HomeहरियाणायमुनानगरBudget Is Anti Women-Laborers-And Farmers महिला, मजदूर और किसान विरोधी है बजट:...

Budget Is Anti Women-Laborers-And Farmers महिला, मजदूर और किसान विरोधी है बजट: प्रो. राय

Budget Is Anti Women-Laborers-And Farmers

प्रभजीत सिंह लक्की, यमुनानगर:
Budget Is Anti Women-Laborers-And Farmers : हरियाणा सरकार की ओर से मंगलवार को पेश बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कांग्रेस कमेटी के हरियाणा प्रदेश प्रवक्ता प्रो. राय सिंह गुर्जर ने कहा कि खट्टर सरकार का बजट अपनी डफली अपना राग के समान है। सरकार ने वही घिसा पिटा बजट प्रस्तुत किया है।

देश के संस्थानों को बेच चल रही सरकार

आगामी 25 वर्ष के विजन की बात करने वाले लोगों ने 70 साल से हर क्षेत्र में बढ़ते भारत मे देश  के महत्वपूर्ण संस्थानों को बेच कर सरकार चला रहे हैं। इस बजट में महिलाओं, किसानों, मजदूरों और आम नागरिकों की बेहतरी के लिए कोई प्रावधान सुनिश्चित नहीं किया गया है।

राय सिंह गुर्जर ने कहा कि बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान का दंभ भरने वाली खट्टर सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए कोई कदम नहीं उठा रही है। किसानों को एमएसपी प्रदान करने और उर्वरक के लिए केंद्र सरकार द्वारा दिए जाने वाले अनुदान में जो कटौती की गई है। उसकी भरपाई के लिए खट्टर सरकार ने आश्वासन दिया था जबकि ऐसा कुछ भी नहीं किया गया।

कोरोना पीड़ितों को नहीं मिली राशि

हरियाणा में कोरोना से जिन लोगों की मौत हुई उनके परिजनों को सूचीबद्ध तरीके से सहयोग राशि अब तक नहीं प्रदान की गई। इस बजट में भी सरकार ने इसका कोई प्रावधान नहीं किया है। खट्टर सरकार केवल पुरानी योजनाओं का नया नाम देकर हर बार दिशाहीन बजट प्रस्तुत कर रही है।

प्रो. राय सिंह ने कहा कि कुरुक्षेत्र से यमुनानगर, गुड़गांव से रेवाड़ी, झज्जर से कोसली आदि करीब आधा दर्जन ऐसी प्रमुख सड़कें हैं जिन पर भारी वाहन चलते हैं और इनके कारण वह दुर्दशाग्रस्त हैं लेकिन इन सड़कों के पुनर्निर्माण के लिए कोई बजट नहीं निर्धारित किया जा रहा है। बजट में जनता को लुभाने के लिए सिर्फ घोषणाएं की गई हैं।

बजट को भी बताया जुमलेबाजी

यह बजट भी सिवाय जुमलेबाजी के कुछ नहीं है क्योंकि पिछले साल के बजट में किए हुए वादे सरकार अभी तक पूरे नहीं कर पाई है। उन्होंने कहा कि मेडिकल की पढ़ाई के लिए छात्र विदेशों में जाने के लिए विवश हो रहे हैं जबकि सरकार हरियाणा में मेडिकल कालेज के निर्माण को लेकर तनिक भी गंभीर नहीं है।

सरकार ने पिछले बजट में ही पंचकूला में मेडिकल कॉलेज के निर्माण की घोषणा की थी। लेकिन उसे पूरा नहीं किया गया। इस बार इसका जिक्र भी नहीं किया गया है। जो सरकार अपने 8 साल के कार्यकाल में शिक्षा और चिकित्सा क्षेत्र में कोई सुधार नहीं कर पाई।

Budget Is Anti Women-Laborers-And Farmers

Also Read : Woman Is Now Empowered अब सशक्त हो चुकी है नारी : हिमांशु सिंह

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular