी वादा क्यों पूरा नहीं करती ? हरियाणा सरकार एक तरफ तो कह रही है कि हमारे पास पहले ही स्टाफ एक्सेस है और दूसरी ओर रोजगार कौशल के माध्यम से भर्तियां की जा रही हैं इसका सीधा सीधा मतलब यही होता है कि सरकार प्रदेश की जनता के साथ खिलवाड़ कर रही है।

बसें आने वाली है, ये झूठ आखिर कब तक चलेगा (Jaikuwar Dahiya)

एक तरफ तो हरियाणा रोडवेज में कार्यरत 2016 के चालकों को यह कहकर पक्का नहीं किया जा रहा कि रोडवेज में स्टाफ एक्सेस है , तो सरकार आप जनसंख्या के अनुपात में बसें ले कर आओ,आपने बार बार वादा भी किया था, कि बसे लाई जा रही है,बसें आने वाली है , ये झूठ आखिर कब तक चलेगा ?

सरकार ने फिर से वादा खिलाफी का एक और नमूना पेश किया है (Jaikuwar Dahiya)

अभी कुछ दिन पहले हुई हड़ताल के दौरान सरकार ने बयान दे कर कहा था कि रोडवेज में कार्यरत 2016 के चालकों को रोजगार कौशल निगम में नहीं डाला जाएगा लेकिन अभी हाल में इन चालकों को बिना पूछे या बताए रोजगार कौशल में डाल दिया गया , इन चालकों के पास मोबाइल पर मैसेज आ रहे है कि रोजगार कौशल में आपका रजिस्ट्रेशन कर दिया गया है ।ये सीधे तौर पर धोखा है ।

कच्चे कर्मचारियों को पक्का करो (Jaikuwar Dahiya)

हम सरकार को याद दिलाना चाहते है कि आपकी जनता और कर्मचारियों के प्रति बेहद जिम्मेवारियां है ,झूठ और धोखे की राजनीति न करके आप सरकारी बसे लाएं, कच्चे कर्मचारियों को पक्का करो , जनता को प्राइवेट की बजाय बेहतर और सुरक्षित परिवहन सुविधा के लिए आप वचनबद्ध है उसे निभाएं ।सरकारी भर्तियां करो,पक्का रोजगार दो

Read Also :  बारहवीं के बाद बायोमेडिकल साइंसेज में पाएं उज्जवल भविष्य, हकेवि में स्नातक पाठ्यक्रमों के लिए सीयूईटी 2022 के अंतर्गत दाखिले की प्रक्रिया जारी Bright Future In Biomedical Sciences

Read Also : पुस्तक ज्ञान के भंडार के साथ हमारी सच्ची मित्र :डॉ जयपाल शर्मा Dr. Jaipal Sharma

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular