Homeहरियाणाकरनालसड़कों पर उतरे किसान, भाजपा सरकार के खिलाफ किया जोरदार प्रदर्शन: Strong...

सड़कों पर उतरे किसान, भाजपा सरकार के खिलाफ किया जोरदार प्रदर्शन: Strong Demonstration Aagainst BJP Government

प्रवीण वालिया, करनाल:
Strong Demonstration Aagainst BJP Government: संरक्षित खेती पर दी जा रही 15 प्रतिशत सब्सिड़ी को खत्म करने के मामले को लेकर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों ने एकत्रित होकर सड़कों पर उतर कर भाजपा सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। इससे पूर्व जाट धर्मशाला में किसान पंचायत का आयोजन किया गया। पंचायत की अध्यक्षता जिला अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह घुम्मन ने की।

Read Also : पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान, विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ. अनिता सक्सेना: पीजीआईएमएस में बिना शल्य चिकित्सा के बच्चों की दिल की बीमारी का ईलाज: Heart Disease Of PGIMS

संरक्षित खेती पर बंद की गईसब्सिडी को बहाल करे प्रदेश सरकार : भाकियू (Strong Demonstration Aagainst BJP Government)

Strong Demonstration Aagainst BJP Government
Strong Demonstration Aagainst BJP Government

किसान नेताओं ने प्रदेश सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि संरक्षित खेती पर दी जाने वाली 15 प्रतिशत सब्सिडी को पूर्व की भांति बहाल किया जाए। वरना संरक्षित खेती करने वाले किसानों का आर्थिक तौर पर बड़ा नुकसान हो जाने से यह व्यवसाय चौपट हो जाएगा। आंदोलित किसानों ने हाथों में झंडे बैनर लेकर जाट धर्मशाला से लेकर मिनी सचिवालय तक पैदल मार्च निकालते हुए विरोध स्वरूप प्रदेश सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी कर अपनी आवाज को बुलंद की।

जारों किसानों में भारी रोष (Strong Demonstration Aagainst BJP Government)

किसान संदीप शर्मा व जोरा सिंह ने कहा कि वर्ष 2011 से संरक्षित खेती पर प्रदेश सरकार की ओर से इस व्यवसाय के लिए 15 प्रतिशत अनुदान राशि मुहैया करवाई जा रही थी। जिसे अब बंद कर दिया गया है। जिसकों को लेकर नेट हाऊस, पॉली हाऊस, वाक इन टनल, हाई टेक पॉली हाउस से जुड़े प्रदेश भर के हजारों किसानों में भारी रोष पनपने लगा है। किसानों ने कहा कि इस व्यवसाय से जुडने के बाद किसानों की मालिया हालात में कुछ सुधार होंने लगा था। लेकिन सरकार द्वारा हाल ही में 15 प्रतिशत सब्सिडी को बंद करके किसानों के हितों पर कुठाराघात किया है।

आंदोलित किसानों ने सीएम के नाम सौंपा डीसी को ज्ञापन (Strong Demonstration Aagainst BJP Government)

आक्रोषित किसानों ने उपायुक्त के माध्यम से सीएम मनोहर लाल के नाम ज्ञापन सौंप कर 15 प्रतिशत सब्सिडी को बहाल किए जाने की मांग की है। ताकि किसानों के इस रोजगार पर आर्थिक रूप से किसी प्रकार की आंच न आए। जिलाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह घुम्मन सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि सरकार जल्द से जल्द किसानों की मांग को पूरा करे। अन्यथा आंदोलन को तेज किया जाएगा। इस अवसर पर प्रदेश संगठन सचिव शाम सिंह मान, जिलाध्यक्ष सुरेंद्र सिंह घुम्मन, प्रवक्ता सुरेंद्र सागवान, कोर कमेटी के चेयरमेन यशपाल राणा, प्रगतिशील किसान संदीप शर्मा, गिरीश सहगल, अमित सिंगला, विकास, बिक्रम शर्मा, धु्रव शर्मा, रजत मदान, जींद जिले से बलिंद्र सिंह, जोरा सिंह, सुखबीर सिंह, जगदीश सिंह, राकेश चांदपुर, संजय मांड़ी कलां सहित काफी संख्या में किसान मौजूद थे।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मांग करते हुए कहा कि सब्सिडी जारी रहनी चाहिए (Strong Demonstration Aagainst BJP Government)

इस बीच भारतीय किसान यूनियन के प्रदेशाध्यक्ष रतनमान ने नेट हाऊस, पॉली हाऊस, वाक इन टनल, हाई टेक पॉली हाउस पर दिए जा रहे 15 प्रतिशत अनुदान को हाल ही में बांद्व किए जाने के सरकार निर्णय की आलोचना करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार की ओर से अनुदान को बंद किया जाना उचित नही है। इससे इस व्यवसाय पर विपरित असर पड़ेगा। बल्कि इस व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए यह क्रम जारी रहना चाहिए। मान ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मांग करते हुए कहा कि यह सब्सिडी जारी रहनी चाहिए। ताकि यह व्यवसाय बदस्तूर जारी रह सके।

Read Also : पंजाब के राज्यपाल से पंजाब के मुद्दों को लेकर नवजोत सिद्धू मिले Navjot Singh Sidhu, Former President Of Congress Committee

Read Also : महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के कुलपति कार्यालय के कांफ्रेंस कक्ष में आज विश्वविद्यालय की 59वीं वार्षिक वित्त समिति की बैठक का आयोजन किया गया University’s 59th Annual Finance Committee Meeting

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular