“Haryana Uday” Program को लेकर एडीसी वैशाली सिंह ने ली अधिकारियों की बैठक

0
220
एडीसी वैशाली सिंह ने ली अधिकारियों की बैठक
एडीसी वैशाली सिंह ने ली अधिकारियों की बैठक
  • एक साथ 15 गांवों में होंगी विभिन्न गतिविधियां
  • शाम को एक गांव में होगा बड़ा कार्यक्रम
  • मेहंदी प्रतियोगिता, मटका सजावट, रंगोली, म्यूजिक चेयर, मिट्टी के खिलौने बनाना, रस्साकशी, चम्मच निंबू दौड़, पोषण की सांप सीडी तथा स्थानीय खेल होंगे

Aaj Samaj (आज समाज), “Haryana Uday” Program, नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़:
जिला में कम्युनिटी आउटरीच के तहत चलने वाले “हरियाणा उदय” कार्यक्रम को लेकर अतिरिक्त उपायुक्त वैशाली सिंह ने गत दिवस अपने कार्यालय में जिला के विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान होने वाली विभिन्न गतिविधियों पर रणनीति तैयार की गई।

एडीसी ने बताया कि “हरियाणा उदय” कार्यक्रम के तहत किसी एक गांव में जिला प्रशासन के सभी अधिकारी पहुंचेंगे तथा वे ग्रामीणों के साथ बैठकर जनसंवाद करेंगे। इससे पहले दिन भर आसपास के लगभग 15 गांवों में विभिन्न विभागों द्वारा खेल प्रतियोगिता तथा विभिन्न सेवाएं दी जाएंगी। इसके लिए कैलेंडर तैयार किया जा रहा है।

अतिरिक्त उपायुक्त ने बताया कि इस कार्यक्रम में सभी गांवों में मेहंदी प्रतियोगिता, मटका सजावट, रंगोली, म्यूजिक चेयर, मिट्टी के खिलौने बनाना, रस्साकशी, चम्मच निंबू दौड़, पोषण की सांप सीडी तथा स्थानीय खेल भी होंगे।

इसी प्रकार स्वास्थ्य विभाग की ओर से निरोगी हरियाणा के तहत स्वास्थ्य जांच शिविर लगेंगे। इस दौरान टीकाकरण तथा स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जाएगा। वहीं लड़कियों व महिलाओं को आयरन टेबलेट भी दी जाएंगी।

उन्होंने बताया कि अंत में शाम को हरियाणा उदय के तहत होने वाले जनसंवाद कार्यक्रम में आसपास के सभी ग्रामीण पहुंच सकते हैं। यहां पर विभिन्न विभागों द्वारा स्टाल लगाकर सेवाएं दी जाएंगी। इसके अलावा सूचना, जनसंपर्क, भाषा एवं संस्कृति विभाग की ओर से सांस्कृतिक टीमें भजन व रागनियों के माध्यम से सरकार की नीतियों को जन-जन तक पहुंचाने का कार्य करेंगी।

इस बैठक में एसडीएम मनोज कुमार तथा मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रमेश चंद्र आर्य के अलावा अन्य विभागों के अधिकारी भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें : Haryana Central University : हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय के चार विद्यार्थियों को मिला कैम्पस प्लेसमेंट

यह भी पढ़ें : Karnal News : भारतवासियों को अपनी राजभाषा, राष्‍ट्रभाषा एवं मातृभाषाओं पर गर्व होना चाहिए- डॉ धीर सिंह, निदेशक एनडीआरआई

Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE