Capacity Building Training Workshop :क्षमता संवर्धन प्रशिक्षण कार्यशाला में वीडब्ल्यूएससी सदस्यों को दिया जल संरक्षण का संदेश

0
156
क्षमता संवर्धन प्रशिक्षण कार्यशाला में वीडब्ल्यूएससी सदस्यों को दिया जल संरक्षण का संदेश
क्षमता संवर्धन प्रशिक्षण कार्यशाला में वीडब्ल्यूएससी सदस्यों को दिया जल संरक्षण का संदेश
  • अच्छे स्वास्थ्य के लिए नहरी आधारित पेयजल का करें प्रयोग: डॉ. राकेश कुमार

Aaj Samaj (आज समाज),Capacity Building Training Workshop,नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़ : जल स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के जल एवं स्वच्छता सहायक संगठन जिला महेंद्रगढ़ की ओर से ग्राम पंचायतों में बनी ग्राम जल एवं सीवरेज समिति सदस्यों के लिए पेयजल व्यवस्था के संचालन एवं रखरखाव के लिए क्षमता संवर्धन प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में महेंद्रगढ़ के जिला प्रमुख डॉ. राकेश कुमार ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत की। कार्यशाला की अध्यक्षता जिला सलाहकार मंगतुराम सरसवा ने की।

कार्यशाला में ग्राम पंचायतों को संबोधित करते हुए डॉ. राकेश कुमार ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत विभाग हर घर नल से स्वच्छ जल देने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि भूमिगत जल के अधिक दोहन की वजह से ट्यूबवैल का पानी रसायनिक रूप से दुषित होता जा रहा है जो हमारे स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है। इसी को ध्यान में रखते हुए विभाग ने सतनाली खंड की सभी ग्राम पंचायतों को पेयजल के लिए नहरी पानी प्रदान करने के लिए राजावास में जल संसोधन संयत्र बनाया गया है।

नहर के पानी को जहां शुद्ध करके गांव-गांव पहुंचाया जा रहा है। इसलिए सभी ग्राम पंचायतें अपने-अपने गांवों के उपभोक्ताओं से अपील करें कि यह अमृत रूपी पानी पीने में प्रयोग करें ताकि गंभीर बीमारियों से बचा जा सके। जिला सलाहकार मंगतुराम सरसवा ने ग्राम जल एवं सीवरेज समिति सदस्यों को उनके कार्यों व उद्देश्यों की जानकारी प्रदान करते हुए कहा कि जल जीवन मिशन के तहत ग्राम जल एवं सीवरेज समिति में महिलाओं की 50 प्रतिशत भागीदारी सुनिश्चित की गई है। इसमें स्वयं सहायता समूह की महिला की भूमिका अहम होने वाली है। पानी के बिलों का संग्रह करना व नए कनेक्शन प्रदान करने का कार्य स्वयं सहायता समूह की महिलाएं करेंगी।

क्षमता संवर्धन प्रशिक्षण कार्यशाला में वीडब्ल्यूएससी सदस्यों को दिया जल संरक्षण का संदेश
क्षमता संवर्धन प्रशिक्षण कार्यशाला में वीडब्ल्यूएससी सदस्यों को दिया जल संरक्षण का संदेश

चरखी दादरी के जिला सलाहकार राजू ने जल संरक्षण पर अपने विचार रखते हुए कहा कि जल बिना जीवन नहीं है इसलिए सभी अपने-अपने क्षेत्र में पानी को बचाएं। अटल भूजल चरखी दादरी से आईईसी एक्सपर्ट खुर्शीद अहमद ने भूमिगत जल को बचाने के लिए खेत का पानी खेत में व घर का पानी घर तक सीमित रखने की सलाह दी ताकि भूमिगत जल को रिचार्ज किया जा सके। उपमंडल अभियंता प्रेम सिंह ने सभी ग्राम पंचायत सरपंचों की समस्याएं सुनकर उनका समय पर समाधान करने का आश्वासन भी दिया। सुपरवाइजर  रामशरण ने वाटर ट्रीटमैंट प्लांट के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की व नहर के पानी को पीने में प्रयोग करने के लिए आमजन से अपील भी की। डीपीसी अंकुर बहवाल ने ग्राम विकास योजना के बारे में जानकारी प्रदान की। बीआरसी अनिता भाटी ने जीवाणु परीक्षण किट के माध्यम से पेयजल की जीवाणु जांच के बारे में बताया। लैब असिस्टेंट विकास ने पेयजल की रसायन जांच करके बताया कि पानी में रसायनों का तय मात्रा से कम या ज्यादा होना हमारे शरीर के लिए खतरनाक है। बीआरसी इंद्रजीत ने जल जीवन मिशन के बारे में विस्तार से बताया। मंच संचालन बीआरसी मोहित कुमार ने किया।

इस मौके पर उपमंडल अभियंता प्रेम सिंह, उपमंडल अभियंता जिया राम, सतनाली के सरपंच प्रतिनिधि सुन्दर गोठवाल, ग्राम सचिव अमित कुमार, जिला सलाहकार राजू, आईईसी एक्सपर्ट खुर्शीद अहमद, बीआरसी इंद्रजीत, अशोक यादव, मोहित कुमार, अनिता, पूजा, डीपीसी अंकुर, रामशरण यादव, सोशियोलॉजिस्ट मनोज कुमार, दिनेश कुमार, यादवेन्द्र, धर्मेन्द्र, बीआरसी दारा सिंह सहित ग्राम जल एवं सीवरेज समिति सदस्य उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें : Illegal Stock Of Firecrackers : महेंद्रगढ़ में करीब 1 लाख 50 हजार की कीमत के पटाखे बरामद

यह भी पढ़ें : Trident Diwali Fair : ट्राइडेंट दिवाली मेले में दर्शकों का मनोरंजन करने पहुंचे विश्वप्रसिद्ध गायक गुरदास मान।

SHARE