Homeअर्थव्यवस्थाRBI Hike Repo Rate : रेपो रेट में लगातार 5वीं बार बढ़ोतरी,...

RBI Hike Repo Rate : रेपो रेट में लगातार 5वीं बार बढ़ोतरी, 0.35 फीसदी के साथ अब हुए 6.25 फीसदी, आपके लोन की ईएनआई होगी और महंगी

आज समाज डिजिटल, RBI Hike Repo Rate : आरबीआई ने एक बार फिर से रेपो रेट में बढ़ोतरी की है। यह लगातार 5वीं बार है जब रेपो रेट बढ़े हैं। आरबीआई मॉनिटरी पॉलिसी की बैठक में गवर्नर शक्तिकांत दास (Governor Shaktikanta Das) ने एलान किया कि रेपो रेट में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी की जा रही है। इस बढ़ोतरी के बाद रेपो रेट बढ़कर 6.25 फीसदी पर हो चुका है। इस साल केंद्रीय बैंक ने ब्याज दरों में कुल 2.25 फीसदी का इजाफा कर किया है।

आपको बता दें कि पिछले कई महीनों से महंगाई को काबू करने के लिए आरबीआई की ओर से रेपो रेट में बढ़ोतरी की जा रही है। रेपो रेट बढ़ने से बैंकों के कर्ज की दरें (Loan EMI Increase) बढ़ती हैं जिसका असर ग्राहकों पर आ जाता है। इससे आपके लोन की ईएमआई बढ़ी है और आगे भी बढ़ सकती है। अत: आपके लिए लोन लेने महंगे हो जाएंगे। (Home Loan Costaly)

क्या कहा आरबीआई गवर्नर ने (RBI Hike Repo Rate)

आरबीआई के मुताबिक अब रेपो रेट 5.90 प्रतिशत से बढ़कर 6.25 प्रतिशत हो जाएगा। इस फैसले के साथ ही अब होम लोन (Home Loan) समेत सभी तरह के लोन महंगे हो जाएंगे। एमपीसी बैठक के बाद गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikant Das) ने बुधवार को नीतिगत दरें बढ़ाए जाने का ऐलान किया।

आरबीआई मॉनिटरी पॉलिसी की समीक्षा बैठक में गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि एमपीसी के 6 सदस्यों में से 5 ने बहुमत से रेपो रेट को बढ़ाने का पक्ष लिया और इसके बाद आरबीआई ने रेपो रेट में 0.35 फीसदी की बढ़ोतरी करने का फैसला लिया है। उन्होंने कहा कि हम एक और चुनौतीपूर्ण साल के अंत में आ गए हैं और देश में ही नहीं दुनिया के कई देशों में महंगाई दर बढ़ती देखी गई है। देश में बैंक क्रेडिट ग्रोथ इस समय दहाई अंकों से ऊपर आ रही है जबकि महंगाई दर ऊपरी स्तरों पर बनी हुई है।

जीडीपी ग्राेथ 6.8 फीसदी रहने का अनुमान

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए जीडीपी ग्रोथ रेट 6.8 फीसदी रहने का अनुमान जताया है। जबकि इससे पहले केंद्रीय बैंक ने 7 फीसदी का अनुमान जताया था। उन्होंने कहा कि ग्लोबल चुनौतियां के बावजूद भारत की ग्रोथ रेट संतुलित रहा है। मांग में बढ़ोतरी हुई है। इससे अर्थव्यवस्था को सपोर्ट मिल रहा है।

अब तक Repo Rate में इतनी वृद्धि (RBI Rate Impact On Home Loan)

गौरतलब है कि महंगाई को कंट्रोल करना आरबीआई का मुख्य लक्ष्य है। इसलिए आरबीआई कई ठोस कदम उठा रहा है। आरबीआई की ओर से रेपो रेट में बढ़ोतरी का सिलसिला मई 2022 महीने से शुरू किया गया था। उस समय रेपो रेट में 0.40 फीसदी की बढ़ोतरी की गई थी।

Governor Shaktikanta Das

RBI एमपीसी की बैठक हर दो महीने बाद होती है। इसके बाद जून में फिर RBI ने ब्याज दरों में 0.50 फीसदी का इजाफा किया. ये सिलसिला जारी रहा और अगस्त महीने में 0.50 फीसदी की वृद्धि देखने को मिली, जबकि सितंबर में भी केंद्रीय बैंक ने नीतिगत दरों को 0.50 फीसदी बढ़ाया था. अब ये पांचवीं बार है, जब केंद्रीय बैंक ने लोगों की जेब का खर्च बढ़ाया है।

पहले से था रेपो रेट बढ़ने का अनुमान (Repo Rate Hike)

रेपो रेट में बढ़ोतरी का अनुमान पहले से लगाया गया था। कई रिपोर्ट्स में बाजार विशेषज्ञों ने बताया था कि केंद्रीय बैंक महंगाई में राहत के बावजूद नीतिगत दरों में 25-35 बेसिस प्वाइंट तक की बढ़ोतरी कर सकता है। देश में काफी समय से महंगाई स्तर पर बनी हुई थी, हालांकि बीते अक्टूबर महीने में इसमें गिरावट देखने को मिली है।

ये भी पढ़ें : Gujarat Assembly Election 2022 Updates : पीएम मोदी ने डाला वोट, एक झलक पाने के लिए उमड़ा जनसैलाब

ये भी पढ़ें : Delhi MCD Election Voting Updates

ये भी पढ़ें : Navy Day पर बोले पीएम मोदी : भारत में हमें आपके समृद्ध समुद्री इतिहास पर गर्व

ये भी पढ़ें : मुंबई में धारा 144 लगाने के आदेश, 2 जनवरी तक प्रदर्शन, बैठकों समेत इन एक्टिविटीज पर पूर्णत: रोक

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular