Homeहरियाणाकुरुक्षेत्रविधानसभा सत्र की तरह अब जिप वार्ड में भी 1-2 दिन का...

विधानसभा सत्र की तरह अब जिप वार्ड में भी 1-2 दिन का बुलाया जाएगा सत्र

इशिका ठाकुर, कुरुक्षेत्र:

विधानसभा सदस्यों की तर्ज पर गांव की छोटी सरकार के सदस्यों ने ली गोपनीयता की शपथ, उपायुक्त शांतनु शर्मा ने जिप के 17 सदस्यों को दिलाई शपथ, पंचायत की आय बढ़ाने की तरफ फोकस रखने की अपील, ग्रामीणों के साथ मिलकर गांव के विकास पर रखना होगा ध्यान

संविधान के नियमों की पालना करने की शपथ ली

हरियाणा विधानसभा सत्र की तरह अब जिला परिषद वार्डों, पंचायत समिति वार्डों में एक या दो दिन का सेशन बुलाया जाएगा। इस सेशन में गांव की छोटी सरकार ग्रामीण क्षेत्र के विकास, लोगों के मुद्दों और समस्याओं को रखेंगे। इस सैशन में लोगों की बात को तवज्जो देकर गांव के विकास की एक नई तस्वीर तैयार की जाएगी। इस विषय को जिला परिषद, पंचायत समिति, सरपंचों और पंचों के समक्ष रखा गया है। इस अहम विषय को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ऑनलाइल प्रणाली के जरिए सबके समक्ष रखा। अहम पहलू यह है कि पहली बार विधानसभा की तर्ज पर जिला परिषद वार्डों के एक-एक सदस्य को गोपनीयता और संविधान के नियमों की पालना करने की शपथ भी दिलाई है।

17 सदस्यों को शपथ दिलवाई

उपायुक्त शांतनु शर्मा ने राज्य सरकार के आदेशानुसार शनिवार को लघु सचिवालय के सभागार में जिला परिषद वार्डों के 17 सदस्यों को एक-एक करके शपथ दिलवाई। इससे पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आनलाइन प्रणाली से पंचायत समिति के एक-एक सदस्य से सीधा संवाद करके सरकार की विकास कारी सोच को सबके समक्ष रखा। इतना ही मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि 10 व 11 दिसंबर तथा 16 से 18 दिसंबर तक प्रत्येक गांव में परिवार पहचान पत्र की त्रुटियों को दूर करने के लिए विशेष शिविर लगाने के आदेश दिए। इस परिवार पहचान पत्र के माध्यम से ही लोगों को सरकार की तमाम योजनाओं का लाभ मिल पाऐगा। इसके साथ ही गांव की छोटी सरकार के माध्यम से सरकार ने गांव का विकास करने के लिए 300 करोड़ रुपए के बजट का भी प्रावधान किया है। इसके साथ ही एक साथ मिलकर गांवों का महानगरों की तर्ज पर विकास किया जाए।

नवनिर्वाचित सदस्य पंचायत की आय को बढ़ाने पर ध्यान दे

उपायुक्त शांतनु शर्मा ने सभी नवनिर्वाचित जिला परिषद, पंचायत समिति सदस्यों, सरपंचों और पंचों को बधाई और शुभकामनाएं देते हुए कहा कि प्रशासन विकास कार्यों के लिए हमेशा नवनिर्वाचित सदस्यों के साथ है, सभी नवनिर्वाचित सदस्य अपने-अपने गांवों और वार्डों के विकास पर फोकस रखे और राज्य सरकार के आदेशानुसार अपने-अपने क्षेत्रों में एक या दो दिन का सेशन रखे। इस सेशन में लोगों के मुद्दों, गांव के विकास और लोगों की समस्याओं पर गंभीरता से चर्चा करे। सभी सदस्य पूरे आत्मविश्वास के साथ अभी से ही लगातार 5 सालों तक कार्य करते रहे। इसके साथ ही नवनिर्वाचित सदस्य पंचायत की आय को बढ़ाने पर ध्यान दे, जब सभी पंचायत की आय को अपने संसाधनों से बढ़ाएंगे तो गांव का विकास और तेजी के साथ संभव हो सकेगा। उन्होंने कहा कि अगर सभी जिप व पंचायत समिति के सदस्य मिलकर विकास कार्य करवाएंगे तो निश्चित ही कुरुक्षेत्र जिला प्रदेश में सबसे अव्वल स्थान पर रहेगा। इस विषय पर सभी को फोकस रखने की अपील भी की है। इस मौके पर जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी भूपेंद्र सिंह, लेखा अधिकारी राजेश गौड व तारा देवी उपस्थित थी।

उपायुक्त शांतनु शर्मा ने जिला परिषद के 17 सदस्यों को दिलाई शपथ

उपायुक्त शांतनु शर्मा ने जिला परिषद के नवनिर्वाचित 17 सदस्यों को संविधान गोपनीयता की शपथ दिलाई, जिसमें वार्ड नंबर 1 से कंवरपाल सिसोदिया, वार्ड नंबर 2 से रमेश कुमार, वार्ड नंबर 3 से पिंकी, वार्ड नंबर 4 से सुखविंदर कौर, वार्ड नंबर 5 से सुखविंद्र सिंह, वार्ड नंबर 6 से रविंद्र कौर, वार्ड नंबर 7 से जसबीर पंजेटा, वार्ड नंबर 8 से डिम्पल, वार्ड नंबर 9 राजिंद्र सिंह, वार्ड नंबर 10 से कुसुमलता, वार्ड नंबर 11 से धर्मपाल चौधरी, वार्ड नंबर 12 से सुरेश कुमार, वार्ड नंबर 13 से रेखा देवी, वार्ड नंबर 14 सचिन कुमार, वार्ड नंबर 15 से कवंलजीत कौर, वार्ड नंबर 16 से पूनम देवी, वार्ड नंबर 17 से अमरीक सिंह शामिल है।

ये भी पढ़े: दिल्ली एमसीडी में चलेगी आप की आंधी : ललित त्यागी

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular