Homeकाम की बातदो लौंग सेवन से देखें कमाल Consuming Two Cloves

दो लौंग सेवन से देखें कमाल Consuming Two Cloves

रोजाना दूध में दो लौंग मिलाकर पीने से रक्तचाप को नियंत्रित रखा जा सकता है, क्योंकि दूध में पोटेशियम और मैग्नीशियम, खनिज और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व, वही लौंग में रक्तचाप को नियंत्रित करने वाले गुण होते हैं।

आज समाज डिजिटल, अम्बाला।
Consuming Two Cloves : भारतीय रसोई में खाने का जायका बढ़ाने के लिए लौंग मसाले के रूप में प्रयोग किया जाता है। खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ कई स्वास्थ्य लाभों से भरपूर है। भारतीय चिकित्सा और आयुर्वेद में भी इसका इस्तेमाल किया जाता रहा है। रोजाना सिर्फ दो लौंग का सेवन करने से गंभीर रोगों से छुटकारा मिल सकता है।

  

दूध में दो लौंग मिलाकर के स्वास्थ्य लाभ शारीरिक क्षमता बढ़ती है 

अगर आप रोजाना दूध में मिलाकर सिर्फ दो लौंग का सेवन करते हैं तो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनी रहेगी। जिससे आपको कई बीमारियों से स्वतः ही निजात मिल जाएगी। दरअसल लौंग में एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, इसके अलावा लौंग में पोटैशियम, आयरन, फाइबर, ओमेगा-3 और फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। लौंग के नियमित सेवन से शारीरिक क्षमता बढ़ती है और शरीर मजबूत बनता है।

Read Also : जाने कैसे दूर करें थकान Know How To Remove Fatigue

लौंग के फायदे  Consuming Two Cloves

  • रोजाना दूध में दो लौंग मिलाकर पीने से रक्तचाप को नियंत्रित रखा जा सकता है, क्योंकि दूध में पोटेशियम और मैग्नीशियम, खनिज और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं, तो वही लौंग में रक्तचाप को नियंत्रित करने वाले गुण होते हैं।

Read Also : अक्षय तृतीया: शुभ मुहूर्त और शुभ कार्य Good Luck And Good Work

Read Also : आम गुठली भी कम नहीं जानें कैसे Mango Kernels

Read Also : जाने लू से बचने के घरेलु उपाए Know Home Remedies To Avoid Heatstroke

  • -दाल में लौंग का तड़का लगाया जाता है। लौंग विटामिन सी से भरपूर होता है। यह सफेद रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने का काम करता है, इसके साथ ही यह आपके शरीर की प्रतिरोधी क्षमता को भी बढ़ाता है।
  • लौंग पाचन स्वास्थ्य के लिए अच्छी मानी जाती है।इसका सेवन करने से पाचन तंत्र ठीक रहता है और कब्ज, अपच जैसी पाचन समस्याओं से राहत मिलती है। (Consuming Two Cloves)
  • लौंग का सेवन करना लिवर के लिए भी फायदेमंद होता है। इसमें यूजेनॉल मौजूद होता है जो लीवर के कार्य को बेहतर बनाने में मदद करता है।
  • लौंग की तासीर गर्म होती है इसलिए इसका सेवन करने से जुकाम, कफ, दमा, ब्रोंकाइटिस, साइनसाइटिस जैसी अन्य समस्याओं में काफी राहत मिलती है।
  • लौंग एक नैचुरल पेनकिलर माना जाता है। इदांतों के दर्द और सिर के दर्द में सका इस्तेमाल करने से तुरंत राहत मिलती है।
  • लौंग का सेवन करने से मुंह में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को दूर करने में मदद मिलती है। इसके साथ यह मसूड़ों को मजबूत बनाने में भी मदद करता है। भारतीय खानों में लौंग का इस्तेमाल कैसे किया जाता है?
  • ज्यादातर लोग अपनी सुबह की चाय में “चाय के मसाले” का इस्तेमाल करते हैं। आपको बता दें कि “चाय के मसाले” में लौंग का पाउडर मिला होता है। (Consuming Two Cloves)
  • गरम मसाला जो ज्यादातर सब्ज़ियों का स्वाद बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है इसमें भी लौंग का पाउडर मौजूद होता है।

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular