Homeहरियाणाकरनालजश की हत्या पर कार्रवाई के लिए महापंचायत Mahapanchayat For Action On...

जश की हत्या पर कार्रवाई के लिए महापंचायत Mahapanchayat For Action On Jash’s Murder

इशिका ठाकुर, करनाल:
Mahapanchayat For Action On Jash’s Murder: गांव कमालपुर रोड़ान में पांच वर्ष के बच्चे की हत्या का मामला सुर्खियों में है। इस मामले में पुलिस अभी तह तक नहीं पहुंच पाई है। बुधवार देरशाम पुलिस ने दूसरी बड़ी कार्रवाई करते हुए हत्या के आरोप में 2 और महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया। इन महिलाओं को आज इंद्री कोर्ट में पेश किया जाएगा। ये दोनों आरोपी महिलाएं रिश्ते में जस की दादी और ताई बताई जा रही हैं।

महिलाओं पर हत्या में संलिप्तता का आरोप Mahapanchayat For Action On Jash’s Murder

इन दोनों आरोपी महिलाओं पर मृतक जश के शव को लापता करने और सुबूत के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप है। आज पीड़ित परिवार के लोगों ने करनाल के सेक्टर 12 स्थित पार्क में एक श्रद्धांजलि सभा के रूप में महापंचायत की। इस श्रद्धांजलि सभा में अन्य जिलों और प्रदेशों से भी लोग पहुंचे। उनका उद्देश्य मासूम को श्रद्धांजलि देने के साथ-साथ इस हत्या के मामले में जल्द से जल्द खुलासा करने की गुहार लगाना भी था।

महापंचायत में सर्वसम्मति से लिया फैसला Mahapanchayat For Action On Jash’s Murder

इस महापंचायत में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि पीड़ित परिवार के कुछ मुख्य सदस्य और समाज के गणमान्य व्यक्ति नीति बनाकर पुलिस प्रशासन से मुलाकात करें, जिससे कि हत्या के पीछे की पूरी कहानी का सच सबके सामने आ सके।

ये है पूरा मामला Mahapanchayat For Action On Jash’s Murder

5 अप्रैल की दोपहर को घर से दुकान पर खाने की चीज लेने गया 5 वर्षीय जश अचानक लापता हो गया। जिसको उठाने का एक बाबा पर शक जताया। बाबा का थैला काफी बड़ा था। सीसीटीवी की वीडियो से थैले के फुलाव, बाबा की रफ्तार को देखकर शक यकीन में बदल रहा था। शाम तक पुलिस ने बाबा को हिरासत में ले लिया। इंद्री पुलिस थाना में ले जाकर उससे पूछताछ की। बाबा के पास से जश का सुराग नहीं लगने ने  परिजनों ने करनाल में नेशनल हाईवे पर जाम लगा दिया।

40 मिनट तक लगा रहा था जाम Mahapanchayat For Action On Jash’s Murder

40 मिनट लगे जाम के दौरान नेशनल हाईवे पर लोगों को काफी परेशानी हुई। डीएसपी विजय देशवाल ने लोगों को समझाकर जाम खुलवाया और पुलिस की मदद करने के लिए ग्रामीणों को राजी किया। इसके बाद रात को ही पुलिस ने गांव कलामपुरा की नाकाबंदी करके हर घर की तलाशी ली। सिफ 8 से 10 घर ही बचे थे। जिनकी तलाश सुबह ली जानी थी।

परिवार की 3 सदस्यों को लिया था हिरासत में Mahapanchayat For Action On Jash’s Murder

कलामपुरा गांव में छह अप्रैल की सुबह करीब साढ़े पांच बजे कौशल्या अपने पशुओं को चारा डाल रही थी। इस दौरान उसकी छत पर कुछ गिरने की आवाज आई। उसने छत पर गिरने के बारे में पूछा तो पड़ोसन ने बताया कि जश यहां पर पड़ा है और चिल्लाने लगी। कौशल्या के घर के साथ जश के ताऊ राजेश का मकान लगता है। घटना के बाद पूरे गांव में मातम छा गया। इसके बाद एएसपी हिमांद्री कौशिक, फॉरेंसिंक टीम व अन्य पुलिस टीमें मौके पर पहुंची। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। उधर जश के चाचा ने अपने ताऊ के बेटे राजेश के परिवार के साथ खेत की जमीन को लेकर 3 महीने पहले के तकरार को बताया।

Also Read: सहारा परिवार की कंपनी के ब्रांच मैनेजर को 6 माह कैद

Also Read: महिला कांस्टेबल का दुष्कर्म का आरोप, लिव इन रिलेशन में रहता था युवक

Also Read: कार्डियक सर्जरी विभाग कर रहा बेहतरीन कम: डा.अनीता

Also Read: जिस्मफरोशी: 5 लड़कियां रेस्क्यू, पिता-दो बेटों पर केस

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular