Homeहरियाणासिरसाराष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू सिरसा जिले को देंगी मेडिकल कॉलेज की सौगात

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू सिरसा जिले को देंगी मेडिकल कॉलेज की सौगात

सतीश बंसल, सिरसा:

  • कुरुक्षेत्र से करेंगी शिलान्यास

भारत की राष्ट्रपति श्रीमती द्रौपदी मुर्मू मंगलवार को सिरसा जिले को मेडिकल कॉलेज की सौगात देंगी। वे कुरुक्षेत्र से इस मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास करेंगी। यह मेडिकल कॉलेज करीब 1090 करोड़ रुपये की लागत से तैयार होगा। इससे सिरसा जिले व आसपास के अन्य क्षेत्रों की जनता को अत्याधुनिक स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं मिलेंगी। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल प्रदेश के हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज बनाने के लिए दृढ़ संकल्पित हैं। इसी कड़ी में सिरसा जिले के मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य शुरू हो रहा है। उपायुक्त पार्थ गुप्ता ने बताया कि राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय, सिरसा की स्थापना मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान को अधिक प्रोत्साहन देने और राज्य में लोगों को सर्वोत्तम स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से की जा रही है। 539 बिस्तर के इस मेडिकल कॉलेज को करीब 22 एकड़ में बनाया जाएगा। इस पर करीब 1090 करोड़ की लागत आएगी तथा इसमें 100 एमबीबीएस की सीटें होंगी। सिरसा रेलवे स्टेशन से इसकी दूरी मात्र 2.6 किलोमीटर और सिरसा बस अड्डे से इसकी दूरी 1.9 किलोमीटर होगी।

 नर्सिंग कन्या छात्रावास में कुल 250 छात्राओं को डबल शेयरिंग में आवास उपलब्ध कराने का प्रस्ताव  

उपायुक्त ने बताया कि सिरसा के इस मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस छात्र और इंटर्न हॉस्टल ब्लाक बनाया जाएगा। लड़कों के लिए अलग (300 क्षमता) और लड़कियों के लिए (200 क्षमता) 500 छात्रों और 100 इंटर्न को डबल सीटिंग में आवास प्रदान करने का प्रस्ताव दिया गया है। हॉस्टल ब्लाक में रसोई और भोजन, जिम, योग कक्ष, मनोरंजन कक्ष, वाचनालय आदि जैसी सुविधाएं भी शामिल होंगी। नर्सिंग कन्या छात्रावास में कुल 250 छात्राओं को डबल शेयरिंग में आवास उपलब्ध कराने का प्रस्ताव है। महाविद्यालय के निदेशक एवं चिकित्सा अधीक्षक के लिए परिसर में आवासीय सुविधा प्रस्तावित है। एकीकृत जूनियर और सीनियर रेजिडेंट छात्रावास ब्लाक को 100 छात्रों (50 सीनियर रेजिडेंट और 50 जूनियर रेजिडेंट) को आवास प्रदान करने का प्रस्ताव दिया गया हैं।

उपायुक्त ने बताया कि इस मेडिकल कॉलेज में चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल हरियाणा राज्य और इसके पडोसी राज्यों जैसे पंजाब और राजस्थान को स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करेगा। इसमें एनाटामी, फिजियोलाजी, बायोकेमिस्ट्री, पैथोलाजी, माइक्रोबायोलाजी, फार्माकोलाजी, फोरेंसिक मेडिसिन एवं टॉक्सिकोलॉजी और कम्युनिटी मेडिसन जैसे विभाग शामिल होंगे। इसके साथ-साथ आपातकालीन चिकित्सा, हडडी रोग, बाल रोग, मनोचिकित्सा, सामान्य शल्य चिकित्सा, श्वसन चिकित्सा, नेत्र विज्ञान, ओटोरहिनालरिंजोलाजी, सामान्य चिकित्सा, त्वचा विज्ञान, प्रसूति एवं स्त्री रोग, बर्न यूनिट, आईसीयू, पीआईसीयू, आईसीसी एनआईसीयू, जेल वार्ड, एआरटी वार्ड और निजी वार्ड भी होंगे।

ये भी पढ़े: मिसेज इंडिया फैशनिस्टा-2022 चुने जाने पर डा. कृतिका खुंगर का किया सम्मान

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular