Vrindavan Trust Panipat द्वारा रिंग्स की तर्ज पर तोरण द्वार बनाने का निर्णय 

0
193
Vrindavan Trust Panipat
Vrindavan Trust Panipat
Aaj Samaj (आज समाज), Vrindavan Trust Panipat, पानीपत : चुलकाना में आज सरकार द्वारा भूमि चिन्हित करके किवाना गांव की पंचायत वृंदावन ट्रस्ट को सौंप गई। इस अवसर पर वृंदावन ट्रस्ट के अध्यक्ष राकेश बंसल संरक्षक विकास गोयल ने कहा आज का दिन ऐतिहासिक दिन होगा जब चुलकाना आने वाले लाखों भक्त गांधी आदर्श कॉलेज चुलकाना समालखा रोड़  से अपनी यात्रा चुलकाना धाम के लिए शुरू करेंगे। वृंदावन ट्रस्ट द्वारा पिछले डेढ़ वर्षो से यह प्रयास किया जा रहा था। चुलकाना धाम के पूर्व सरपंच मदन लाल शर्मा और किवाना सरपंच चैनपाल ने बताया कि खाटू श्याम जी की तरह चुलकाना धाम में भी यह परंपरा एक निश्चित स्थान से शुरू हो इसके लिए इस गेट की जमीन को पूरी करने के लिए विभिन्न पड़ाव से होकर गुजरना पड़ा।

चुलकाना धाम अब अंतर्राष्ट्रीय मानचित्र पर होगा

पी डब्ल्यू डी विभाग के प्रतिनिधि महावीर शर्मा द्वारा जमीन पर सैटेलाइट मशीन के माध्यम से भूमि आवंटित की गई।
इस अवसर पर किवाना गांव के सरपंच चैनपाल छोककर व जिला परिषद सुंदर छोककर चुलकाना ने कहा चुलकाना धाम अब अंतर्राष्ट्रीय मानचित्र पर होगा, हर व्यक्ति यात्रा गांधी आदर्श कॉलेज से शुरू किया करेगा और चुलकाना धाम तक पैदल जाया करेगा, यह यात्रा लगभग ढाई से तीन किलोमीटर तक की रहेगी, यात्रा का प्रारंभ स्थल बड़ा रमणीक बनाया जाएगा।

श्री चुनकट ऋषि और श्री श्याम जी के नाम से जाना जाएगा चुलकाना धाम का यह तोरण द्वार

उल्लेखनीय है कि श्री चुनकट ऋषि जी महाराज की तपोभूमि के नाम से जाना जाने वाला यह चुलकाना धाम आज श्री श्याम बाबा के नाम से भी विख्यात हैं। श्री चुनकट ऋषि और श्री श्याम जी के नाम से जाना जाएगा चुलकाना धाम का यह तोरण द्वार। वृंदावन ट्रस्ट पानीपत ट्रस्टी पुनीत गर्ग मुकेश गोयल नवीन गर्ग दिनेश गर्ग साथियों ने बताया कि हम एक हरित पट्टी का निर्माण ऐसे क्षेत्र में करेंगे, ताकि चुलकाना क्षेत्र में प्रवेश करते ही व्यक्ति की अनुभूति प्राकृतिक हो, श्याम सेवा समिति के प्रधान रोशन छोककर मनोज सिंगला व चुलकाना के सरपंच सतीश छोककर ने कहा हमारा क्षेत्र में पूरे देश भर से लोग आ रहे हैं।

यह कदम एक मील का पत्थर साबित होगा

पूरे ग्रामवासी देशभक्ति पर्यटकों का हर संभव सहयोग एवं स्वागत करते रहे हैं, लेकिन समय के अनुसार चुलकाना धाम की महिमा बढ़ रही है तो यह कदम एक मील का पत्थर साबित होगा। वृंदावन ट्रस्ट पानीपत में ध्वज यात्रा का प्रारंभ करके लाखों भक्तों को चुलकाना धाम से जुड़ा इसी श्रृंखला  में आगे यह कार्य किया जा रहा है। संस्था द्वारा तोरण द्वार का डिजाइन वास्तु आदि के लिए भारत और विश्व के प्रसिद्ध वास्तुकारों आर्किटेक्ट्स का सहयोग लिया जाएगा। इस अवसर पर मुकेश गोयल, जोगिंदर कुंडू, नवीन गर्ग, दिनेश गर्ग, पुनीत गर्ग, यीशु गोयल, अन्नू कुमार, विशाल गुप्ता, बलदेव गांधी, रवि रब्बू, गौरव छोककर, सेवादार आदि मौजूद रहे।
SHARE