संरक्षित खेती पर दी जा रही सब्सिडी को खत्म किया गया तो होगा आंदोलन Statement Of Ratanman

0
360
Statement Of Ratanman
  • 21 को करनाल में किया जाएगा विरोध प्रदर्शन, उपायुक्त को सौंपेगें ज्ञापन

प्रवीण वालिया, करनाल :

Statement Of Ratanman : भारतीय किसान यूनियन (Bhartiya kisan Union) के प्रदेशाध्यक्ष रतनमान ने प्रदेश सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर संरक्षित खेती पर किसानों को दी जा रही 15 प्रतिशत सब्सिड़ी को खत्म करने का प्रयास किया गया तो जोरदार आंदोलन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसान विरोधी फैसले लेकर किसान समुदाय को बर्बाद करने में कोई कसर नही छोड़ रही है।

उपस्थित किसानों ने विरोध स्वरूप नारेबाजी कर रोष जाहिर किया गया। सब्सिड़ी खत्म किए जाने के मसले को लेकर भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष रतनमान की अध्यक्षता में बागवानी से जुड़े किसानों के साथ स्थानीय ब्राह्मण धर्मशाला में विशेष किसान पंचायत का आयोजन किया गया।

15 प्रतिशत की सब्सिडी बंद कर दी गई

किसानों से इस संबंध में विस्तार पूर्वक चर्चा की गई। इस मौके पर भाकियू के प्रदेश संगठन सचिव श्याम सिंह मान, प्रवक्ता सांगवान सुरेंद्र सांगवान भी विशेष तौर पर मौजूद थे। मान ने कहा कि इस मामले को लेकर भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले आने वाली 21 अप्रैल को सी.एम सीटी की सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा।

इसके उपरांत उपायुक्त अनीश यादव को स्थानीय मिनी सचिवालय पहुंच कर मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा।प्रदेशाध्यक्ष रतनमान ने कहा कि प्रदेश सरकार वर्ष 2011 से संरक्षित खेती पर 15 प्रतिशत सब्सिडी दे रही थी। लेकिन पिछले साल की गाइडलाइन के अनुसार नेट हाउस पर 15 प्रतिशत की सब्सिडी बंद कर दी गई है।

यह भी बात सामने आ रही है कि निदेशालय उद्यान विभाग की तरफ से सुझाव दिया गया है कि सभी कांपोनेंट जैसे नेट हाउस, पोली हाउस, वाक इन टनल, (Statement Of Ratanman) हाईटेक पोली हाउस की 15 प्रतिशत सब्सिडी व प्लांटिंग मैटीरियल की सब्सिडी खत्म की जाए।

किसानों के विरोध में फैसले लिए जा रहे

मान ने कहा कि यह सुझाव किसानों को बर्बाद करने वाला है। इससे बागवानी से जुड़े हजारों किसानों पर अतिरिक्त बोझ पड़ेगा। जिससे संरक्षित खेती पिछड़ जाएगी। जिसकों किसान आर्थिक तौर पर सहन करने की स्थिति में नहीं हैं। उन्होंने कहा कि जहां एक ओर सरकार किसानों की आमदनी दोगुनी करने का दम भर रही है। वहीं, दूसरी ओर किसानों के विरोध में फैसले लिए जा रहे हैं। उन्होंने किसानों से अपील की है कि 21 अप्रैल को होने वाले प्रदर्शन में बड़ी संख्या में किसान शामिल होकर अपनरी एकता का परिचय दे।

ये रहे मौजूद

इस मौके पर उनके साथ प्रगतिशील किसान संदीप शर्मा, गिरीश सहगल, रविंद्र कुमार, पंकज शाहपुर, साहिल, अमित, विकास, सचिन, विक्रम कुमार, सुखविंद्र सिंह,(Statement Of Ratanman)  जसबीर सिंह सहित कई किसान मौजूद थे।

Also Read : दमदार कैमरा और परफॉर्मेंस वाले ये टॉप सबसे शानदार स्मार्टफोन , जानिए

SHARE