HomeTrendingआफताब की न्यायिक हिरासत 14 दिन और बढ़ी, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई...

आफताब की न्यायिक हिरासत 14 दिन और बढ़ी, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई कोर्ट में पेशी

आज समाज डिजिटल, Aftab Judicial Custody Extended : श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को आज साकेत अदालत में पेश किया गया। अदालत ने आरोपी आफताब पूनावाला की न्यायिक हिरासत 14 दिनों के लिए बढ़ा दी है। महरौली थाना पुलिस के जांच अधिकारी वर्चुअल कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोर्ट रूम में मौजूद थे। उनकी तरफ से कोर्ट में बताया गया कि श्रद्धा मर्डर मामले में दिल्ली पुलिस की जांच चल रही है और आरोपी की न्यायिक हिरासत को 14 दिन के लिए बढ़ा दिया जाए। जिसके बाद साकेत कोर्ट ने आरोपी आफताब की न्यायिक हिरासत को 14 दिन के लिए बढ़ा दी है। बता दें कि इससे पहले आफताब 14 दिन से तिहाड़ जेल में न्यायिक हिरासत में था। 

गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने Aftab Poonawala को 12 नवंबर को गिरफ्तार किया था, जिसके बाद उसे पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा गया था। इसके बाद 17 नवंबर को पांच दिन के लिए बढ़ा दिया गया था। कोर्ट ने 22 नवंबर को फिर से आरोपी अफताब पूनावाला को चार दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा था और उसके बाद 26 नवंबर को उसे 13 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया था।

श्रद्धा वाकर की जिस तरह बेरहमी से हत्या की गई है, पुलिस के लिए आज भी यह केस सुलझाना चुनौती बना हुआ है। वहीं आरोपी अपना गुनाह कबूल भी कर चुका है लेकिन अभी तह वह पुलिस को अपनी बातों में उलझाए रखे हुए हैं। ऐसे में आफताब ने चुनौती दे रखी है कि श्रद्धा को मैंने मारा है, दम है तो शरीर के टुकड़े व औजार बरामद करके दिखाओ। इस चुनौती को वह बार-बार दोहरा रहा है। आरोपी की इस चुनौती को लेकर दक्षिण जिला पुलिस अधिकारी भी सकते में हैं। पुलिस को उसके आत्मविश्वास को देखकर ताज्जुब हो रहा है।

जंगल से मिले टुकड़े किसी महिला के हैं

उल्लेखनीय है कि छतरपुर के जंगल से बरामद जबड़ा व 100 फुटा रोड से बरामद शरीर के टुकड़े से पता लगा है कि वह किसी महिला के टुकड़े हैं। लेकिन पुलिस शरीर के टुकड़े बरामद करने के लिए इस्तेमाल किए गए औजार अभी तक बरामद नहीं कर पाई है। हालांकि, पुलिस ने रसोई से पांच चाकू बरामद किए हैं। इनसे आरोपी ने श्रद्धा के शरीर के टुकड़े करने में इस्तेमाल किया था।

दूसरे कैदी ने कहा, आफताब बहुत चालाक

जेल अधिकारियों के मुताबिक,आफताब की कोठरी में दो और कैदी हैं। इस बीच, मामले के जांचकर्ताओं में से एक ने कहा कि आफताब बहुत चालाक है। इस मामले में और कोई नया मोड़ आने के पूरे चांसेज हैं। वहीं जब 1 दिसंबर को आफताब का नार्को टेस्ट कराया गया था।

तब उसने कथित तौर पर स्वीकार किया गया था कि उसने अपनी प्रेमिका की हत्या की थी। टेस्ट के दौरान आफताब ने यह भी खुलासा किया कि उसने श्रद्धा के कपड़े कहां डिस्पोज किए थे। हालांकि फॉरेंसिक साइंस लैब (FSL) के विशेषज्ञों ने भी पोस्ट-नार्को टेस्ट के दौरान आफताब से बातचीत की। पोस्ट नार्को टेस्ट किसी भी विषय के नार्को टेस्ट का अहम हिस्सा होता है और इसके बिना नार्को टेस्ट की प्रक्रिया अधूरी है।

Aftab Poonawala

नार्को टेस्ट में हुए कई बड़े खुलासे

फिलहाल यह मामला किसी हॉरर-मर्डर मिस्ट्री फिल्म की तरह सामने आ रहा है और इस केस में लगातार चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। आफताब ने नार्को टेस्ट के दौरान वाकर के शरीर के हिस्सों को काटने के लिए बड़े चाकू क्लीवर(cleaver) का इस्तेमाल करने और आरी को अपने गुड़गांव कार्यालय के पास झाड़ियों में फेंकने की बात स्वीकार की। पूनावाला ने दावा किया कि उसने लिव इन पार्टनर वाकर का कटा सिर महरौली के जंगल में फेंका, जबकि सबूत मिटाने के मकसद से अपना फोन मुंबई में समुद्र में फेंक दिया था।

इंटरनेट पर आफताब ने की कई तरह की खोज

पुलिस को पता चला है कि आरोपी आफताब अमीन पूनावाला ने सनसनीखेज अनुपमा गुलाटी हत्याकांड के बारे में इंटरनेट पर खोज की थी, जिसने 2010 में देहरादून को हिला कर रख दिया था। माना जा रहा है कि उसने श्रद्धा का मारने और उसकी लाश को ठिकाने लगाने पूरी प्लानिंग की थी। अनुपमा गुलाटी की उनके पति राजेश गुलाटी ने 17 अक्टूबर, 2010 को हत्या कर दी थी। उसने कई दिनों तक लाश को डंप करने से पहले उसके शरीर को 72 टुकड़ों में काटकर रख लिया था।

दोस्त से करता रहा श्रद्धा बनकर चैटिंग (Shraddha Muder Case)

इतना ही नहीं, किसी को श्रद्धा की हत्या की भनक न लगे, इसके लिए Aftab Poonawala श्रद्धा के मोबाइल को करीब एक महीने तक इस्तेमाल करता रहा। उसने कोई कॉल नहीं की, बल्कि व्हाट्सएप चैटिंग की थी। एक बार श्रद्धा के दोस्त लक्ष्मण ने मोबाइल पर व्हाट्सएप मैसेज डाला था, तब आरोपी ने श्रद्धा बनकर लक्ष्मण को कहा था कि वह अभी बिजी है, बात में बात करेगी। लेकिन बाद में उसने लक्ष्मण को मैसेज किया कि श्रद्धा उसे छोड़कर चली गई। इसके बाद उसने मुंबई लेकर जाकर श्रद्धा के मोबाइल व सिम को समुद्र में फेंक दिया था। पुलिस को अभी श्रद्धा का मोबाइल व सिम नहीं मिला है।

ये भी पढ़ें : नामरा कादिर, मासूम सी दिखने वाली यूट्यूबर ने व्यापारी से हड़पे 80 लाख रुपए, ब्लेकमेल की दी धमकी, इन दिनों है पुलिस रिमांड पर

ये भी पढ़ें : Delhi MCD Election Voting Updates

ये भी पढ़ें : शुरूआती रुझानों में आम आदमी पार्टी को 126 सीटों के साथ मिलता दिख रहा बहुमत, बीजेपी पीछे

ये भी पढ़ें : मुंबई में धारा 144 लगाने के आदेश, 2 जनवरी तक प्रदर्शन, बैठकों समेत इन एक्टिविटीज पर पूर्णत: रोक

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular