Manipur Today Update: पश्चिमी इंफाल जिले के दो गांवों में कुकी उग्रवादियों ने किया हमला

0
196
Manipur Today Update
पश्चिमी इंफाल जिले के दो गांवों में कुकी उग्रवादियों ने किया हमला

Aaj Samaj (आज समाज), Manipur Today Update, इंफाल: मणिपुर में उग्रवादियों ने फिर हमला कर दिया है। पश्चिमी इंफाल जिले के दो गांवों में कुकी उग्रवादियों ने हथियारों और बमों से ताजा अटैक किया, जिसमें कम से कम 15 लोग घायल हो गए हैं। बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह चार दिन के मणिपुर दौरे के बाद कल ही मणिपुर से लौटे हैं।

  • गृह मंत्री अमित शाह चार दिन के मणिपुर दौरे के बाद कल ही लौटे हैं

पुलिस और मणिपुर राइफल्स ने की जवाबी कार्रवाई

कुकी उग्रवादियों ने कल रात चार घंटे से भी ज्यादा समय तक दोनों तरफ से गोलीबारी की जिसके जवाब में कांगचुप चिंगखोंग और फयेंग दो गांवों में तैनात प्रदेश पुलिस और मणिपुर राइफल्स के जवानों ने कार्रवाई की। पुलिस ने उग्रवादियों को पास की पहाड़ियों में खदेड़ दिया। मुठभेड़ में घायल हुए सभी लोगों को इंफाल के रिजनल इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल साइंसेस और राज मेडिसिटी ले जाया गया। दो लोगों की हालत गंभीर बताई गई है।

काकचिंग के सुगनु सेराओ क्षेत्र से सात शव बरामद

पिछले 24 घंटों में नई हिंसा की घटना पोंबिखोक से सामने आई है। हालांकि इसमें अब तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। इस बीच मणिपुर पुलिस, असम रायफल्स व सीमा सुरक्षा बल की संयुक्त टीमों ने काकचिंग के सुगनु सेराओ क्षेत्र से सात शव बरामद किए हैं। पुलिस ने बताया कि शवों को जेएनआईएमएस के मोर्ग में रखा गया है।

पिछले सप्ताह सुगनु में हिंसा के बीच चली गोलीबारी में मारे गए थे

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि ये सभी पिछले सप्ताह सुगनु में हुए हिंसा के दौरान चली गोलीबारी में मारे गए थे। बता दें कि एक माह पहले तीन मई को शुरू हुई हिंसा में अबतक 98 लोग मारे जा चुके हैं, वहीं 310 घायल भी हुए। 37,450 लोगों को 272 सुरक्षित कैंपों में रखा गया है। राज्य में शांति स्थापित करने के लिए असम रायफल्स के 10,000 सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है।

यह भी पढ़ें : Odisha Train Accident: तीन ट्रेन आपस में टकराई, 238 लोगों की मौत, 900 घायल

यह भी पढ़ें :  Odisha Train Accident Impact: मुंबई-गोवा वंदे भारत एक्सप्रेस का उद्घाटन रद, पीएम मोदी ने दिखानी थी हरी झंडी

यह भी पढ़ें : Ruchira Kamboj: यूएनएससी की मौजूदा संरचना आज की बहु-ध्रुवीय और आपस में जुड़ी दुनिया की हकीकतों से परे

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE