Created Awareness By Giving Information About Cyber Crimes : साइबर राहगीरी कार्यक्रम के तहत पानीपत पुलिस ने सार्वजनिक स्थानों, स्कूल व कॉलेज में विद्यार्थियों व आमजन को साइबर अपराधों की जानकारी देकर जागरूक किया

0
123
Created Awareness By Giving Information About Cyber Crimes
Created Awareness By Giving Information About Cyber Crimes

Aaj Samaj (आज समाज),Created Awareness By Giving Information About Cyber Crimes,पानीपत : पुलिस अधीक्षक अजीत सिंह शेखावत के मार्गदर्शन में जिला पुलिस द्वारा बुधवार को साइबर राहगीरी कार्यक्रम के तहत सार्वजनिक स्थानों पर व स्कूल, कॉलेज में विद्यार्थियों व आमजन को साइबर अपराध व साइबर क्राइम हेल्प लाइन नंबर 1930 के बारें में विस्तार से जानकारी देकर जागरूक किया। इस दौरान साइबर जागरूक्ता की जानकारी से अंकित 400 पंपलेट भी पुलिस की विभिन्न टीमों द्वारा वितरित किये गए।

 

आज के समय में साइबर अपराध चरम पर है

जिला में साइबर क्राइम जागरूक्ता अभियान के नोडल अधिकारी उप पुलिस अधीक्षक सतीश गौतम ने बताया कि आज के समय में साइबर अपराध चरम पर है। तकनीक के इस युग में जितनी तेजी से डिजिटल लेन देन को बढ़ावा मिला है उतनी ही तेजी से ठगी के नए-नए तरिके सामने आ रहे हैं। खुद को ठगों से बचाने के लिए सबसे जरूरी जागरूकता व सतर्कता है। किसी भी अज्ञात नंबर से प्राप्त हुए लिंक को ना खोले और किसी भी फोन कॉल, संदेश, ईमेल इत्यादि पर दिए गए प्रलोभन या विश्वास में आकर अपनी कोई भी निजी जानकारी किसी के साथ सांझा ना करे। साइबर ठगों के निशाने पर हर वह आदमी है, जो किसी भी डिजिटल माध्यम से जुड़ा है। फिर चाहे वह इंटरनेट मीडिया हो या फिर इंटरनेट बैंकिंग।

 

इंटरनेट व सोशल वेबसाइटों का प्रयोग करते समय बरते विशेष सावधानी

उन्होंने बताया कि अक्सर इंटरनेट यूजर को ऐसे ईमेल और मैसेज आते रहते हैं, जिन पर अनजान लिंक मौजूद होते हैं। ऐसे मे हमें इन ईमेल और मैसेज से सावधान रहना चाहिए और हमें इन ईमेल और मैसेज मे मौजूद अनजान लिंक पर कभी भी क्लिक नहीं करना चाहिए। कभी भी किसी भी वेबसाइट को विजिट करते समय सबसे पहले एचटीटीपीएस पर ध्यान देना चाहिए। अगर वेबसाइट के लिंक में एचटीटीपीएस के बजाय एचटीटीपी हैं तो हमें ऐसे वेबसाइट पर नहीं जाना चाहिए और अनजान वेबसाइट पर हमें भूलकर भी लॉगिन नहीं करना चाहिए। जागरूकता ही साइबर अपराध से बचने का बेहतर उपाय है। अपने संगे संबंधि व साथियों को भी जानकारी देकर जागरूक करें। इन तमाम सावधानियों के बावजूद अगर आप साइबर अपराध के शिकार हो जाते हैं। तो तत्काल साइबर क्राइम टोल फ्री क्राइम हेल्प लाइन नंबर 1930 या डायल 112 पर इसकी शिकायत करें या भारत सरकार के साइबर क्राइम पोर्टल के माध्यम से जिसका  URL- https://cybercrime.gov.in है पर शिकायत करें। नजदीकी थाने में साइबर हेल्प डेस्क या साइबर क्राइम थाना पर भी शिकायत कर सकते हैं। वारदात घटीत होते ही तत्काल शिकायत करने पर ठगी की गई धनराशि वापस हो सकती है।

 

जिला पुलिस की साइबर विशेषज्ञ की टीमों द्वारा निम्न स्थानों पर जागरूक किया गया

पानीपत, आठ मरला चौक, पुराना औद्योगिक क्षेत्र फैक्टरियों में, गांव सनौली बस अड्डा, गांव बापौली बस अड्डा, सैक्टर 13-17 मार्केट, देवी मंदिर चौक, बौहली चौक, गवर्नमेंट माडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल लाल बत्ती, आर्य पीजी कॉलेज, एंजल मॉल चौक, रेलवे स्टेशन परिसर, इसराना मांडी चौक, समालखा में फ्लाई ओवर पुल के नीचे, बाबरपुर ट्रैफिक थाना के सामने कार्यक्रम आयोजित कर साइबर क्राइम की जानकारी देकर जागरूक किया।

 

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE