Homeहरियाणाकरनालकर्णनगरी में ऐसा जिम, जहां सांड करते हैं कसरत

कर्णनगरी में ऐसा जिम, जहां सांड करते हैं कसरत

आज समाज डिजिटल, Karnal Update:
राष्ट्रीय डेयरी अनुसंधान संस्थान में पशुओं के लिए व्यामशाला तैयार की गई है, जिससे कि उन्हें स्वस्थ रखा जा सके। पशुओं को व्यायाम करते देखकर आप भी हैराना रह जाएंगे। संस्थान की तरफ से पहले भी कई तरह के शोध किये जा चुके हैं।

120 सांझ रह रहे हैं संस्थान में

करनाल का राष्ट्रीय डेरी अनुसंधान संस्थान जहां पर रोजाना मनुष्य की तरह पशु भी व्यायाम करते हैं। व्यायाम करने से पशुओं का स्वास्थ्य बना रहता है। सेंटर के इंचार्ज ने पशुओं के जिम करने से होने वाले लाभ के बारे में विस्तृत जानकारी दी। सेंटर इंचार्ज डा. पवन सिंह ने बताया कि अनुसंधान केंद्र में हमारे पास 120 बुल हैं। इनमें से 70 सीमन कलेक्शन में रहते हैं। इनमें रोजाना 10 बुल का सीमन कलेक्शन किया जाता है। सीमन कलेक्शन से पहले करीब पौना घंटा एक्सरसाइज करवाई जाती है। एक्सरसाइज करने से शरीर सुडौल रहता है और पशु एक्टिव रहता है।

सुबह 6 से 7 बजे तक होता है व्यायाम

इससे पशु सीमन जल्दी देता है। उसकी गुणवत्ता में अच्छी क्वालिटी होती है। जो फील्ड में पशु किसानों के लिए काफी फायदेमंद होती है। एक्सरसाइज करने के बाद पशु को आराम करने में आनंद आता है और यह एक्सरसाइज भी बड़ी मस्ती के साथ करते हैं। रोजाना सुबह 6:00 से 7:00 के बीच एक्सरसाइज करवाई जाती है। कृत्रिम अनुसंधान केंद्र के सुपरवाइजर ने बताया कि जैसे मनुष्य के लिए व्यायाम जरूरी है।

उसी लिए पशुओं को भी उतनी ही जरूरत है। इसीलिए एक्सरसाइज के लिए एक यंत्र लगाया गया है, जिसमें एक मोटर लगी हुई है। जो पशुओं को घूमाती रहती है। इनको इस प्रकार से रखा जाता है कि यह एक दूसरे से लड़ाई नहीं कर सकते। इस एक्सरसाइज से स्वास्थ्य बना रहता है। जिससे तनाव मुक्त रहते हैं। एक्सरसाइज के बाद इन्हें एक-एक करके अलग-अलग कमरों में रखा जाता है।

ये भी पढ़ें : काली मिर्च होती है कई रोगों के लिए है अमृत, जरूर आजमाएं

ये भी पढ़ें : बारिश में बच्चों की ऐसे करें देखभाल

ये भी पढ़ें : छोटी – छोटी बात पर रोने वाली लड़कियां होती हैं विशेष

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular