Homeहरियाणाकरनालखेलों से होता है, विद्यार्थियों का बौद्धिक विकास : सांसद संजय भाटिया

खेलों से होता है, विद्यार्थियों का बौद्धिक विकास : सांसद संजय भाटिया

इशिका ठाकुर, करनाल:

डीएवी पीजी कॉलेज, करनाल में आयोजित राज्य स्तरीय वालीबॉल प्रतियोगिता के शुभारंभ पर सांसद संजय भाटिया, मुख्यमंत्री प्रतिनिधि संजय बठला, मिडिया कॉर्डिनेटर जगमोहन आनन्द ने की शिरकत।

डीएवी पीजी कॉलेज में उच्चतर शिक्षा विभाग हरियाणा के निर्देशन में आयोजित राज्यस्तरीय वालीबॉल प्रतियोगिता का शुभारंभ करनाल लोकसभा सांसद संजय भाटिया द्वारा विधिवत रूप से मां शारदे के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया गया। प्राचार्य डॉ रामपाल सैनी ने मुख्य अतिथि सांसद संजय भाटिया, वशिष्ट अतिथि मुख्यमंत्री प्रतिनिधि संजय बठला एवं मिडिया कॉर्डिनेटर जगमोहन आनन्द का पुष्प गुच्छ भेंट कर गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।

खेल हमारे जीवन का आधार है

सांसद संजय भाटिया ने हरियाणा के विभिन्न कॉलेजों से प्रतियोगिता में भाग लेने पहुंची महिला एवं पुरुषों की टीम के खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि खेल हमारे जीवन का आधार है, हमें खेलों को खेल की भावना से खेलना चाहिए, इससे खेलों में अनुशासन तो बनेगा ही साथ ही भाईचारे की भावना का भी विकास होगा। उन्होंने विद्यार्थियों को कहा कि खेलों से अच्छे स्वास्थ्य के साथ-साथ बुद्धि का भी विकास होता है, उन्होंने कहा कि जो अच्छे खिलाड़ी होते हैं, वो निश्चित रूप से पढ़ने में भी अव्वल होते हैं। सांसद ने खिलाड़ियों से मुखातिब होते हुए बताया कि वो स्वयं भी खेल प्रेमी हैं, और खेलों में खूब रुचि रखते हैं, उन्होंने वालीबॉल ग्राउंड में जाकर वालीबॉल खेलकर प्रतियोगिता का शुभारंभ किया।

प्राचार्य डॉ रामपाल सैनी ने कहा कि खेलों से खिलाड़ियों को जीवन में आगे बढ़ने के अवसर मिलते हैं। खेलों में अच्छा प्रदर्शन कर देश के सम्मान में बढ़ोतरी करने वाले खिलाड़ियों को सरकार की ओर से नौकरी और प्रोत्साहन व ईनाम भी दिया जाता है। इसलिए हमें खेलों के जरिए देश के नाम को रोशन करने का काम करना चाहिए।

शारीरिक शिक्षा विभाग के प्रवक्ता और आयोजन समिति के सचिव डॉ जितेन्द्र चौहान ने बताया कि राज्य के अलग-अलग कॉलेजों से आई टीमों के बीच मुकाबले के बाद विजेता टीमों को फाइनल मुकाबले के लिए चुना जाएगा।

प्रतियोगिताओं का परिणाम

प्रतियोगिता के प्रथम दिन बारिश के कारण महिला टीमों के बीच मुकाबला करनाल स्टेडियम में हुआ। जिसमें केवीए डीएवी महिला कॉलेज की टीम का मुकाबला पीजीएम कॉलेज मंडी आदमपुर की टीम से हुआ, जिसमें केवीए डीएवी महिला कॉलेज की टीम ने मंडी आदमपुर की टीम को 3-0 से हराया। वहीं दूसरी ओर डीजी कॉलेज गुरुग्राम की टीम का मैच केएल मेहता डिग्री कॉलेज फरीदाबाद की टीम के साथ हुआ, जिसमें डीजी कॉलेज गुरुग्राम की टीम ने फरीदाबाद की टीम को 25-07 से हराया, महिला वर्ग का तीसरा मैच आर्य कॉलेज पानीपत और एफसी महिला कॉलेज हिसार‌ के बीच खेला गया। जिसमें आर्य कॉलेज पानीपत की टीम ने अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम हिसार को 3-0 से परास्त किया।

पुरुष वर्ग के मैचों में पहला मैच एसए जैन कॉलेज अंबाला और चौधरी बंसीलाल राजकीय कॉलेज लोहारू के बीच खेला गया जिसमें एसए जैन कॉलेज अंबाला की टीम ने लोहारू की टीम को 3-0 के अंतर से हराया। दूसरा मैच जीवीएमजीआर कॉलेज चरखी दादरी और राजकीय कॉलेज नारायणगढ़ के बीच हुआ जिसमें राजकीय कॉलेज नारायणगढ़ की टीम ने चरखी दादरी की टीम को 3-0 से हराया। तीसरा मैच जीएम राजकीय कॉलेज मंडी आदमपुर और जाट कॉलेज रोहतक के बीच हुआ, जिसमें जीएम राजकीय कॉलेज मंडी आदमपुर की टीम ने जाट कॉलेज रोहतक की टीम को 3-0 से हराया। चौथा मैच राजकीय कॉलेज बहादुरगढ़ और डीसी राजकीय कॉलेज गुरुग्राम के बीच खेला गया, जिसमें राजकीय कॉलेज बहादुरगढ़ की टीम ने गुरुग्राम की टीम को परास्त किया।

पुरुष मुकाबले का पांचवां मैच बाबु अनंत राम जनता कॉलेज कौल और राजकीय कॉलेज नारनौल के मध्य हुआ। जिसमें समाचार लिखे जाने तक परिणाम प्राप्त नहीं हुआ।

 टीमों को पुरस्कार समारोह में सम्मानित

प्राचार्य ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रतियोगिता के पहले दिन मुकाबले में विजयी रही सभी टीमों को फाइनल मुकाबले में अपनी ताकत दिखानी होगी, जो टीमें फाइनल मुकाबले में जीत हासिल करेगी, उनमें से प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान पर रही टीमों को अंतिम दिन आयोजित पुरस्कार समारोह में सम्मानित किया जाएगा।

निर्णायक की भूमिका रामकुमार कोच, कर्मबीर सिंह वालीबॉल कोच, अश्वनी टाया कोच, भुपेंद्र सिंह कोच, सुरेन्द्र कुमार वालीबॉल कोच, राजेश मैहला कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय वालीबॉल कोच, बलकार सिंह कोच व महिला कोच में आशा व करूणा वालीबॉल कोच पंचकुला ने निभाई।

इस मौके पर मौजूद थे

इस मौके पर गुरुनानक खालसा कॉलेज के प्राचार्य डॉ गुरिंदर सिंह, दयाल सिंह कॉलेज की प्राचार्या डॉ आसिमा, डॉ महावीर सिंह प्राचार्य राजकीय महिला महाविद्यालय तरावड़ी, डॉ महेंद्र सिंह, सुल्तान सिंह वालीबॉल कोच, सहित विभिन्न कॉलेजों के टीम इंचार्ज,कोच अन्य स्टाफ सदस्य मौजूद थे।

ये भी पढ़ें : पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण ने सुनी लोगों की शिकायतें, एएसपी सिद्धांत जैन भी रहे मौजूद

ये भी पढ़ें : डायल 112 की टीम ने घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुंचाकर करवाया उपचार

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular