Drone Pilot Training : कृषि विभाग प्रगतिशील किसानों, युवाओं को देगा ड्रोन पायलट प्रशिक्षण : उपायुक्त

0
149
Panipat News/Drone Pilot Training 
Panipat News/Drone Pilot Training 

Aaj Samaj (आज समाज),Drone Pilot Training, पानीपत : उपायुक्त वीरेंद्र कुमार दहिया ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार द्वारा प्रगतिशील किसानों, युवाओं को ड्रोन पायलेट प्रशिक्षण देकर प्रशिक्षित किया जायेगा। ड्रोन प्रशिक्षण पाकर किसानों की खेती करने के तरीके में बदलाव आयेगा और वे कम समय में अपने खेत के अन्दर कम दवा का ड्रोन के माध्यम से उपयोग करके समय व श्रम की बचत कर सकेंगे। प्रशिक्षण के लिए आवेदकों को विभाग की वैबसाईट डब्ल्युडब्ल्युडब्ल्युडाटएग्रीहरियाणाडाटजीओवीडाटइन पर 31 मई तक आवेदन करना होगा। जिले के 14 किसानों को इस पायलट प्रोजेक्ट के तहत ड्रोन पायलट प्रशिक्षण दिया जायेगा।

 

  • जिले के 14 किसान ले सकेंगे ड्रोन पायलट प्रशिक्षण
  • इच्छुक अभ्यर्थी 31 मई तक कर सकते हैं आवेदन
  • दो फेज में करनाल में होगा ड्रोन पायलट प्रशिक्षण

 

 

18 से 45 वर्ष के युवा व किसान ड्रोन का प्रशिक्षण ले सकते हैं

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप निदेशक डॉ.वजीर सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रदेश में ड्रोन के प्रशिक्षित पायलट तैयार किये जायेंगे। इसको लेकर पायलटों को पहले प्रशिक्षण दिया जायेगा। ड्रोन पायलट का प्रशिक्षण लेने वालों के लिए कुछ दिशा निर्देश निर्धारित किये गये है। इनमें 18 से 45 वर्ष के युवा व किसान ड्रोन का प्रशिक्षण ले सकते हैं। इसके लिए इच्छुक किसान परिवार पहचान पत्र, मैट्रिक मार्कशीट व अपनी प्रगति रिपोर्ट के साथ आवेदन कर सकते हैं। विभाग के उपनिदेशक ने बताया कि ड्रोन पायलट का प्रशिक्षण लेने वालों के लिए मैट्रिक पास होना अनिवार्य है। उनका पासपोर्ट मान्य होना चाहिये। वे ही इच्छुक किसान आवेदन कर सकते हैं जो सीएचसी और एफपीओ के सदस्य हैं।

 

चयनित किसानों को प्रशिक्षण करनाल में दिया जायेगा

विभाग के उपनिदेशक ने बताया कि चयनित किसानों को प्रशिक्षण करनाल में दिया जायेगा। प्रशिक्षण का सारा खर्च विभाग वहन करेगा। प्रशिक्षण के लिये चयनित किसानों को यह ड्रोन पायलेट का प्रशिक्षण फ्री में मुहैया कराया जायेगा। उन्होंने बताया कि मैट्रिक उतीर्ण करने वाले युवाओं के लिए विभाग ने नंबर निर्धारित किये है। इच्छुक अभ्यर्थी को पहले अपने दस्तावेजों को डीडीए से वेरीफाई कराना होगा। प्रगतिशील किसानों को आवेदन के साथ अपनी कृषि संबंधित रिपोर्ट भी देनी होगी। आवेदन की अंतिम तारीख के एक सप्ताह के बाद डॉक्यूमेंट की वेरिफिकेशन होगी। विभाग के उपनिदेशक ने बताया कि ड्रोन पायलट का यह प्रशिक्षण दो फेज में चलेगा। पहले फेज में का प्रशिक्षण 6 दिन का व दूसरे फेज में प्रशिक्षण 2 दिन का होगा। प्रशिक्षण के लिए जरूरी व्यवस्था के लिए इच्छुक किसान डीडीए करनाल से संपर्क कर और जरूरी जानकारी ले सकते हैं।

 

 

 

 

यह भी पढ़ें : Turkey में आए भीषण तूफान का हैरान करने वाला वीडियो, तिनके की तरह उड़ा सोफा

यह भी पढ़ें :  Plum Benefits: कई गुणों से भरपूर है आलू बुखारा, ऐसे खाएं या जूस बनाकर पिएं, हमेशा रहेंगे फिट

Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE