Home टॉप न्यूज़ Rahul discusses with Nobel laureate Muhammad Yunus, it is necessary to build a village economy: राहुल ने नोबेल पुरस्कार विजेता मुहम्मद यूनुस से की चर्चा, गांवों की अर्थव्यवस्था को खड़ा करना आवश्यक

Rahul discusses with Nobel laureate Muhammad Yunus, it is necessary to build a village economy: राहुल ने नोबेल पुरस्कार विजेता मुहम्मद यूनुस से की चर्चा, गांवों की अर्थव्यवस्था को खड़ा करना आवश्यक

24 second read
0
0
8

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी देश के अर्थव्यवस्था को लेकर कई एक्सपर्ट से चर्चा करते रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने ग्रामीण बैंक के संस्थापक और नोबेल पुरस्कार विजेता मुहम्मद यूनुस के साथ चर्चा की । ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर असर और इस संकट से उबरने के बाद उठाए जाने वाले जरूरी कदमों के संबंध में राहुल ने ग्रामीण बैंक के संस्थापक और नोबेल पुरस्कार विजेता मुहम्मद यूनुस से बातचीत की। इस बातचीत का वीडियो शुक्रवार को रिलीज की गई। राहुल गांधी नेवीडियो सीरीज के कई अंक अब तक जारी किए हैं वीडिया के इस अंक में राहुल गांधी ने कोरोना संकट के कारण गरीबों पर आई मुसीबत की बात की। नोबेल पुरस्कार विजेता मुहम्मद युनूस ने कहा कि इस कठिन समय मेंगांव की अर्थव्यवस्था को खड़ा करना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि नौकरी की व्यवस्था लोगों के लिए गांव मे ंही होनी चाहिए।
राहुल गांधी ने सवाल किया कि कोविड-19 और आर्थिक संकट गरीबों, उनकी ऋण उपलब्धता और गरीब महिलाओं को कैसे प्रभावित कता हैं, आपका इस पर क्या विचार है और हमें इस पर कैसे सोचना चाहिए? उनके सवाल के जवाब में न ोबेल पुरस्कार विजेता ने कहा कि यह वही पुरानी कहानी है, मैं कोई नई बात नहीं कह रहा हूं। वित्तीय प्रणाली को बहुत ही गलत तरीके से तैयार किया गया है। मैं पहले से बात कर रहा हूं कि कोरोना संकट ने समाज की कुरीतियों को उजागर कर दिया है, जिसे आप भी देख सकते हैं। गरीब, प्रवासी मजदूर हम सभी के बीच ही हैं, सभी शहर से बाहर आ गए हैं। हजारों मील चलकर वे गांवपहुंचे हैं। मगर कोरोना संकट ने इन्हें सभी को सामने ला दिया है। इन्हें इन्फॉर्मल सेक्टर का हिस्सा माना जाता है, जो अर्थव्यवस्था का हिस्सा नहीं हैं। अगर हम उनकी मदद करें तो पूरी अर्थव्यवस्था को आगे ले जा सकते हैं,।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In टॉप न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

Reports of Chinese incursions removed from website of Defense Ministry, Rahul said, whenever the country became emotional, files disappeared: रक्षा मंत्रालय की बेवसाइट से चीनी घुसपैठ की रिपोर्ट हटी, राहुल नेकहा, जब-जब देश हुआ भावुक, गायब हुईं फाइलें

भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख मेंएलएसी पर गतिरोध जारी है। चीनी सैनिकों ने 15 जून को भार…