Homeहरियाणासिरसाकश्मीर में आतंकवादियों से लोहा लेते सिरसा का सपूत निशान सिंह शहीद...

कश्मीर में आतंकवादियों से लोहा लेते सिरसा का सपूत निशान सिंह शहीद Sirsa’s son Nishan Singh martyr

अनंतनाग में सर्च ऑपरेशन के दौरान हुई आतंकवादियों मुठभेड़ Sirsa’s son Nishan Singh martyr

पिता सेवा सिंह बोला, पुत्र की शहादत पर पर्व,हर घर में पैदा हो ऐसा बेटा Sirsa’s son Nishan Singh martyr

सैनिक सम्मान के साथ गांव भावदीन में हुआ अंतिम संस्कार, शहीद निशान सिंह अमर रहे के नारों से गूंज उठा आकाश Sirsa’s son Nishan Singh martyr

हितेश चतुर्वेदी,सिरसा:

Sirsa’s son Nishan Singh martyr: जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में आतंकवादियों की घेराबंदी के लिए सेना द्वारा शुरू किए गए सर्व ऑपरेशन में सिरसा जिले के गांव भावदीन निवासी लांस नायक निशान सिंह शहीद हो गया। शनिवार रात को भारतीय सेना ने छोटे भाई खजान सिंह को फोन करके निशान सिंह की शहादत की सूचना दी। इसके बाद पूरे गांव में शोक फैल गया। सुबह हजारों ग्रामीण शहीद निशान सिंह के घर पहुंचे और परिवार को ढांढस बंधाया।

मुझे गर्व है कि मेरा पुत्र मां भारती की सेवा करते हुए शहीद हो गया :सेवा सिंह Sirsa’s son Nishan Singh martyr

Sirsa's son Nishan Singh martyr

शहीद निशान सिंह के पिता सेवा सिंह ने ग्रामीणों से कहा कि मुझे गर्व है कि मेरा पुत्र मां भारती की सेवा करते हुए शहीद हो गया। रविवार शाम को शहीद निशान सिंह की पार्थिव देह पूरे सम्मान के साथ गांव पहुंची। इसके बाद पूरा भावदीन गांव शहीद निशान सिंह अमर रहे के नारों से गूंज उठा। निशान सिंह ने 12वीं कक्षा की पढ़ाई अपने गांव भावदीन के राजकीय विद्यालय से की। वे वर्ष 2013 में 19 राष्ट्रीय राइफल में बतौर सैनिक भर्ती हुए थे।

2 माह पहले 18 फरवरी को हुई थी शादी Sirsa’s son Nishan Singh martyr

Sirsa's son Nishan Singh martyr

निशान सिंह के पिता सेवा सिंह सेवानिवृत पशु चिकित्सक हैं। चार दिन पहले अनंतनाग में सेना ने सर्व ऑपरेशन चलाया था। इस दौरान सेना की आतंकवादियों से मुठभेड़ हुई। निशान सिंह इस ऑपरेशन का हिस्सा थे। इस दौरान गोली लगने से वे शहीद हो गए। निशान सिंह की शादी 2 माह पहले 18 फरवरी को फतेहाबाद जिला के गावं नागपुर में हुई थी। दो दिन पहले ही निशान का अपने माता-पिता को फोन किया था। निशान सिंह ने मां प्रकाश कौर से कहा था कि अभी जल्दी छुट्टी नहीं मिलेगी। जून के आसपास घर आउंगा।

शाम को पार्थिव शरीर पूरे सम्मान के साथ घर पहुंचा Sirsa’s son Nishan Singh martyr

Sirsa's son Nishan Singh martyr

शाम को पार्थिव शरीर पूरे सम्मान के साथ घर पहुंचा, तो परिजनों ने शास्त्रानुसार जरूरी अंतिम रसम निभाई। इसके पश्चात पार्थिव देह को सम्मान के साथ गांव की शिवपुरी में ले जाया गया और यहां पूरे सैनिक सम्मान के साथ शहीद निशान सिंह की पार्थिव देह का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान पूरा आसमान शहीद निशान सिंह अमर रहे नारों से गूंज उठा। सेना के जवानों ने हवा में कई राउंड फायरिंग कर शहीद निशान सिंह को सलामी दी। इस मौके पर जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम जयवीर यादव, पुलिस प्रशासन की ओर से डीएसपी साधु राम मौजूद रहे। दोनों ने शहीद निशान सिंह के पार्थिव शरीर पर पुष्प चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी।

Also Read: शहीद पिता से बेटी बोली जयहिंद पापा, बेटे ने किया सैल्यूट

Also Read :  टॉप 5 इलेक्ट्रिक स्कूटर, इस साल बने जो इंडियन्स की पंसद

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular