Homeहरियाणाकरनालउपायुक्त अनीश यादव ने अधिकारियों को निर्देश दिए की कहीं भी अवैध...

उपायुक्त अनीश यादव ने अधिकारियों को निर्देश दिए की कहीं भी अवैध खनन न हो

इशिका ठाकुर, करनाल:

जिला टास्क फोर्स की मीटिंग में उपायुक्त अनीश यादव ने अधिकारियों को दिए निर्देश, कहा-कहीं भी न होने पाए अवैध खनन, वाहनो की नियमित हो चैकिंग, दोषी पाए जाने वालों पर करें जुर्माना।

अवैध खनन को लेकर गठित जिला स्तरीय टास्क फोर्स की मीटिंग में उपायुक्त अनीश यादव ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ अवैध खनन की स्थिति पर मंथन किया। बैठक में पुलिस अधीक्षक गंगा राम पुनिया, एडीसी डॉ. वैशाली शर्मा, करनाल और घरौंडा के एसडीएम, सीटीएम, डीडीपीओ, डीएफओ, सहायक सचिव आरटीए, जिला खनन अधिकारी, सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता और प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आर.ओ. मौजूद थे।

अवैध खनन पर रखी जाएगी नजर

मीटिंग में उपायुक्त ने जिला खनन अधिकारी को निर्देश दिए कि जिला में कहीं भी अवैध रूप से खनन न होने पाए, इस पर नजर रखें। उन्होंने मीटिंग में मौजूद उपमण्डलाधीश घरौंडा से कहा कि सरकार की ओर से अवैध खनन पर नजर रखने के लिए मानक संचालन प्रक्रिया यानि एस.ओ.पी. तैयार की गई है, जो सभी उपमण्डलाधीशों को भेजी जा चुकी है। एसओपी में दिए गए निर्देशों के अनुसार ही उपमण्डल स्तर पर गठित कमेटी कार्य करे। एसडीएम, एसओपी को लेकर एक प्लान बनाएं और उसका टारगेट रखें। क्या-क्या कार्रवाई की गई, कोई शिकायतें आई हों तो उनका क्या समाधान किया, यह सारी चीजें रिपोर्ट में शामिल होनी चाहिएं। उपमण्डल टास्क फोर्स की नियमित मीटिंग करते रहे, जिसमें डीएसपी तहसीलदार और माईनिंग विभाग के प्रतिनिधि अधिकारी उपस्थित हों।

उपायुक्त ने आरटीए कार्यालय के सहायक सचिव सतीश कुमार को निर्देश दिए कि माईनिंग साईट से जो गाडिय़ां निकलती हैं, पुलिस को साथ लेकर उनकी नियमित और औचक रूप से चैकिंग करें। जिन गाडिय़ों में ई-रवाना स्लिप, भार के साथ मैच नहीं करती, उनके चालान करें। उन्होंने प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आर.ओ. से पूछा कि क्या माईनिंग साईट से प्रदूषण को लेकर कोई शिकायत आ रही हो तो बताएं। आर.ओ. ने बताया कि एनजीटी के निर्देशों के तहत प्लांटेशन, खनन की गहराई और वाहनो में लदे रेत इत्यादि को ढका गया है या नहीं, इन चीजों की चैकिंग की जाती है। उन्होंने बताया कि खनन साईट पर पिछले दिनो 6 हजार पौधे लगवाए गए थे, अभी ओर पौधे लगाए जाने हैं।
उन्होंने बैठक में मौजूद डीईटीसी से कहा कि वे खनन कार्यों में लगे कॉन्ट्रैक्टर्स की जीएसटी की चैकिंग करें और समय-समय पर औचक निरीक्षण करें। उपायुक्त ने बैठक में मौजूद सभी अधिकारियों से कहा कि वे अपने-अपने विभाग से सम्बंधित कार्य करें और आगामी मीटिंग में उसकी रिपोर्ट लेकर आएं।

नियमो का उल्लंघन करने वाले दोषी व्यक्तियों को सजा

बैठक में मौजूद जिला पुलिस अधीक्षक ने अधिकारियों से कहा कि अवैध खनन में लिप्त पाए जाने या नियमो का उल्लंघन करने वालों के वाहन जब्त करें और एसओपी तथा एनजीटी की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार जुर्माना लगाएं। ऐसे मामलों में एफआईआर दर्ज करवाई जाए, ताकि दोषी व्यक्तियों को सजा दिलवाई जा सके।

ये भी पढ़ें : देश में भाजपा 2047 तक राज करेगी, 2024 के चुनावों के लिए पूरी तरह से तैयार : वेदपाल

ये भी पढ़ें : कृष्णा विद्या मंदिर स्कूल में विद्यार्थियों द्वारा शिक्षक दिवस पर धूमधाम से मनाया

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular