Homeखेलटोक्यो ओलंपिक : फाइनल में पहुंचने से चूके बजरंग पूनिया, कांस्य पदक...

टोक्यो ओलंपिक : फाइनल में पहुंचने से चूके बजरंग पूनिया, कांस्य पदक जीतने की उम्मीद कायम

आज समाज डिजिटल

टोक्यो। टोक्यो ओलंपिक में भारत के लिए आज यानी शुक्रवार का दिन निराशाजनक रहा। महिला हॉकी टीम को ब्रिटेन के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही उसका ओलंपिक में पदक जीतने का सपना अधूरा रह गया। वहीं, बजरंग पूनिया भी 65 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग के सेमीफाइनल में हार गए। हालांकि, उनकी ब्रॉन्ज मेडल की उम्मीद बरकरार है। उधर, महिलाओं की फ्रीस्टाइल 50 किग्रा में सीमा बिस्ला हार गईं। हालांकि, गोल्फ के लिए अच्छी खबर है। महिलाओं की व्यक्तिगत स्पर्धा में भारतीय गोल्फर अदिति अशोक इतिहास रच सकती हैं। वह गोल्फ में भारत के पहले पदक की दावेदार बनी हुई हैं। सेमीफाइनल मुकाले में बजरंग पूनिया को हार का सामना करना पड़ा। उन्हें अजरबैजान के पहलवान अलीयेव हाजी ने 12-5 से हराया। अब वह सात अगस्त को सेनेगल के पहलवान दैता और कजाकस्तान के पहलवान नियाजबेकोव के बीच होने वाले विजेता से बजरंग पूनिया कांस्य पदक मैच के लिए भिड़ेंगे। अगर मैच की बात करें तो, पहले दौर में अजरबैजान के पहलवान अलीयेव हाजी ने दो अंक हासिल कर बजरंग पर बढ़त बनाई। फरि पूनिया ने वापसी करते हुए एक अंक बटोरा। इसी के साथ स्कोर 2-1 का हो गया। फिर हाजी ने दो अंक हासिल कर बजरंगा पर 4-1 की बढ़त हासिल कर ली। दूसरे दौर में बजरंग पर हावी रहे हाजी। लगातार दो-दो अंक हासिल कर बजरंग पर 8-1 की बढ़त बना ली। इसके बाद बजरंग ने वापसी करते हुए दो अंक हासिल किया। इसी के साथ स्कोर 8-3 का हो गया है। फिर हाजी ने एक अंक की बढ़त के साथ स्कोर को 9-3 कर दिया। इसके ठीक बाद पूनिया ने वापसी करते हुए दो अंक हासिल कर स्कोर 9-5 कर दिया। दोनों पहलवानों के बीच दूसरे दौर में जोरदार टक्कर चल रही है। फिर हाजी ने 2 अंक लेकर बजरंग पर 11-5 की बढ़त बना ली। फिर हाजी ने एक अंक बटोरा और स्कोर को 12-5 कर दिया और मैच अपने नामकर लिया।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments