पटियाला पटियाला से सांसद मैंबर  प्रनीत कौर और पंजाब के कैबिनेट मंत्री स. साधु सिंह धरमसोत ने आज भादसों के पास के गाँव खेड़ि जाटों में पहुंच कर सिंघू बार्डर पर किसान संघर्ष में अपनी जान गवाउण वाले नौजवान नवजोत सिंह के माता -पिता ते ओर पारिवारिक सदस्यों के साथ दुख वंडायहैं। इस मौके उन्हों ने पीडित परिवार को पंजाब सरकार की तरफ से दी जाती सहायता राशि 5लाख रुपए देने और नौजवान के नाम पर गाँव नूं लौट मंडी के साथ जोड़ती 2किलोमीटर सड़क बनाने का भी भरोसा दिया।
18 साला नौजवान नवजोत सिंह, जिस का कि गुज़री 26 फरवरी को सिंघू बार्डर पर अचानक देहांत हो गया था, अपने माँ बाप जसविन्दर सिंह और बलजीत कौर की अकेली संतान थी, निमित्त आज अंतिम अरदास और श्रद्धाँजलि समारोह से पहले परिवार के साथ दुख सांझा करते संसद मैंबर श्रीमती प्रनीत कौर ने कहा कि मोदी सरकार का अड़ियल व्यवहार किसानों की मौत का कारण बन रहा है।
 प्रनीत कौर ने कहा कि जवान पुत्र की मौत माँ बाप के लिए पहाड़ टूटने की तरह है परंतु वह परमात्मा के चरणों में इस असेह दुख को सहन का बल क्षमा करने के लिए अरदास करते हैं। उन विश्वास दुआया कि परिवार की इस दुख की घड़ी में वह ख़ुद और मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह का नेतृत्व नीचे पंजाब सरकार जहाँ इस परिवार के साथ खड़ी है वहां ही सरकार संघर्ष कर रहे किसानों के भी के साथ खड़ी है।
इस दौरान पत्रकारों के साथ ग़ैर रस्मिया बातचीत करते  प्रनीत कौर ने कहा कि किसानों की शहादतों अजांयी नहीं जाएंगी और केंद्र सरकार को यह किसान बरसाती कानून हर हाल वापस लेने ही पड़ेंगे। एक सवाल के जवाब में  कहा कि केंद्र सरकार ने पहले जी.ऐस.टी. और नोटबन्दी के साथ देश निवासियों का कचूमड़ निकाला और फिर कोरोना महामारी की दीवार नीचे संसद सदस्यों को विकास के लिए दिया जादा ऐम.पी लैड्ड फंड भी बंद करके विकास की गति रोक दी।  उन्हों ने इस बारे संसद में सवाल भी किया था परंतु अभी तक इसका जवाब नहीं दिया गया।
संसद मैंबर ने एक ओर सवाल के जवाब में कहा कि केंद्र सरकार ने किसानों की आमदन दोगुनी तो क्या करनी थी बल्कि देश के लोगों को महँगाई की मार के साथ मारनें शुरू कर दिया है और लोगों को सस्ता आनाज़ मुहैया करवाने के लिए सहायक ऐफ़.सी.आई. को ही तोड़ा जा रहा है। श्रीमती प्रनीत कौर ने कहा कि मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह का नेतृत्व निचली पंजाब सरकार ने केंद्र सरकार की तरफ से जी.ऐस.टी. का भुगतान भी रोकनो के बावजूद पंजाब के लोगों के साथ किये सभी वायदे पूरे किये हैं।
पत्रकारों के साथ बातचीत करते पंजाब के कैबिनेट मंत्री स. साधु सिंह धरमसोत ने बताया कि मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की सरकार ने पूरे हिन्दसतान में निवेकली पहलकदमी करते किसानी संघर्ष में शहीद हुए किसानों के परिवारों को 5-5लाख रुपए की वित्तीय सहायता और एक पारिवारिक जीव को नौकरी देने का ऐलान किया है। उन कहा कि सूबो के लोगों ने नगर कौंसिल और नगर निगम मतदान में कांग्रेस पार्टी को 65 प्रतिशत मत्तदान दे कर पंजाब में विरोधी पार्टियाँ को सीशा दिखा दिया है। उन कहा कि यही विरोधी पार्टियाँ, जिन के पास सूबो के लोगों के हितों के लिए कोई मुद्दा नहीं, आज विधान सभा में बहस से भाग रही हैं।
इस मौके मुख्य मंत्री के ओ.ऐस.डी. अमृत प्रताप सिंह, नवजोत सिंह की दादी अमरजीत कौर, कांग्रेस के सचिव महंत हरविन्दर सिंह खनौड़ा, चेयरमैन परमजीत सिंह कल्लरमाजरी, ज़िला परिषद मैंबर तेजपाल सिंह गोगी टिवाना, पी.ए. काबल सिंह, डी.ऐस.पी. रजेश छिब्बड़, नायब तहसीलदार करमजीत सिंह चारपाई, गाँव के सरपंच बलकार सिंह, ऐस.ऐच.यो अंमृतवीर सिंह, अमरीक सिंह भंगू, सरपंच नेत्र सिंह घुंडर, सुखबीर सिंह पंधेर, धर्म सिंह संधनौली, तेजिन्दर सिंह और ओर आदरणिय मौजूद थे।