Run for Unity : सरदार पटेल ने एक मजबूत और अखंड शक्तिशाली राष्ट्र का किया निर्माण : मेयर रेनू बाला गुप्ता।

0
121
मेयर रेनू बाला गुप्ता
मेयर रेनू बाला गुप्ता
  • सरदार पटेल की जयंती पर रन फॉर यूनिटी मैराथन को झंडी दिखाकर किया रवाना, युवाओं ने मैराथन में लगाई दौड़।

Aaj Samaj (आज समाज), Run for Unity, करनाल,31 अक्टूबर, इशिका ठाकुर

सीएम सिटी करनाल में सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर रन फॉर यूनिटी मैराथन दाऊद का आयोजन किया गया, जिसमें जिले भर से हजारों लोगों ने भाग लिया। इस मौके पर करनाल मेयर रेनू बाला गुप्ता ने कहा कि लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल ने भारत को एक मजबूत, अखंड शक्तिशाली राष्ट्र बनाने तथा एकता को बढ़ावा देने के लिए जो अहम भूमिका निभाई, उनके इस योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता, हमें ऐसे महापुरूष के व्यक्तित्व से प्रेरणा लेनी चाहिए।

मेयर ने मंगलवार को जिला प्रशासन व खेल एवं युवा मामले विभाग द्वारा लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की 148वीं जयंती के अवसर पर आयोजित रन फॉर यूनिटी मैराथन कार्यक्रम के शुभारंभ पर बोल रही थी। मेयर रेनू बाला गुप्ता, मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि संजय बठला तथा एडीसी डॉ. वैशाली शर्मा ने सरदार वल्लभ भाई पटेल के चित्र पर पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्ज्वलन किया और कार्यक्रम की विधिवत रूप से शुरूआत की।

इसके बाद मेयर ने राष्ट्रीय एकता दिवस पर रन फॉर यूनिटी मैराथन को झंडी दिखाकर रवाना किया जिसमें करीब 3500 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। यह मैराथन शहर के एनडीआरआई चौक से मैराथन दौड़ शुरू होकर गीता द्वार पर समाप्त हुई। इस मौके पर देश की एकता बनाए रखने के लिए संदेश दिया। उन्होंने कहा कि सरदार वल्लभभाई पटेल का भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण योगदान था, वह ऐसे जन नेता थे जिन्होंने सदैव किसानों के कल्याण के लिए कार्य किया उन्हें आधुनिक भारत के निर्माता के रूप में याद किया जाता है।

इस मौके पर संजय बठला ने अपने संबोधन में कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल ने आजादी के बाद देश को एकता के सूत्र में बांधने के लिए 560 से अधिक रियासतों का एकीकरण किया। उन्होंने अंग्रेजी सरकार द्वारा किसानों पर लगाए गए लगान का विरोध किया और काले कानून को समाप्त करवाया।

उन्होंने कहा कि पूरे देश में सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती पर रन फॉर यूनिटी के नाम से कार्यक्रम किए जा रहे हैं। इनके इस जन्म दिवस को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया जा रहा है।

एडीसी डॉ. वैशाली शर्मा ने कहा कि सरदार वल्लभभाई पटेल सच्चे देशभक्त थे। वह अपना कत्र्तव्य पूरी ईमानदारी व समर्पण भाव से निभाते थे। उन्होंने किसानों से की जा रही वसूली को आंदोलन करके माफ करवाया तथा वर्ष 1920 में स्वदेशी को अपनाया और विदेशी कपड़ों की होली जलाई, देश की आजादी में सरदार वल्लभभाई पटेल का अहम योगदान है। ऐसे महापुरूष के योगदान को देश सदा याद रखेगा।

बच्चों के हाथों में तिरंगा लेकर चलने से पूरा माहौल तिरंगामय हो गया।
इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी राजपाल चौधरी, डीडीपीओ राजबीर खुंडिया, डीएसओ सुधा भसीन, जिला बाल कल्याण अधिकारी विश्वास मलिक, रेडक्रॉस सचिव कुलबीर मलिक, जिला युवा अधिकारी रेनू , डीपीसी उर्वशी विग, प्रमोद नागपाल, रजनीश चोपड़ा, प्रवीण अरोड़ा, प्रोफेसर जोगिन्द्र मदान, एनसीसी आर्मी व एयर विंग के विद्यार्थी, धार्मिक सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

इन सामाजिक संस्थाओं का रहा अहम योगदान

कार्यक्रम में निफा, लक्ष्य जनहित सोसाइटी, एम.डी.डी.बाल भवन, माँ झंडेवाली सेवा समिति, गो कर्ण गऊ सेवा, भारत विकास परिषद् , अभिमन्यु शाखा, कृष्ण शाखा, राधा – कृष्ण शाखा, माधव शाखा, आरएसओ, आर्य केंद्रीय सभा, केंद्रीय आर्य युवक परिषद, सिटीजन्स ग्रीवेंसेज कमेटी, लायंस क्लब ग्रेटर, इनर व्हील क्लब, करनाल, पतंजलि योग समिति, इण्डियन मेडिकल एसोसिएशन, तपन सोसाइटी ( नीलोखेड़ी ) ने अपनी अहम भूमिका निभाई।

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE