आज समाज डिजिटल,काबुल/नई दिल्ली:
तालिबान ने शनिवार को काबुल एयरपोर्ट से सुबह 150 लोगों का अपहरण कर लिया। जानकारी के अनुसार एयरपोर्ट के पास से अगवा किए गए  इन लोगों में ज्यादा भारतीय थे। हालांकि कुछ घंटों की जांच के  बाद तालिबानियों ने सभी को अपने कब्जे से छोड़ दिया। अफगान मीडिया के अनुसार तालिबान की ओर से इन लोगों के पासपोर्ट व अन्य दस्तावेजों की जांच की गई और इसके बाद इन्हें छोड़ दिया गया। फिर सभी लोग एयरपोर्ट आ गए। काबुल नाउ के साथ कार्यरत जाकी दरयाबी ने ट्वीट कर यह जानकारी दी। इस मीडिया हाउस ने बताया कि तालिबानियों ने भारतीय नागरिकों को छोड़ दिया है और सभी सुरक्षित हैं। इससे पहले तालिबान के प्रवक्ता अहमदुल्ला वसीक ने अपहरण की रिपोर्ट को खारिज कर किया था। रिपोर्ट्स के अनुसार अपहरण के बाद तालिबानी लोगों को एयरपोर्ट के करीब स्थित एक गैराज में ले गए और वहां पर पूछताछ की। उनसे कहा गया था कि सभी लोगों को काबुल एयरपोर्ट पर दूसरे रास्ते से ले जाया जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। तालिबानी उन्हें पूछताछ के लिए ले गए। काबुल नाउ से बातचीत में एक सूत्र ने बताया कि वह पत्नी और कुछ अन्य लोगों के साथ किसी तरह बच सका। सभी आठ लोग मिनी वैन में बैठे थे और इस बीच उन्होंने वैन का शीशा खोला और कूद गए। गौरतलब है कि काबुल एयरपोर्ट पर हजारों अफगानी नागरिक जमा हैं। उन्हें उम्मीद है कि यूएस या यूके जा रही किसी फ्लाइट में उन्हें जगह मिल जाएगी और वो अफगानिस्तान से निकल पाने में कामयाब हो जाएंगे। नाटो ने शुक्रवार को बताया कि दूतावासों और इंटरनेशनल एड ग्रुप के लिए काम करने वाले करीब 12,000 विदेशी व अफगान नागरिकों की निकासी जारी है।
लोग को सुरक्षित एयरपोर्ट पहुंचाया गया : तालिबान 
तालिबान ने लोगों के अपहरण करने की घटना से इनकार किया था। तालिबान के प्रवक्ता अहमदुल्ला वसीक ने कहा यह खबर पूरी तरह से बेबुनियाद और निराधार है। अहमदुल्ला वसीक ने बताया कि तालिबान ने सुरक्षित तरीके से दूसरे गेट से लोगों को एयरपोर्ट के अंदर पहुंचाया है।
भारत सरकार की कड़ी नजर 
काबुल में हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से अगवा कि गए 150 लोगों की घटना पर भारतीय अधिकारियों की तरफ से आधिकारिक तौर से कुछ भी नहीं कहा गया है। हालांकि, सरकार अफगानिस्तान से निकल रहे सभी भारतीयों पर नजर बना कर रख रही है। सुरक्षा के मद्देनजर सरकार, अफगानिस्तान से निकलने वाले सभी भारतीयों का ब्योरा भी रख रही है।
अफगानिस्तान से लौटे 85 भारतीय
नई दिल्ली। भारतीय वायुसेना के सी-130जे विमान से शनिवार को काबुल से 85 भारतीय दिल्ली के लिए रवाना हुए। यह विमान ताजिकिस्तान में ईंधन भरने के लिए उतरा, क्योंकि भारत सरकार के अधिकारी काबुल से भारत के नागरिकों को निकालने में मदद कर रहे हैं। अफगानिस्तान संकट के बीच काबुल में करीब एक हजार भारतीय फंसे हैं। उन्हें सुरक्षित निकालने की चुनौती सरकार के सामने है। भारत सरकार अपने नागरिकों को सुरक्षित निकालने के लिए विभिन्न भागीदार पक्षों के संपर्क में है। अभी तक भारतीय दूतावास से जुड़े लोगों को निकाला जा चुका है, लेकिन काफी संख्या में भारतीय नागरिक अफगानिस्तान में फंसे हुए हैं।