Homeहरियाणामहेंद्रगढ़सांस्कृतिक कार्यक्रम व दीपोत्सव के साथ जिला स्तरीय गीता महोत्सव का समापन

सांस्कृतिक कार्यक्रम व दीपोत्सव के साथ जिला स्तरीय गीता महोत्सव का समापन

नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़:

  • चामुंडा देवी मंदिर में हवन यज्ञ, गीता वैश्विक पाठ के बाद निकाली शोभायात्रा
  • सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने की मुख्यातिथि के तौर पर शिरकत

प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने कहा कि हरियाणा सरकार गीता के संदेश को दुनिया के हर कोने तक पहुंचाने का कार्य कर रही है। यह हमारे लिए गर्व और गौरव की बात है कि आजादी के अमृत काल में श्रीमद्भागवत गीता का आलोक पूरी दुनिया में फैल रहा है।

श्री यादव आज आईटीआई मैदान में अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2022 के जिला स्तरीय कार्यक्रम के अंतिम दिन आयोजित सांस्कृतिक संध्या एवं पारितोषिक वितरण कार्यक्रम में संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम के अंत में गीता आरती के साथ दीपोत्सव का आयोजन किया गया। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने कहा कि गीता में निहित शांति सद्भाव और भाईचारे का संदेश सार्वभौमिक है। अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव धार्मिक, सांस्कृतिक, कला एवं संस्कृति का एक बहुत बड़ा प्लेटफार्म बन गया है। इतना बड़ा आयोजन हर हरियाणा वासी के लिए गर्व की बात है।

श्री यादव ने कहा कि गीता में कर्म करने के साथ-साथ आचरण, ज्ञान व आस्था के उचित संतुलन की बात कही है। भारतीय परंपरा में इन सभी के संतुलन के साथ जीवन में निरंतर कर्म करने के साथ-साथ आगे बढ़ने की बात कही गई है।कार्यक्रम के अंत में गीता महोत्सव में भाग लेने वाले विभिन्न स्कूली तथा कालेज के बच्चों को सम्मानित किया। वही विभिन्न सामाजिक संगठनों का भी सम्मान किया गया। इस मौके पर उपायुक्त डॉ. जयकृष्ण आभीर व उनकी धर्मपत्नी डॉ. ज्योति आभीर, एसडीएम कनीना सुरेंद्र सिंह, नगराधीश डॉ. मंगलसेन के अलावा अन्य अधिकारीगण व गणमान्य लोग मौजूद थे।

चामुंडा देवी मंदिर से आईटीआई मैदान तक निकाली शोभायात्रा

अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव 2022 के तहत आज चामुंडा देवी मंदिर से शोभा यात्रा निकाली गई। शहर के विभिन्न मार्गो से होते हुए यह यात्रा आईटीआई मैदान में पहुंची। इस यात्रा का शहर में नागरिकों ने भव्य स्वागत किया। यात्रा के दौरान पूरा नारनौल शहर भक्तिमय दिखाई दिया। सभी नागरिक कृष्ण भक्ति में डूबे नजर आए। शोभा यात्रा से पहले चामुंडा देवी मंदिर में हवन यज्ञ व वैश्विक गीता पाठ का आयोजन किया गया। यहां पर जियो गीता परिवार की ओर से प्रसाद वितरण भी किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर उपायुक्त डॉ. जयकृष्ण आभीर मौजूद थे।

कार्यक्रम में शहर के विभिन्न सामाजिक संस्थाओं व संगठनों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। तीन दिन तक चले इस कार्यक्रम में पूरा जिला गीतामयी रहा। इस तीन दिवसीय कार्यक्रम में जिओ गीता परिवार व श्री कृष्ण सेवा समिति तथा सिख समाज के नागरिकों का सहयोग सराहनीय रहा। इस मौके पर नगराधीश डॉ. मंगलसेन, डिप्टी डायरेक्टर ऊषा रानी, श्री कृष्ण कृपा सेवा समिति के प्रधान सुरेंद्र यादव, श्री श्याम आस्था मंडल से चेतन जिंदल, युवा चेतना समिति से साहिल मित्तल, श्री बांके बिहारी समिति से मयंक गर्ग, रोड सेफ्टी ऑर्गेनाइजेशन से संजय शर्मा, जीओ गीता से घनश्याम गर्ग व डा. अशोक आहूजा, श्री बालाजी भक्त मंडल से सीताराम शर्मा, गुरु गोविंद सिंह सीनियर सेकेंडरी स्कूल के अध्यक्ष गुरमेल सिंह, सिख संगत से सुरजीत सिंह अरोड़ा, सिंह सभा गुरुद्वारा के अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह चावला, सुरेंद्र सिंह चावला, हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधन समिति के सदस्य तेजेंद्र पाल सिंह के अलावा अन्य गणमान्य नागरिक मौजूद थे।

हरियाणवी संस्कृति की झलक देखने को मिली

हरियाणवी लोक कला व विद्या के साथ आज आईटीआई मैदान में अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव 2022 का जिला स्तरीय कार्यक्रम धूमधाम से संपन्न हुआ। सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग तथा जिला प्रशासन की ओर से आयोजित इस कार्यक्रम में अंतिम दिन रंगारंग कार्यक्रम में हरियाणवी संस्कृति की झलक देखने को मिली। हरियाणा कला परिषद की ओर से आए लोक कलाकारों में जावेद एंड पार्टी ने – कृष्ण मुरारी घर आले सैं -रागनी गाकर सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। इसी प्रकार इकबाल मोहम्मद एंड पार्टी ने – घनश्याम तेरी बंसी पागल कर जाती है पर अपना कार्यक्रम पेश किया तो तालियों की गड़गड़ाहट से सभागार गूंज उठा।

कोरोना काल के बाद पहली बार इस तरह का बड़ा स्तर का सांस्कृतिक कार्यक्रम देख जिला वासी काफी उत्साहित नजर आए। सांस्कृतिक कार्यक्रम देखने के लिए आईटीआई मैदान में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा।

प्रदर्शनी में लोगों को मिला हैंड मेड आइटम खरीदने का मौका

आईटीआई में आयोजित जिला स्तरीय गीता महोत्सव में लगाई गई प्रदर्शनी के अवलोकन के दौरान प्रदेश के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ओमप्रकाश यादव ने कहा कि स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए इस तरह के प्रयास हमेशा किए जाने चाहिए।

उन्होंने एक-एक स्टाल पर जाकर स्वयं सहायता समूह द्वारा बनाए गए विभिन्न प्रकार के उत्पादों के बारे में जानकारी ली तथा उनसे उनकी मार्केटिंग के बारे में पूछा। वहीं दूसरी तरफ विभिन्न विभागों द्वारा सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में लगाई गई प्रदर्शनी को भी काफी सराहा गया। अंत में प्रदर्शनी में भाग लेने वाले सभी स्वयं सहायता समूह तथा विभागों के अधिकारियों को सम्मानित किया गया। इस बार आईटीआई में 30 से अधिक स्टाल लगाकर विभिन्न सामाजिक संगठनों तथा स्वयं सहायता समूह को मौका दिया गया था।

ये भी पढ़े: दांतों को सदैव स्वस्थ व स्वच्छ रखें : डॉ.पी.के.जैन

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular