Homeहरियाणापानीपत16 सितंबर को डीटीपी कार्यालय के बाहर धरने के लिए जोगिंदर स्वामी...

16 सितंबर को डीटीपी कार्यालय के बाहर धरने के लिए जोगिंदर स्वामी ने साथियों सहित अंसल शिवम रेजिडेंट्स सोसाइटी प्रधान रमेश मलिक से मांगा समर्थन

आज समाज डिजिटल, पानीपत : 

अंसल सुशांत सिटी में सरकार को करोड़ों का नुकसान पहुंचा कर यूडी लैंड, टैक्सी स्टैंड और अन्य सार्वजनिक स्थानों को अधिकारियों के साथ मिलीभगत करके बेचे जाने के विरोध में 16 सितंबर को डीटीपी कार्यालय के बाहर दिए जाने वाले धरने को लेकर जोगेंद्र स्वामी ने अपने साथियों सहित अंसल एपीआई शिवम रेजिडेंस सोसाइटी के प्रधान रमेश मलिक और उनकी पूरी टीम से समर्थन की मांग की।

जोगिंदर स्वामी ने साथियों सहित अंसल शिवम रेजिडेंट्स सोसाइटी प्रधान रमेश मलिक से मांगा समर्थन

उन्होंने बताया कि उनके द्वारा लगभग 3 साल से डीटीपी पानीपत, डीटीपी हेडक्वार्टर चंडीगढ़ और स्टेट ऑफिसर हुड्डा पानीपत से अंसल में हो रहे करोड़ों के घोटाले के बारे में जानकारी मांगी जा रही है लेकिन उपरोक्त अधिकारी मिलीभगत के तहत उन्हें जानकारी देने के बजाय अंसल मालिकों को फायदा पहुंचाने की मंशा से उनके हर गलत कार्य में खुले रूप से मिले हुए हैं। उन्होंने कहा कि अंसल मैनेजर और मालिकों द्वारा मिलीभगत करके जिस भूमि को बेचा नहीं जा सकता उसको चोर दरवाजे से बेचकर सरकार को करोड़ों रुपए का नुकसान पहुंचाया है और सबसे बड़ी हैरानी की बात तो यह है कि जिस यूडी भूमि को अवैध तरीके से बेचा गया उन कई यूडी लैंड पर अवैध भवन भी बना दिए गए जबकि इन अवैध भवनों पर कार्रवाई करने का कार्य डीटीपी का ही होता है इससे स्पष्ट होता है कि डीटीपी विभाग द्वारा मिलीभगत के तहत अवैध तरीके से इन जगहों को बिकवा कर इन पर अवैध भवन बनवाए गए उन्होंने शिवम रेजिडेंट्स सोसाइटी के प्रधान और उनकी संपूर्ण कार्यकारिणी से समर्थन देने की मांग करते हुए कहा कि उनकी यह लड़ाई भ्रष्टाचार के खिलाफ है और इस बारे में हम सरकार से मांग करते हैं कि इसमें शामिल भ्रष्ट अधिकारियों, अंसल मालिकों और मैनेजरों पर अपराधिक मामले दर्ज करके फर्जी तरीके से कराई गई इन रजिस्ट्रीयों को रद्द किया जाए और अवैध भवनों को तत्काल प्रभाव से ध्वस्त करने के आदेश दिए जाएं। ।

नियमों की भी खुलेआम धज्जियां उड़ाई

उन्होंने शहरवासियों से अपील करते हुए कहा कि अंसल में कई नई कंपनियां आ चुकी है जो गलत तरीके से लोगों को लुभा कर उन्हें अपने मकड़जाल में फंसा रही हैं उनसे सावधान रहने की जरूरत है उन्होंने कहा कि ऐसे कई टावर हैं जिनके काफी फ्लैट उपभोक्ताओं द्वारा खरीदे गए है और उनको बिना पैसे दिए विभाग के साथ मिलीभगत करके किसी अन्य बिल्डर को बेच दिया गया जोकि खुलेआम उपभोक्ताओं के साथ धोखाधड़ी है। इसमें सरकार द्वारा निर्धारित नियमों की भी खुलेआम धज्जियां उड़ाई गई है।

इस मौके पर रमेश मलिक प्रधान शिवम रेजिडेंट्स सोसाइटी ने कहा कि वह पूरी तरीके से भ्रष्टाचार के खिलाफ हैं भ्रष्टाचार चाहे किसी भी प्रारूप में हो वह हमेशा इसका विरोध करते रहे है उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और हरियाणा की मनोहर सरकार भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस नीति के तहत जोर शोर से लड़ाई लड़ रहे है उन्होंने कहा कि हमें अंसल में हो रहे पूरे घटनाक्रम कि जानकारी है की यहां पर क्या-क्या घोटाले हो रहे हैं उन्होंने कहा कि वह आज- कल में अपनी कमेटी के सामने आपके मांगे के समर्थन के प्रस्ताव को रखेंगे और उसके बाद हम इस बारे सकारात्मक रूप से आपको अवगत करवा देंगे

इस अवसर पर रणजीत भोला सरदार कंवलजीत सिंह, राज शर्मा उप प्रधान शिवम रेसिडेंट सोसाइटी, जेपी सरोहा ,आशु भाटिया , वीरेंद्र शर्मा ,मनोज शर्मा ,संजय गुप्ता आदि उपस्थित थे

ये भी पढ़ें : मानव सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है : समाजसेवी नीरु विज

ये भी पढ़ें : सरकारी प्रोजेक्ट्स में पारदर्शिता और जवाबदेही के लिए मनोहर सरकार का बड़ा कदम

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular