Homeहरियाणाकुरुक्षेत्रडांडिया जैसी लोक संस्कृति को सहेजने की जरूरत: उमा

डांडिया जैसी लोक संस्कृति को सहेजने की जरूरत: उमा

इशिका ठाकुर, कुरुक्षेत्र :

नगर परिषद की निवर्तमान अध्यक्षा उमा सुधा ने कहा कि डांडिया जैसी लोक संस्कृति को सहेजने की निहायत जरुरत है। इस प्रकार की लोक संस्कृति को संरक्षित करने के लिए ही इस प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इस धर्मक्षेत्र कुरुक्षेत्र में समाजसेवी एवं लोक संस्कृति की प्रेमी दिव्यानी गोयल जैसे लोगों द्वारा लगातार संस्कृति को बचाने के प्रयास किए जा रहे है। इन प्रयासों की जितनी प्रशंसा की जाए, उतनी कम है।

बॉलीवुड डांडिया कार्यक्रम आयोजित

नप की निवर्तमान अध्यक्षा उमा सुधा गत्त देर रात्रि रेलवे रोड पर स्थित एक निजी होटल पर्ल मार्क में समाजसेवी दिव्यानी गोयल द्वारा आयोजित बॉलीवुड डांडिया कार्यक्रम में बोल रही थी। इससे पहले नप की निवर्तमान अध्यक्षा उमा सुधा ने डांडिया खेल का विधिवत रूप से शुभारंभ किया। उमा सुधा ने नवरात्रों के पावन अवसर पर आयोजित बॉलीवुड डांडिया कार्यक्रम की बधाई देते हुए कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रमों से जहां समाज में भाईचारे की भावना पैदा होती है, वहीं एक-दूसरे से मिलकर एक परम्परागत खुशी का एहसास भी होता है। इस शहर में हरियाणा ही नहीं आसपास के राज्यों की लोक संस्कृति को सहेजने के लिए महिलाओं द्वारा लगातार प्रयास किए जा रहे है। इन प्रयासों के कारण ही युवा पीढ़ी को लोक संस्कृति से आत्मसात होने का एक अवसर मिलता है।

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular