Homeहरियाणाकरनाललोगों को डरा धमका व ब्लैकमेल करने वाली 5 महिलाएं गिरफ्तार

लोगों को डरा धमका व ब्लैकमेल करने वाली 5 महिलाएं गिरफ्तार

प्रवीण वालिया, करनाल:
जिला पुलिस करनाल के महिला थाना व पुलिस चौकी नीलोखेड़ी की टीम द्वारा दो अलग-अलग मामलों में पांच ऐसी महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है, जो अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर लोगों से संपर्क करके उनकी अश्लील वीडियो बनाती थी या दुष्कर्म व छेड़खानी की झूठी शिकायत देकर लोगों पर समझौते का दबाव बनाकर मोटी रकम की मांग करती थी।

मारपीट व जान से मारने की धमकी देकर मोटी रकम की मांग

ऐसे ही एक मामले में पुलिस चौकी नीलोखेड़ी इंचार्ज उप निरीक्षक राकेश कुमार की अध्यक्षता में टीम द्वारा 24 सितंबर को दो महिला आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। इस वारदात के संबंध में जिला करनाल के एक गांव के रहने वाले एक शिकायतकर्ता ने दिनांक 22 सितंबर 2022 को पुलिस अधीक्षक कार्यालय करनाल में एक शिकायत दी। जिस शिकायत में शिकायतकर्ता ने उपरोक्त दोनों महिलाओं द्वारा अपने एक साथी के साथ मिलकर जमीन खरीदने के बहाने शिकायतकर्ता को अपने घर बुलाने, कोल्ड ड्रिंक में कोई नशीला पदार्थ पिलाने, बेहोशी की हालत में उसकी अश्लील वीडियो बनाने, उसके साथ मारपीट करने व जान से मारने की धमकी देकर मोटी रकम की मांगने व जबर्दस्ती तीन लाख रुपये का चेक लेने के संबंध में थाना बुटाना में धारा 323, 384, 506, 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कराया गया था। इस मामले में आरोपियों ने शिकायतकर्ता की अश्लील वीडियो वायरल ना करने की एवज में दस लाख रुपए की मांग की थी। जिसमें आरोपियों ने शिकायतकर्ता से तीन लाख रुपए का चेक पहले ही ले लिया था और सात लाख रुपए बाद में देने की बात तय हुई थी।

एक आरोपी महिला ने इस मामले में समझौता कराने के लिए शिकायतकर्ता को एक लाख रुपए लेकर अपने घर बुलाया था। जिसको पुलिस टीम द्वारा मौके से गिरफ्तार कर लिया गया और एक लाख रुपए की नगदी भी बरामद कर ली गई। दोनों महिलाओं को आज पेश अदालत करके दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। दौराने रिमांड महिलाओं से गहनता से पूछताछ की जाएगी व इनके तीसरे साथी को भी गिरफ्तार किया जाएगा।

दुष्कर्म व छेड़छाड़ करने की झूठी शिकायत

दूसरे मामले में एएसआई सुनीता महिला थाना करनाल की अध्यक्षता में टीम द्वारा तीन आरोपी महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले के संबंध में भी जिला करनाल के एक गांव के रहने वाले शिकायतकर्ता ने 23 सितंबर 2022 को पुलिस अधीक्षक कार्यालय करनाल में एक शिकायत दी। जिसमें शिकायतकर्ता ने बताया कि दिनांक 19 सितंबर को उसके पास एक अज्ञात नंबर से किसी महिला का फोन आया उस महिला ने कहा कि वह उसके पास लेबर का काम करना चाहती है। जिसके बाद दिए गए समय पर वह महिला एक अन्य महिला के साथ शिकायतकर्ता के पास आई। जिसके बाद उस महिलाओं ने शिकायतकर्ता के साथ गाड़ी में अश्लील हरकतें व अश्लील बातें करनी शुरू कर दी और गाड़ी से उतर गई। फिर इस महिला ने शिकायतकर्ता द्वारा अपने साथ दुष्कर्म करने की झूठी शिकायत महिला थाने में दी गई और समझौता करने के लिए तीन लाख रुपए की मांग करने लगी। जिसके बाद शिकायतकर्ता ने आरोपी महिला को एक लाख बीस हजार रुपए दे दिए।
इस संबंध में शिकायतकर्ता के बयान पर थाना सिविल लाइन करनाल में धारा 384 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया। जांच में खुलासा हुआ कि यह आरोपी महिलाएं लोगों के मोबाइल नंबर प्राप्त करके उन नंबरों पर फोन कर लोगों से मिलती हैं और अपने साथ दुष्कर्म व छेड़छाड़ करने की झूठी शिकायत देकर समझौता करने के नाम पर उनसे मोटी रकम की मांग करती हैं। आरोपी महिलाओं को पुलिस रिमांड पर लिया गया है। दौराने रिमांड आरोपियों से गहनता से पूछताछ की जाएगी, मांगी गई नगदी को बरामद किया जाएगा व इन महिलाओं ने और कितनी वारदातों को अंजाम दिया है, उनके बारे में पता कर मामलों का खुलासा किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: राज्यसभा सांसद कृष्ण लाल पंवार ने रविवार को गांव शौदापुर में किया पौधा रोपण

ये भी पढ़ें: 1 अक्टूबर से एफसीआई के माध्यम से की जाएगी धान की खरीद

ये भी पढ़ें: चौ. देवीलाल का संपूर्ण जीवन प्रेरणादायक : बिजली मंत्री रणजीत सिंह

ये भी पढ़ें: हरियाणा रोडवेज वर्कर्स यूनियन संबंधित सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा

 Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular